सर्वाधिक पढ़ी गईं

कमाई वाला हफ्ता! 3 दिनों में बैंक टु बैंक लिस्ट होंगे 4 आईपीओ, लिस्टिंग गेन पर ग्रे मार्केट से क्या हैं संकेत

ipo listing today India: मौजूदा हफ्ता आईपीओ के लिहाज से धमाकेदार रहने वाला है. अगले 3 दिनों में एक के बाद एक 4 आईपीओ की शेयर बाजार में लिस्टिंग होने वाली है.

Updated: Mar 23, 2021 11:16 AM
IPO ListingIPO Listing: मौजूदा हफ्ता आईपीओ के लिहाज से धमाकेदार रहने वाला है. अगले 3 दिनों में एक के बाद एक 4 आईपीओ की शेयर बाजार में लिस्टिंग होने वाली है.

IPO Listing: मौजूदा हफ्ता आईपीओ के लिहाज से धमाकेदार रहने वाला है. अगले 3 दिनों में एक के बाद एक 4 आईपीओ की शेयर बाजार में लिस्टिंग होने वाली है. इन 4 में लक्ष्मी आर्गनिक्स, अनुपम रसायन, क्राफ्ट्समैन आटोमेशन और कल्याण ज्वैलर्स शामिल हैं, जिनकी बाजार में एंट्री होने वाली है. इनके इश्यू पिछले हफ्ते बंद हुए हैं. इनमें से कुछ इश्यू को निवेशकों का जोरदार रिस्पांस मिला है. वहीं इस साल आईपीओ मार्केट के बेहतर प्रदर्शन को देखते हुए भी निवेशकों की निगाहें लिस्टिंग गेन पर लगी हैं. बता दें कि इस साल अबतक 16 आईपीओ लॉन्च हो चुके हैं. वहीं इसी हफ्ते बारबेक्यू नेशन का आईपीओ भी खुलने वाला है.

किस इश्यू की कब लिस्टिंग

केमिकल बनाने वाली कंपनी अनुपम रसायन के इश्यू की लिस्टिंग 24 मार्च को होगी. वहीं क्राफ्ट्समैन आटोमेशन और लक्ष्मी आर्गनिक्स की लिस्टिंग 25 मार्च को शेयर बाजार में होगी. 26 मार्च को कल्याण ज्वैलर्स की लिस्टिंग होगी.

ग्रे मार्केट से क्या हैं संकेत

अनुपम रसायन: 16% प्रीमियम

अनुपम रसायन का शेयर ग्रे मार्केट में 85-90 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. अनुपम रसायन ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 553-555 रुपये प्रति शेयर तय किया है. यानी शेयर 15 से 16 फीसदी प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. अनुपम रसायन आईपीओ से के मिलने वाली राशि का इस्तेमाल मुख्य तौर पर कर्ज भुगतान में किया जाएगा.

अनुपम रसायन ने 1984 में कामकाज शुरू किया था. कंपनी स्पेशियलिटी केमिकल बनाती है. गुजरात में अनुपम के 6 मल्टी-पर्पस मैन्युफैक्चरिंग प्लांट हैं. इनकी कुल कैपेसिटी करीब 23,396 मीट्रिक टन है. कंपनी मुख्य रूप से एग्रोकेमिकल, पर्सनल केयर और फार्मास्युटिकल सेक्टर के लिए उत्पाद बनाती है. वित्त वर्ष 2019-20 में रेवेन्यू में इन सेगमेंट की हिस्सेदारी 95 फीसदी से ज्यादा रही. इसके ग्राहकों में सिंजेंटा एशिया पैसेफिक, सुमीटोमो केमिकल कंपनी और यूपीएल लिमिटेड शामिल हैं.

क्राफ्ट्समैन आटोमेशन: 3% प्रीमियम

क्राफ्ट्समैन आटोमेशन का शेयर ग्रे मार्केट में 35-40 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. क्राफ्ट्समैन आटोमेशन ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 1488-1490 रुपये प्रति शेयर तय किया है. यानी शेयर 3 फीसदी प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. कंपनी इस आईपीओ के फ्रेश इश्यू से मिले पैसे का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में करेगी.

