सर्वाधिक पढ़ी गईं

भारतीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर! इस साल 2020 के मुकाबले ज्यादा बढ़ेगी सैलरी, सर्वे में खुलासा

भारत में कंपनियों द्वारा साल 2021 में 7.7 फीसदी की सैलरी बढ़ोतरी देने की उम्मीद है.

Updated: Feb 23, 2021 5:37 PM
indian companies expecting to increase 7.7 percent salary in 2021 says surveyभारत में कंपनियों द्वारा साल 2021 में 7.7 फीसदी की सैलरी बढ़ोतरी देने की उम्मीद है.

भारत में कंपनियों द्वारा साल 2021 में 7.7 फीसदी की सैलरी बढ़ोतरी देने की उम्मीद है. एक सर्वे के मुताबिक, यह BRIC देशों में सबसे ज्यादा में से एक है. और 2020 में मिले 6.1 फीसदी के औसत से ज्यादा है. ग्लोबल प्रोफेशनल सर्विसेज कंपनी Aon Plc ने मंगलवार को अपने भारत में सैलरी बढ़ोतरी को लेकर किए गए लेटेस्ट सर्वे को जारी किया है. इसके मुताबिक, सर्वे की गई 88 फीसदी कंपनियों ने कहा कि वे 2021 में सैलरी बढ़ाने की इच्छा रखती हैं. यह आंकड़ा 2020 में 75 फीसदी कंपनियों का था, जो सकारात्मक कारोबार की भावना का है.

1,200 कंपनियां सर्वे में शामिल

स्टडी में 20 से ज्यादा उद्योगों से 1,200 कंपनियों में डेटा का विश्लेषण किया गया है. इसमें कहा गया है कि जहां सैलरी वृद्धि मजबूत रिकवरी की ओर संकेत करती है, वहीं कोड ऑफ वेज गेमचेंजर साबित हो सकता है. Aon के भारत में परफॉर्मेंस और रिवॉर्ड बिजनेस के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिस और पार्टनर नितिन सेठी ने कहा कि वे उम्मीद करते हैं कि 2021 में बढ़ोतरी लंबी समय अवधि में होगी, जिसकी वजह अनिश्चित्ता और आने वाले बदलावों का संभावित असर है.

सेठी ने कहा कि नए श्रम कानूनों के तहत वेतन की प्रस्तावित परिभाषा से अतिरिक्त क्षतिपूर्ति दी जा सकती है, जो बेनेफिट प्लान्स के लिए ज्यादा प्रावधान के तौर पर हो सकता है जैसे ग्रेच्युटी, लीव इनकैशमेंट और प्रोविडेंट फंड. उन्होंने बताया कि उन्हें उम्मीद है कि संगठन अपने कंपेनसेशन बजट को साल के दूसरे भाग में रिव्यू करेंगे, जब लेबर कोड के वित्तीय असर का पता लग जाता है.

Nureca IPO: 25 फरवरी को डीमैट अकाउंट में आ जाएंगे शेयर, चेक करें- आपको मिले हैं या नहीं

ई-कॉमर्स, आईटी में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी का अनुमान

उन्होंने कहा कि यह भी संभव है कि कुछ वेतन वृद्धि से कर्माचरियों के लिए हाथ में आने वाला कैश नहीं बढ़ेगा, अगर संस्थाएं वेतन की नई परिभाषा पर ज्यादा प्रोविडेंट फंड का भुगतान करने का फैसला करती हैं.

सर्वे के मुताबिक, जिन सेक्टर्स में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी का अनुमान है, उनमें ई-कॉमर्स और वेंचर कैपिटल, हाई टेक/इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी, ITeS, लाइफ साइसेंज शामिल हैं. दूसरी तरफ, जिन सेक्टर्स में सबसे कम बढ़ोतरी का अनुमान है, उनमें होस्पिटेलिटी/रेस्टोरेंट, रियल एस्टेट/इंफ्रास्ट्रक्चर, इंजीनियरिंग सर्विसेज शामिल हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. भारतीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर! इस साल 2020 के मुकाबले ज्यादा बढ़ेगी सैलरी, सर्वे में खुलासा

Go to Top