scorecardresearch

Infosys FY23 Q1 Result: जून तिमाही में 3.2% बढ़ा मुनाफा, रेवेन्यू 23.6% बढ़कर हुआ 34,470 करोड़

Infosys Result: इंफोसिस ने पूरे वित्त वर्ष के लिए अपने राजस्व आकलन को संशोधित करते हुए 14-16 प्रतिशत कर दिया है, जो कि पहले 13-15 प्रतिशत था.

Infosys FY23 Q1 Result: जून तिमाही में 3.2% बढ़ा मुनाफा, रेवेन्यू 23.6% बढ़कर हुआ 34,470 करोड़
इंफोसिस ने वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के नतीजों का एलान कर दिया है.

Infosys FY23 Q1 Result: भारत की दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सर्विस फर्म इंफोसिस ने वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के नतीजों का एलान कर दिया है. कंपनी का जून 2022 को समाप्त तिमाही में कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर 3.2 फीसदी बढ़ा है और यह 5,362 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. बेंगलुरू स्थित इस आईटी कंपनी का नेट प्रॉफिट पिछले वर्ष की समान अवधि में 5,195 करोड़ रुपये था. मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में इंफोसिस के नेट प्रॉफिट में 8-10% की वृद्धि की उम्मीद थी. शुक्रवार को इंफोसिस का शेयर 1.73 फीसदी की गिरावट के साथ 1,506 प्रति शेयर पर बंद हुआ था.

Income Tax Return Filing: करदाताओं ने की डेडलाइन आगे बढ़ाने की मांग, ट्विटर यूजर्स बोले- काम नहीं कर रही है वेबसाइट

राजस्व में 23.6% का उछाल

कंपनी की रेगुलेटरी फाइलिंग के अनुसार जून तिमाही में इसके राजस्व में 23.6 फीसदी का उछाल देखने को मिला है. यह बढ़कर 34,470 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो पिछले वर्ष की इसी तिमाही में 27,896 करोड़ रुपये था. पहली तिमाही की वृद्धि से उत्साहित इंफोसिस ने पूरे वित्त वर्ष के लिए अपने राजस्व आकलन को संशोधित करते हुए 14-16 प्रतिशत कर दिया है. पहले राजस्व आकलन 13-15 प्रतिशत वृद्धि का था. कंपनी का ऑपरेटिंग मार्जिन 20.1% रहा, जिसमें सालाना आधार पर 3.6% और तिमाही आधार पर 1.4% की गिरावट रही. इंफोसिस ने पहली तिमाही में 106 क्लाइंट जोड़े जबकि कुल कर्मचारियों की संख्या पिछली तिमाही के 3.14 लाख से बढ़कर 3.35 लाख हो गई.

Cheapest Car Loan: नई कार के लिए लोन लेने का है इरादा? इन बैंकों में 8% से भी कम दर पर मिल रहा कर्ज

कंपनी ने बढ़ाया राजस्व आकलन

कंपनी के CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर सलिल पारेख ने एक बयान में कहा, ‘‘अनिश्चितता से भरे आर्थिक माहौल के बीच पहली तिमाही में हमारा समग्र प्रदर्शन सशक्त रहा है. यह एक संगठन के तौर पर हमारे स्वाभाविक लचीलेपन, हमारी इंडस्ट्री-लीडिंग डिजिटल कैपिबिलिटी और सतत ग्राहक-प्रासंगिकता का एक सबूत है.’’ पारेख ने कहा, ‘‘हम प्रतिभाओं को अपने साथ जोड़ने पर निवेश कर रहे हैं ताकि उभर रहे बाजार अवसरों का लाभ उठा सकें. पहली तिमाही में अच्छे प्रदर्शन के रूप में इसका नतीजा सामने आया है और वित्त वर्ष के लिए राजस्व आकलन को भी बढ़ाकर 14-16 प्रतिशत कर दिया गया है.’’

(इनपुट-पीटीआई)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News