मुख्य समाचार:

भारत 4.2 लाख करोड़ रुपये से 100 हवाई अड्डे बनाएगा: सुरेश प्रभु

आईएटीए के अनुसार अगले दस साल में भारत का विमानन उद्योग जर्मनी, जापान, स्पेन और ब्रिटेन के विमानन उद्योग को पीछे छोड़कर दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा हवाई यात्रा बाजार होगा.

September 4, 2018 2:56 PM
आईएटीए के अनुसार अगले दस साल में भारत का विमानन उद्योग जर्मनी, जापान, स्पेन और ब्रिटेन के विमानन उद्योग को पीछे छोड़कर दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा हवाई यात्रा बाजार होगा. (Express Photo: Ganesh Shirsekar)

अगले 10 से 15 सालों में देश के भीतर 100 हवाईअड्डों का निर्माण किए जाने की योजना है. नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने मंगलवार को कहा कि इस पर करीब 60 अरब डॉलर (करीब 4.2 लाख करोड़ रुपये) की लागत आएगी.

केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु का ट्वीट देखिए.

देश का विमानन क्षेत्र दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ रहा है. पिछले 50 महीनों में इसमें लगातार दोहरे अंक की यातायात बढ़ोतरी देखी गई है. प्रभु ने कहा कि 100 नए हवाईअड्डे अगले 10 से 15 सालों में विकसित किए जाएंगे. इस पर करीब 60 अरब डॉलर की लागत आएगी. इनका विकास सार्वजनिक-निजी भागीदारी के आधार पर किया जाएगा.

प्रभु ने कहा कि सरकार हवाई मार्ग से मालवहन करने के लिए नीति बनाने पर भी काम कर रही है. विमानन कंपनियों के अंतरराष्ट्रीय संगठन आईएटीए के अनुसार अगले दस साल में भारत का विमानन उद्योग जर्मनी, जापान, स्पेन और ब्रिटेन के विमानन उद्योग को पीछे छोड़कर दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा हवाई यात्रा बाजार होगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. भारत 4.2 लाख करोड़ रुपये से 100 हवाई अड्डे बनाएगा: सुरेश प्रभु

Go to Top