Inox Green Energy का बाजार में कमजोग आगाज, शेयर IPO प्राइस से 7% डिस्‍काउंट पर लिस्‍ट | The Financial Express

Inox Green Energy ने निवेशकों को किया निराश, लिस्टिंग पर शेयर ने कराया घाटा, बेच दें या बने रहें?

Inox Green Energy Services का शेयर बीएसई पर इश्‍यू प्राइस की तुलना में 7 फीसदी कमजोर होकर लिस्‍ट हुआ.

Inox Green Energy ने निवेशकों को किया निराश, लिस्टिंग पर शेयर ने कराया घाटा, बेच दें या बने रहें?
On the BSE Sensex, 86 stocks rose to hit fresh 52 week highs.

Inox Green Energy IPO Listing Today: आइनॉक्स विंड (Inox Wind) की सब्सिडियरी आइनॉक्स ग्रीन एनर्जी सर्विसेज (Inox Green Energy Services) के शेयरों में आज यानी 23 नवंबर से ट्रेडिंग शुरू हो गई है. लिस्टिंग पर Inox Green Energy ने निवेशकों को निराश किया है. बीएसई पर कंपनी का शेयर इश्‍यू प्राइस की तुलना में 7 फीसदी कमजोर होकर लिस्‍ट हुआ. आईपीओ के तहत अपर प्राइस बैंड 65 रुपये के मुकाबले यह 60.50 रुपये के भाव पर लिस्‍ट हुआ. सब्‍सक्रिप्‍शन के दौरान भी इसे निवेशकों का एवरेज रिस्‍पांस मिला था.

शेयर बेच दें या बने रहें

Swastika Investmart के सीनियर टेक्निकल एनालिस्‍ट प्रवेश गौर का कहना है कि कंपनी के फाइनेंशियल देखें तो अभी यह मुनाफे में नहीं आ पा रही है. ओवरआल ग्रुप का प्रदर्शन भी बहुत आकर्षक नहीं है. इसलिए जिन निवेशकों के पास शेयर है, वे इसमें आईपीओ प्राइस की तुलना में बढ़त दिखने पर प्रॉफिट बुकिंग कर सकते हैं. निवेशकों को 57 रुपये पर स्‍टॉप लॉस लगाना चाहिए.

1.5 गुना ही हुआ था सब्‍सक्राइब

Inox Green Energy Services के आईपीओ में निवेशकों ने बहुत ज्‍यादा इंटरेस्‍ट नहीं दिखाया था. यह ओवरआल 1.55 गुना सब्‍सक्राइ हुआ था. 11 नवंबर से 15 नवंबर के दौरान खुलने वाले इस आईपीओ में रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व हिस्‍सा 4.7 गुना सब्‍सक्राइब हुआ था. जबकि नॉन इंस्‍टीट्यूशनल बॉयर्स के लिए रिजर्व हिस्‍सा 47 फीसदी भरा. वहीं क्‍वालिफाइड इंस्‍टीट्यूशन बॉयर्स के लिए रिजर्व हिस्‍सा 1.05 फीसदी भरा था.

ब्रोकरेज का कंपनी पर व्‍यू

ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्‍योरिटीज का कहना है कि FY20-22 के दौरान कंपनी के रेवेन्‍यू, EBITDA और PAT में CAGR ग्रोथ 2.1%, 8.8% ओर 246.4% रही है. O&M कांट्रैक्‍ट के लिए पैरेंट कंपनी पर निर्भरता ज्‍यादा है, जिससे आगे आर्डर इनफ्लो में म्‍यूटेड ग्रोथ रह सकती है. कुल कर्ज 900 करोड़ पहुंच गया है. हालांकि मैनेजमेंट को उम्‍मीद है कि आगे कंपनी डेट फ्री होगी. फिर भी आगे के आउटलुक और मुनाफे को लेकर अनिश्चितता दिख रही है. ब्रोकरेज ने सब्‍सक्रिप्‍शन पर भी रेटिंग UNRATED रखा था.

कंपनी का क्‍या है कारोबार

Inox Green Energy Services विंड फार्म प्रोजेक्ट (Wind Farm Projects) के लिए लंबी अवधि के ऑपरेशन और मेंटनेंस (O&M) सर्विस मुहैया कराने के बिजनेस में लगी हुई है. ये कंपनी मुख्य रूप से विंड टरबाइन जनरेटर और विंड फार्म पर सामान्य इंफ्रास्ट्रक्चर फैसिलिटी देने के लिए काम करती है. आईनॉक्स विंड की वर्तमान में Inox Green Energy Services में 93.84 फीसदी हिस्सेदारी है. हाल ही में Inox Green Energy Services ने तीन स्पेशल यूनिट्स (SPV) में अपनी पूरी इक्विटी हिस्सेदारी गौतम अडानी की कंपनी अडानी ग्रीन एनर्जी को बेच दी है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

First published on: 23-11-2022 at 09:54 IST

TRENDING NOW

Business News