मुख्य समाचार:

कोरोना वायरस की चपेट में होटल इंडस्ट्री, बड़े शहरों में 13-29% गिरा रेवेन्यू: रिपोर्ट

देश की होटल इंडस्ट्री पर कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन की मार पड़ी है.

May 13, 2020 11:49 AM
property consultant JLL India, COVID-19 hits hotel industry, revenue per room drops upto 29%c in Jan to Mar in top cities, hotel occupancy rate dropsदेश की होटल इंडस्ट्री पर कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन की मार पड़ी है.

देश की होटल इंडस्ट्री पर कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन की मार पड़ी है. एक सर्वे के मुताबिक अलग अलग शहरों में जनवरी से मार्च के दौरान रेवेन्यू में भारी गिरावट आई है. प्रॉपर्टी कंसल्टेंट JLL इंडिया के मुताबिक जनवरी से मार्च के दौरान बड़े शहरों में रेवेन्यू पर अवेलेबल रूम (RevPAR) में 29 फीसदी तक गिरावट आई है. इस दौरान आक्युपेंसी लेवल में भी गिरावट आई है.

JLL इंडिया के मुताबिक दिल्ली, मुंबई, पुणे, चेन्नई, कोलकाता, जयपुर, अहमदाबाद, बेंगलुरू, गोवा, हैदराबाद, जयपुर और गुरूग्राम जैसे 11 शहरों में जनवरी से मार्च के बीच आक्युपेंसी रेट में जहां 5 से 17 फीसदी गिरावट आई. वहीं रेवेन्यू में 13 से 29 फीसदी तक गिरावट आई है. कोविड 19 की वजह से साल 2020 की पहली तिमाही में डोमेस्टिक होटल और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर पर बुरा असर हुआ है.

आक्युपेंसी लेवल दिल्ली में सबसे कम

जनवरी से मार्च के दौरान आक्युपेंसी लेवल सालाना आधार पर सबसे ज्यादा 16.9 फीसदी दिल्ली में कम हुआ है. उसके बाद जयपुर में 16.4 फीसदी घटा है. जबकि मुंबई, बेंगलुरू और गुरूग्राम में आक्युपेंसी लेवल में 15.2 फीसदी गिरावट आई है. कोलकाता में यह 13.5 फीसदी, हैदराबाद में 12.1 फीसदी, पुणे में 11.8 फीसदी, गोवा में 10 फीसदी, चेन्नई में 9.7 फीसदी और अहमदाबाद में 5.1 फीसदी कम हुआ है.

बेंगलुरू में सबसे ज्यादा घटा रेवेन्यू

वहीं रेवेन्यू पर अवेलेवल रूम सालाना आधार पर मार्च तिमाही में सबसे ज्यादा 28.5 फीसदी बेंगलुरू में कम हुआ है. दिल्ली में 20.3 फीसदी, मुंबई में 20 फीसदी, कोलकाता में 19.8 फीसदी, जयपुर में 19.6 फीसदी, गुरूग्राम में 19.5 फीसदी, गोवा में 15.3 फीसदी, चेन्नई में 14.8 फीसदी, हैदराबाद में 13.6 फीसदी, पुणे में 13.4 फीसदी और अहमदाबाद में 13.2 फीसदी कम हुआ है.

2 महीनों में बिगड़ी तस्वरी

जेएलएल इंडिया के प्रबंध निदेशक (होटल और हॉस्पिटैलिटी ग्रुप) जयदीप डांग ने कहा कि यात्रा की गिरावट की शुरुआत फरवरी के अंत में हुई. वहीं मार्च तक होटल इंडस्ट्री के सबसे ज्यादा चुनौती भरे दिन शुरू हो गए. उन्होंने कहा कि 2019 में इंडस्ट्री का प्रदर्शन अच्छा था. वहीं जनवरी 2020 में होटल उद्योग के उच्च प्रदर्शन में सकारात्मक शुरुआत हुई थी, लेकिन पिछले दो महीनों में स्थिति पूरी तरह बदल गई है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना वायरस की चपेट में होटल इंडस्ट्री, बड़े शहरों में 13-29% गिरा रेवेन्यू: रिपोर्ट

Go to Top