सर्वाधिक पढ़ी गईं

Service PMI: घरेलू डिमांड ने सर्विस सेक्टर को दी रफ्तार! रोजगार के मसले पर अभी भी चुनौती

Service PMI January 2021: बिजनेस गतिविधियों में तेजी आने और कारोबार को लेकर सकारात्मकता बढ़ने से सर्विस सेक्टर में यह अच्छा-खासा सुधार देखने को मिला है.

February 3, 2021 1:49 PM
India's services sector, Service PMI in January 2021, business optimism, domestic demand, PMI Survey, India Services Business Activity IndexService PMI: महंगाई के मोर्चे पर सर्वे का कहना है कि जनवरी में भी इनपुट कास्ट लगातार सातवें महीने बढ़ी है.

India’s services sector PMI in January 2021: घरेलू मांग में तेजी की बदौलत जनवरी में देश के सर्विस सेक्टर में लगातार चैथे महीने तेजी देखी गई. बिजनेस गतिविधियों में तेजी आने और कारोबार को लेकर सकारात्मकता बढ़ने से सर्विस सेक्टर में यह अच्छा-खासा सुधार देखने को मिला है. आईएचएस मार्किट के मासिक सर्वे के में यह जानकारी सामने आई है. सर्वे के मुताबिक जनवरी में इंडिया सर्विसेज बिजनेस एक्टिविटी इंडेक्स चढ़कर 52.8 पर पहुंच गया जो दिसंबर में 52.3 पर रहा था. इससे आउटपुट में तेज सुधार के संकेत मिलते हैं.

जनवरी में भारत का सर्विसेज सेक्टर इंडेक्स 50 से ऊपर रहा जो वृद्धि को दिखाता है. पीएमआई पर 50 से ऊपर का आंकड़ा ग्रोथ जबकि नीचे का नंबर संकुचन को दिखाता है.

पैनलिस्ट्स के अनुसार, मार्केटिंग से जुड़े प्रयासों, कुछ कंपनियों को दोबारा खोलने और डिमांड को मजबूती देने से बिक्री में उछाल देखने को मिला है. आईएचएस मार्किट में एसोसिएट डायरेक्टर ;इकोनॉमिक्सद्ध पॉलियाना डी लीमा ने कहा, ‘‘भारत के सर्विसेज सेक्टर में जनवरी में अच्छे स्तर पर गतिविधियां देखने को मिली. लगातार चौथे माह में नए बिजनेस वॉल्यूम और ग्रेथ रेट में बढ़ोतरी देखने को मिली‘‘

इनपुट कास्ट सातवें महीने बढ़ी

सर्वे का कहना है कि खासतौर पर घरेलू बाजारों में ही नया बिजनेस देखने को मिला क्योंकि एक्सपोर्ट से जुड़े नए कार्यों में गिरावट रही है. ऐसा इसलिए क्योंकि कई देशों की तरफ से ट्रैवल पाबंदी लागू करने और कोविड-19 की वजह से अंतरराष्ट्रीय डिमांड में कमी आई है. महंगाई के मोर्चे पर सर्वे का कहना है कि जनवरी में भी इनपुट कास्ट लगातार सातवें महीने बढ़ी है. कंपनियों को फ्यूल की ऊंची कीमतों और कई मैटीरियल्स की कीमतों में बढ़ोतरी से जूझना पड़ रहा है. लीमा का कहना है कि सर्विस इकोनाॅमी में बढ़ती इनपुट लागत चिंता का विषय है.

Budget Stocks: बजट के बाद निवेश के लिए चुनें बेस्ट शेयर, पूरे साल होती रहेगी कमाई

रोजगार पर हालात अभी भी चिंताजनक

सर्वे के मुताबिक, रोजगार के मसले पर हालात चिंताजनक अभी भी हैं. लीमा ने कहा कि लागत बढ़ने की वजह से कंपनियां अतिरिक्त कर्मचारियों की नियुक्ति से बच रही हैं. इस वजह से रोजगार के मोर्चे पर लगातार दूसरे माह गिरावट देखने को मिली. सर्विस सेक्टर रोजगार में लगातार गिरावट है. हालांकि, सर्वे में शामिल 97 फीसदी प्रतिभागी मानते हैं कि अभी आने वाले समय में भी बहुत बेहतर हालात की उम्मीद नहीं है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Service PMI: घरेलू डिमांड ने सर्विस सेक्टर को दी रफ्तार! रोजगार के मसले पर अभी भी चुनौती
Tags:PMI

Go to Top