क्राफ्ट्समैन आटोमेशन लिमिटेड की शुरूआत 1986 में हुई थी. कंपनी लीडिंग इंजीनियरिंग आर्गनाइजेशन है, जो कई तरह के इंजीनियरिंग प्रोडक्ट के डिजाइन, डेवलपमेंट और मैन्युफैक्चरिंग में लगी है. ट्रैक्टर सेग्मेंट में सिलिंडर ब्लॉक्स के मयाीनिंग में यह लीडिंग कंपनी है. 7 शहरों में कंपनी की 12 उत्पादन इकाइयां हैं.

Daimler India, Tata Motors, Tata Cummins, Mahindra & Mahindra, Simpson & Co, TAFE Motors and Tractors, Escorts, Ashok Leyland, Perkins, Mitsubishi Heavy Industries, TVS Motor, Royal Enfield, John Deere और JCB India कंपनी के क्लाइंट की लिस्ट में शामिल हैं.

लक्ष्मी आर्गनिक्स: 54% प्रीमियम

लक्ष्मी आर्गनिक्स का शेयर ग्रे मार्केट में 60-70 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. लक्ष्मी आर्गनिक्स ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 129-130 रुपये प्रति शेयर तय किया है. यानी शेयर 54 फीसदी प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. कंपनी इस आईपीओ के फ्रेश इश्यू से मिले पैसे का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में करेगी. लक्ष्मी ऑर्गेनिक्स द्वारा इस इश्यू से मिलने वाले फंड का इस्तेमाल कर्ज चुकाने और फ्लोस्पेशलिटी केमिकल प्लांट तैयार करने के लिए किया जाएगा. साल 2012 में इंटरनेशनल फाइनेंस कॉर्पोरेशन ने 82 करोड़ रुपये में इस कंपनी की 10.05 फीसदी इक्विटी हिस्सेदारी खरीदी थी.

लक्ष्मी ऑर्गेनिक्स देश की सबसे बड़ी इथाइल एसिटेट उत्पादक है, जिसके पास बाजार की 30 फीसदी हिस्सेदारी है. कंपनी दिक्टीन डेरिवेटिव्स बाजार की भी अग्रिम खिलाड़ी है. कंपनी के प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में काफी अधिक अच्छी विविधता है. कंपनी की पहुंच दुनिया के 30 देशों में है. इसमें चीन, नीदरलैंड्स, रूस, सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं. इसके प्रमुख ग्राहकों में अलेम्बिक फार्मा, डॉ. रेड्डीज लैब्स, हेटेरो लैब्स, लॉरस लैब्स, मैकलॉयड फार्मा, मायलैन लैब्स, यूनाइटेड फॉसफोरस जैसी दिग्गज मौजूद

कल्याण ज्वैलर्स: 2% प्रीमियम

कल्याण ज्वैलर्स का शेयर ग्रे मार्केट में 1-2 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. कल्याण ज्वैलर्स ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 86-87 रुपये प्रति शेयर तय किया है. यानी शेयर ग्रे मार्केट में फ्लैट ट्रेड कर रहा है. कल्याण ज्वैलर्स से पहले पीसी ज्वैलर्स की मार्केट में लिस्टिंग हुई थी. इस कंपनी में Warburg Pincus का पैसा लगा हुआ है.

कंपनी इश्यू से जुटाए फंड का इस्तेमाल अगले दो साल तक कामकाज में करेगी. 30 जून 2020 तक कल्याण ज्वेलर्स के पास देश के 21 राज्यों में 107 शोरूम थे. इसके अलावा विदेशों में भी करीब कंपनी के 30 शोरूम हैं. कंपनी के शोरूम का मजबूत नेटवर्क भारत के अलावा विदेशों में भी है. प्रोडक्ट पोर्टफोलियो डाइवर्सिफाइड है. कस्टमर बेस मजबूत है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कमाई वाला हफ्ता! 3 दिनों में बैंक टु बैंक लिस्ट होंगे 4 आईपीओ, लिस्टिंग गेन पर ग्रे मार्केट से क्या हैं संकेत
Tags:IPO

Go to Top