मुख्य समाचार:

Jet Airways 11 साल के निचले स्तर पर; 5 दिन में 50% टूटा शेयर, 1475 करोड़ घटी निवेशकों की दौलत

Jet Airways: जेट एयरवेज के शेयरों में बड़ी गिरावट जारी

Published: April 22, 2019 10:58 AM
Jet Airways. Jet Airways Stocks Tank, Cash Crisis In Jet Airways, जेट एयरवेज, Jet Airways Market Cap, Investors WealthJet Airways: जेट एयरवेज के शेयरों में बड़ी गिरावट जारी (Reuters)

Jet Airways Stock: एविएशन कंपनी जेट एयरवेज के शेयरों में गिरावट का सिलसिला जारी है. सोमवार के कारोबार में जेट एयरवेज के शेयरों में करीब 19 फीसदी तक गिरावट आई और शेयर 132.20 रुपये के भाव तक नीचे आ गया. यह शेयर के लिए 11 साल का सबसे निचला स्तर है. बता दें कि कैश न होने के चलते जेट एयरवेज ने विमान सेवाएं अस्थाई तौर पर बंद कर दी है. इससे कंपनी के भविष्य को लेकर अनिश्चितता बढ़ गई है. ऐसे में पहले से नुकसान झेल रहे निवेशक शेयर बेचने को मजबूत हो रहे हैं.

5 दिन में 50% टूटा शेयर

पिछले 5 ट्रेडिंग डे की बात करें तो शेयर में करीब 50 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. 12 अप्रैल को शेयर 262 रुपये के भाव पर था. इन 5 दिनों में कंपनी के मार्केट कैपिटलाइजेशन में करीब 1475 करोड़ की कमी आ चुकी है. वहीं इस साल यानी 1 जनवरी से शेयर में 52 फीसदी गिरावट आई है.

1 साल में 79% आई गिरावट

करीब 8500 करोड़ रुपये के कर्ज से दबी जेट एयरवेज में कैश क्राइसिस लंबे समय से बनी हुई है. ऐसे में इसका असर शेयर के भाव पर भी लंबे समय से दिख रहा है. पिछले एक साल की बात करें तो शेयर में करीब 79 फीसदी गिरावट आ चुकी है. 23 अप्रैल 2018 को शेयर का भाव 618 रुपये था, जो 22 अप्रैल 2019 को गिरकर 132.20 रुपये के भाव तक आ गया.

Jet Airways की विमान सेवाएं बंद

लंबे समय से कैश क्राइसिस से गुजर रही निजी क्षेत्र की विमान कंपनी जेट एयरवेज ने बीते बुधवार को आखिरकार अपनी विमान सेवाएं अस्थाई तौर पर बंद कर दी है. बैंकों के समूह द्वारा 400 करोड़ रुपये की तुरंत सहायता उपलब्ध कराने से इनकार कर दिए जाने के बाद एयरलाइन ने यह घोषणा की. इसके पहले भी बोर्ड बैठक में जेट एयरवेज के मैनेजमेंट ने कहा था कि अगर तुरंत कंपनी को फंड नहीं मिला तो अस्थाई तौर पर काम काज बंद करना पड़ेगा. फिलहाल जेट एयरवेज में करीब 20 हजार लोगों की नौकरियों पर भी खतरा बन गया है.

कर्मचारियों का भविष्य अधर में

जेट एयरवेज के परिचालन बंद करने के फैसले से जहां यात्रियों, एयरलाइन के आपूर्तिकर्ताओं का करोड़ों रुपया फंस गया है, वहीं उसके 20 हजार से अधिक कर्मचारियों का भविष्य अधर में लटक गया है. एयरलाइन पर बैंकों का 8,500 करोड़ रुपये से अधिक का बकाया है जिसके चलते वह कर्ज संकट में फंसती चली गई.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Jet Airways 11 साल के निचले स्तर पर; 5 दिन में 50% टूटा शेयर, 1475 करोड़ घटी निवेशकों की दौलत

Go to Top