सर्वाधिक पढ़ी गईं

Direct tax collection : रेवेन्यू संकट से जूझ रही सरकार को बड़ी राहत, डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 74 फीसदी बढ़ कर 5.90 लाख करोड़ रुपये पर पहुंचा

वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक 74.4 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन बढ़कर 5,70,568 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

Updated: Sep 24, 2021 8:09 PM
डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में 74 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज.

कोविड की वजह से रेवेन्यू के मोर्चे पर संकट का सामना कर रही सरकार को बड़ी राहत हासिल हुई है. चालू वित्त वर्ष ( 2020-21) में केंद्र सरकार के डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में 74 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. एडवांस टैक्स और टीडीएस पेमेंट की वजह से सरकार का डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन अब तक बढ़ कर 5.90 लाख करोड़ रुपये हो गया है. डायरेक्ट टैक्स में पर्सनल इनकम टैक्स और और कॉरपोरेट टैक्स की वसूली शामिल है.

नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 74.4 फीसदी बढ़ा

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड यानी CBDT के आंकड़ों के मुताबिक नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन (Net direct tax collections) अब तक करीब 75 फीसदी की बढ़ोतरी हो चुकी है. शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक 74.4 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन बढ़कर 5,70,568 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 22 सितंबर तक डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन के रुप में 5,70,568 करोड़ रुपये जमा हुए हैं. जबकि पिछले वित्त वर्ष यानी 2020-21 की इसी अवधि में 3,27,174 करोड़ रुपये का टैक्स कलेक्शन हुआ था. वित्त वर्ष 2021-22 में 22 सितंबर तक नेट कलेक्शन (Net Collection) ने वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 27 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की है. वित्त वर्ष 2019-20 नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 4,48,976 करोड़ रुपये हुआ था.

Income Tax Benefits for Senior Citizens: वरिष्ठ नागरिकों को टैक्स में मिलती है खास रियायतें, जानिए क्या हैं इससे जुड़े नियम

एडवांस टैक्स कलेक्शन में भी बढ़ोतरी

वित्त मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन के तहत हासिल 5,70,568 करोड़ रुपये में कॉरपोरेट टैक्स (Corporation Tax, CIT) की 3,02,975 करोड़ रुपये और पर्सनल इनकम टैक्स, सिक्योरिटी ट्रांजैक्शन टैक्स (STT) की 2,67,593 करोड़ रुपये की हिस्सेदारी है. वित्त वर्ष 2021-22 में ग्रॉस कलेक्शन (gross collection) में वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 16.75 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. वित्त वर्ष 2021-22 को शुरुआती चुनौतीपूर्ण महीनों के बाद दूसरी तिमाही में एडवांस टैक्स कलेक्शन 1,72,071 करोड़ रुपये रहा. यह वित्त वर्ष 2020-21 में कलेक्ट हुए 1,13,571 करोड़ की तुलना में 51.50 फीसदी अधिक है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Direct tax collection : रेवेन्यू संकट से जूझ रही सरकार को बड़ी राहत, डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 74 फीसदी बढ़ कर 5.90 लाख करोड़ रुपये पर पहुंचा

Go to Top