Upcoming IPO: मार्च तिमाही में भी गुलजार रहेगा IPO बाजार, 23 कंपनियां जुटाएंगी 44,000 करोड़ रुपये

आईपीओ का क्रेज अभी खत्म नहीं हुआ है. इस तिमाही में लगभग दो दर्जन कंपनियां आईपीओ लाने जा रही हैं. इनमें से ज्यादातर टेक्नोलॉजी कंपनियां हैं.

IPO craze to continue in Mar quarter; 23 cos line up public issues worth Rs 44,000 cr
IPO में निवेश करने वालों के लिए जनवरी-मार्च तिमाही भी शानदार साबित हो सकता है.

Upcoming IPO: IPO में निवेश करने वालों के लिए जनवरी-मार्च तिमाही भी शानदार साबित हो सकता है. दरअसल, मार्च तिमाही में कई कंपनियां अपना आईपीओ लेकर आ रहीं हैं. मर्चेंट बैंकरों ने कहा कि आईपीओ का क्रेज अभी खत्म नहीं हुआ है और इस तिमाही में लगभग दो दर्जन कंपनियां अपना आईपीओ लाने जा रही हैं. इनमें से ज्यादातर टेक्नोलॉजी कंपनियां हैं. इन आईपीओ के तहत कंपनियां कुल मिलाकर लगभग 44,000 करोड़ रुपये जुटाना चाहती हैं. बता दें कि साल 2021 में 63 कंपनियों ने आईपीओ के माध्यम से रिकॉर्ड 1.2 लाख करोड़ रुपये जुटाए हैं.

Corona in Delhi: दिल्ली में लगातार बढ़ रहे हैं मामले, केजरीवाल बोले- घबराएं नहीं, 37 हजार ऑक्सीजन बेड में से केवल 82 पर हैं मरीज

इन कंपनियों का आ रहा है आईपीओ

  • मर्चेंट बैंकरों ने कहा कि मार्च तिमाही के दौरान आईपीओ लॉन्च करने वाली कंपनियों में होटल एग्रीगेटर OYO (8,430 करोड़ रुपये) और सप्लाई चेन कंपनी Delhivery (7,460 करोड़ रुपये) शामिल हैं.
  • इसके अलावा, उन्होंने बताया कि Adani Wilmar (4,500 करोड़ रुपये), एमक्योर फार्मास्युटिकल्स (4,000 करोड़ रुपये), वेदांत फैशन (2,500 करोड़ रुपये), पारादीप फॉस्फेट्स (2,200 करोड़ रुपये), मेदांता (2,000 करोड़ रुपये) और Ixigo (1,800 करोड़ रुपये) जैसी कंपनियां भी आईपीओ लाने जा रही हैं.
  • मर्चेंट बैंकरों ने आगे कहा कि स्कैन्रे टेक्नोलॉजीज (Skanray Technologies), हेल्थियम मेडटेक और सहजानंद मेडिकल टेक्नोलॉजीज भी इस दौरान अपना आईपीओ ला सकती हैं.
  • ये कंपनियां ऑर्गेनिक और इनऑर्गेनिक ग्रोथ इनिशिएटिव, कर्ज के भुगतान और मौजूदा शेयरधारकों को बाहर निकलने के लिए धन जुटा रही हैं.

भूल से गलत बैंक अकाउंट में ट्रांसफर हो गए पैसे? जानें कैसे मिलेंगे वापस और क्या हैं इससे जुड़े नियम

Recur क्लब के फाउंडर एकलव्य ने कहा, “कंपनियों द्वारा आईपीओ जनता के माध्यम से पूंजी जुटाने के लिए लाई जाती है जिससे शेयर की लिक्विडिटी बढ़ती है और इसके साथ ही वैल्यूएशन का पता चलता है.” LearnApp.com के फाउंडर और CEO प्रतीक सिंह ने कहा कि टेक कंपनियां अब वैश्विक स्तर पर आगे बढ़ना चाहती हैं और ऐसा करने के लिए उन्हें पूंजी की जरूरत होगी. इस पूंजी को आईपीओ के जरिए जुटाया जा रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News