मुख्य समाचार:
  1. जेट एयरवेज के कर्मियों की पेंडिंग सैलरी पर अभी भी कोई उम्मीद नहीं, सीईओ ने लिखा पत्र

जेट एयरवेज के कर्मियों की पेंडिंग सैलरी पर अभी भी कोई उम्मीद नहीं, सीईओ ने लिखा पत्र

जेट एयरवेज के सीईओ विनय दूबे ने कहा कि यह दुखद है कि किसी भी अंशधारक ने कर्मचारियों के वेतन भुगतान को लेकर किसी तरह की प्रतिबद्धता नहीं जतायी है.

April 27, 2019 12:18 PM
bombay highcourt, jet airways, financial crisis, jet airways in financial crisis, plea agaisnt jet airways, air india, air india demand jet aircraft, jet airways last flight, nclt, जेट एयरवेज, एयर इंडिया, एनसीएलटी, jet airways in nclt, pending salary, jet airways pending salaryअन्य कंपनी में नौकरी खोजने के अलावा विकल्प नहीं. (Image-Reuters)

जेट एयरवेज के सीईओ विनय दूबे ने कहा कि यह दुखद है कि किसी भी अंशधारक ने कर्मचारियों के वेतन भुगतान को लेकर किसी तरह की प्रतिबद्धता नहीं जतायी है. इससे कर्जदाता बैंकों की ओर से एयरलाइन को आगे वित्तपोषण को लेकर समर्थन की कमी साफ नजर आती है. एयरलाइन ने पिछले कुछ महीने से अब तक अपने 20,000 से अधिक कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया है. Jet Airways ने 17 अप्रैल को अपनी सेवाओं को अस्थायी तौर पर निलंबित करने की घोषणा की है. कर्मचारियों के अप्रैल माह का वेतन भी अगले कुछ दिनों में देनदारी में शामिल हो जायेगा.

Jet Airways CEO ने कर्मियों को पत्र लिखकर बताई स्थिति

दूबे ने शुक्रवार को कर्मचारियों को लिखे पत्र में कहा है, ”हम खरीदार या एयरलाइन ढूंढने की बैंक की कोशिशों का समर्थन करते हैं लेकिन साथ ही यह सूचित करते हुए हमें दुख हो रहा है कि किसी भी पक्षकार ने अब तक वेतन को लेकर स्पष्ट तौर पर कोई प्रतिबद्धता जाहिर नहीं की है.” इससे पहले जेट एयरवेज के कर्मचारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बांद्रा कुर्ला परिसर में आयोजित चुनावी रैली के आयोजन स्थल तक शांतिपूर्ण जुलूस निकालने की योजना बनायी थी लेकिन पुलिस और राज्य सरकार के आग्रह पर उसे इस कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा.

अन्य कंपनी में नौकरी खोजने के अलावा विकल्प नहीं

दूबे ने अपने पत्र में कहा है, ”एक तरफ जहां हमें बोली प्रक्रिया के दौरान जेट के मूल्यों को बचाकर रखने के लिए कहा जा रहा है, वहीं दूसरी ओर वेतन भुगतान नहीं होने के कारण हमारे सहकर्मियों के पास कहीं और रोजगार तलाशने के अलावा अन्य कोई विकल्प नहीं रह गया है. जब हम इस दुर्भाग्यपूर्ण विडंबना की स्थिति को कर्जदाताओं के समक्ष रखते हैं तो हमें कहा जाता है कि शेयरधारक इस समस्या का समाधान करेंगे, जो काफी समय पहले समाधान योजना पर सहमत हुये हैं.” पत्र के मुताबिक बोर्ड की कई बैठकें हो चुकीं हैं लेकिन प्रवर्तकों और रणनीतिक शेयरधारकों की तरफ से एयरलाइन में कोष डालने और वेतन भुगतान के लिये अभी तक कुछ नहीं कहा गया है.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop