सर्वाधिक पढ़ी गईं

Forbes: भारत की सबसे अमीर महिलाएं, 1 साल में 93% तक बढ़ी दौलत

सूची में सबसे अमीर भारतीय महिला के रूप में ओपी जिंदल ग्रुप की सावित्री जिंदल को स्थान मिला है, वह अमीर भारतीयों की सूची में 19वें स्थान पर हैं और महिलाओं में सबसे ऊपर हैं.

Updated: Oct 10, 2020 8:31 AM
india richest women by forbes 93pecent networth increaseसावित्री जिंदल

फोर्ब्स (Forbes) हर साल अमीर लोगों की सूची जारी करता है. यह सूची कई श्रेणियों में बनती है, जैसे कि विश्व के सबसे अमीर. इसके अलावा कई देशों के भी अमीरों की सूची वह जारी करता है. भारत के लिए जारी की गई सबसे अमीर लोगों की सूची में महिलाएं भी शामिल हैं. इस सूची में सबसे अमीर भारतीय महिला के रूप में ओपी जिंदल ग्रुप की सावित्री जिंदल को स्थान मिला है, वह अमीर भारतीयों की सूची में 19वें स्थान पर हैं और महिलाओं में सबसे ऊपर हैं. सावित्री जिंदल ओपी जिंदल ग्रुप की प्रमुख हैं. 2019 की तुलना में उनकी संपत्ति 13.8 फीसदी बढ़कर इस साल 42415 करोड़ रुपये की हो गई है.

सावित्री जिंदल जिंदल समूह का संचालन करती हैं. यह स्टील, पावर, सीमेंट और इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काम करती है. जिंदल परिवार की कारोबार के साथ राजनीतिक सक्रियता भी रही है. जिंदल ग्रुप की स्थापना सावित्री जिंदल के पति ओमप्रकाश जिंदल ने की थी जो हरियाणा के हिसार विधानसभा से कांग्रेस के टिकट पर लगातार तीन बार चुनाव जीते थे. 2005 में ओम प्रकाश जिंदल हरियाणा के ऊर्जा मंत्री भी बने लेकिन कुछ समय बाद उनका निधन हो गया. उनके निधन के बाद सावित्री जिंदल ने हिसार विधानसभा उपचुनाव लड़ा और हरियाणा सरकार में मंत्री बन गईं. वह 2009 में हिसार से दोबारा चुनाव जीतीं लेकिन 2014 के विधानसभा चुनाव में हार गईं.

किरण मजूमदार शॉ

india richest women by forbes 93pecent networth increaseकिरण मजूमदार शॉ

फोर्ब्स के अमीर भारतीय अमीरों की सूची में शामिल महिलाओं की सूची में पिछले एक साल में सबसे अधिक संपत्ति किरण मजूमदार शॉ की बढ़ी है. हालांकि नेटवर्थ के मामले में वह दूसरी भारतीय अमीर महिला हैं. उनकी संपत्ति पिछले साल की तुलना में 93.28 फीसदी बढ़कर 33639 करोड़ रुपये हो गई है. खास बात यह है कि उनके नेटवर्थ में सबसे अधिक बढ़ोतरी सिर्फ महिलाओं की श्रेणी में नहीं हैं बल्कि टॉप 100 अमीर भारतीयों के बीच है.
किरण मजूमदार शॉ बॉयोटेक कंपनी बॉयोकॉन की चेयरमैन और एमडी के अलावा आइआइएम बंगलौर की अध्यक्ष हैं. उनकी कंपनी डायबिटीज और कैंसर जैसी बीमारियों के लिए इंसुलिन तैयार करती है.
ईवाई वर्ल्ड एंटरप्रेन्योर ऑफ द इयर 2020 के लिए किरण मजूमदार शॉ को नवाजा गया जो पुरस्कार के 20 साल के इतिहास में सम्मान पाने वाली दुनिया की दूसरी और भारत की पहली महिला उद्यमी हैं. इसके अलावा वह तीसरी भारतीय हैं जिन्हें यह सम्मान मिला है. उनसे पहले यह सम्मान 2005 में इंफोसिस के एनआर नारायणमूर्ति और 2014 में महिंद्रा बैंक के उदय कोटक को मिल चुका है.

विनोद राय गुप्ता

india richest women by forbes 93pecent networth increaseविनोद राज गुप्ता

भारतीय अमीरों की सूची में शामिल टॉप 5 महिलाओं में शामिल सिर्फ विनोद राय गुप्ता हैं जिनकी संपत्ति में पिछले एक साल में गिरावट आई है. हालांकि वह अमीर भारतीयों की सूची में टॉप 50 में 40वें स्थान पर है और अमीर महिलाओं में तीसरे स्थान पर हैं. उनकी संपत्ति पिछले साल के मुकाबले 3291 करोड़ रुपये घटकर 25961 करोड़ रुपये पहुंच गई है. विनोद राय गुप्ता हेवेल्स इंडिया की प्रमुख हैं. यह कंपनी इलेक्ट्रिकल और लाइटिंग फिक्सचर्स से लेकर पंखे, फ्रिज और वाशिंग मशीन बनाती है. हैवेल्स की स्थापना विनोद राय गुप्ता के पति कीमत राय गुप्ता ने 1958 में इलेक्ट्रॉनित ट्रेडिंग बिजनस के रूप में किया था. इस समय कंपनी के 12 कारखाने हैं और यह 40 देशों में कारोबार करती है.

लीना तिवारी

india richest women by forbes 93pecent networth increaseलीना तिवारी

फोर्ब्स की सूची के मुताबिक देश के सबसे अमीर महिलाओं में लीना तिवारी चौथे स्थान पर हैं. फोर्ब्स के मुताबिक उनकी संपत्ति 2019 में 14041 करोड़ रुपये से बढ़कर इस साल 21939 करोड़ रुपये पहुंच गई है. इस तरह उनकी संपत्ति में एक साल के भीतर करीब 56.25 फीसदी का उछाल आया है. लीना तिवारी यूएसवी इंडिया की प्रमुख हैं. यूएसवी इंडिया को लीना तिवारी के पिता विठल गांधी ने 1961 में स्थापित किया था. यह कंपनी डाइबिटिक और कार्डियोवैस्कुलर की दवाएं बनाती है. 2018 में इस कंपनी ने जर्मनी की जेनेरिक दवा बनाने वाली कंपनी जूटा फॉर्मा का अधिग्रहण कर लिया, हालांकि अधिग्रहण मूल्य का अभी तक खुलासा नहीं हुआ है.

मल्लिका श्रीनिवासन

india richest women by forbes 93pecent networth increaseमल्लिका श्रीनिवासन

दुनिया की तीसरी और भारत की दूसरी सबसे अधिक ट्रैक्टर बनाने वाली कंपनी टैक्टर्स एंड फॉर्म इक्विपमेंट लिमिटेड (टफे) की चेयरपर्सन मल्लिका श्रीनिवासन को फोर्ब्स ने देश के सबसे अमीर लोगों की सूची में 58वें स्थान पर रखा है. सूची में शामिल भारतीय महिलाओं में वह पांचवें स्थान पर हैं. फोर्ब्स के मुताबिक उनकी संपत्ति 17917 करोड़ की है.

टफे की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक यह सालाना 1.5 लाख ट्रैक्टर की बिक्री करती है और इसकी उपस्थिति 100 से भी अधिक देशों में है. टफे अमेरिका की ट्रैक्टर और कृषि उपकरण बनाने वाली कंपनी में शेयरहोल्डर भी है. तीन दशक के भीतर ही मल्लिका श्रीनिवासन ने ट्रैक्टर निर्माताओं की श्रेणी में अग्रणी कर दिया. 1986 में वह टफे से जुड़ी थी और उस समय इसका टर्नओवर करीब 85 करोड़ रुपये था जो आज बढ़कर 17900 करोड़ रुपये हो गया है. 2011 में उन्हें अर्न्स्ट एंड यंग ने एंटर्प्रेन्योर ऑफ द इयर घोषित किया था. वह पद्मश्री से भी सम्मानित हो चुकी हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Forbes: भारत की सबसे अमीर महिलाएं, 1 साल में 93% तक बढ़ी दौलत

Go to Top