सर्वाधिक पढ़ी गईं

21% प्रीमियम पर लिस्टेड हुए इंडिया पेस्टीसाइड्स के शेयर, मार्केट में तेजी से मिला सपोर्ट

इंडिया पेस्टीसाइड्स के शेयर आज 360 रुपये रुपये के भाव पर लिस्टेड हुए हैं जोकि इशू प्राइस 296 रुपये प्रति शेयर से 21.62 फीसदी प्रीमियम पर है.

Updated: Jul 05, 2021 11:32 AM
India Pesticides shares list at 21 percent premium to IPO price bullish market momentum helps strong debutब्रोकरेज व रिसर्च फर्म मोतीलाल ओसवाल ने इंडिया पेस्टीसाइड्स के तेजी से बढ़ रहे एग्रोकेमिकल स्पेस में मजबूत स्थिति, डाइयवर्सिफाइड प्रॉडक्ट पोर्टफोलियो और बेहतर फाइनेंशियल्स के चलते इसे सब्सक्रिप्शन की सलाह दी थी.

आज 5 जुलाई को सेंसेक्स और निफ्टी50 में बुलिश रुख बना हुआ है और दोनों में बढ़त के साथ ट्रेडिंग हो रही है. आज इंडिया पेस्टीसाइड्स की लिस्टिंग भी हुई है और बुलिस मार्केट के चलते इस एग्रोकेमिकल फर्म के शेयर्स 360 रुपये रुपये के भाव पर लिस्टेड हुए हैं जोकि इशू प्राइस 296 रुपये प्रति शेयर से 21.62 फीसदी प्रीमियम पर है. इंडिया पेस्टीसाइड्स लिमिटेड (आईपीएल) एग्रोकेमिकल मैन्यूफैक्चरर है. केमिकल टेक्निकल्स के निर्माण में वॉल्यूम के लिहाज से यह सबसे तेजी से बढ़ रही कंपनियों में शुमार है. इसके अलावा यह फॉर्म्यूलेशन और एपीआई बनाती है. जब पहली बार इसे शेयरों की ट्रेडिंग शुरू हुई तो कंपनी की बाजार पूंजी 4100 करोड़ रुपये की थी.

61 साल के हुए राकेश झुनझुनवाला, 5 हजार रुपये से स्टॉक ट्रेडिंग की शुरुआत; जानिए किस तरह रहा ‘बीयर’ से ‘बिग बुल’ का सफर

29 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ था आईपीओ

इंडिया पेस्टीसाइड्स का इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (आईपीओ) 29 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ था. खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित हिस्से का 11.3 गुना, नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स (एनआईआई) के लिए आरक्षित हिस्से का 51 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ था. क्वालिफाईड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स (क्यूआईबी) के लिए आरक्षित हिस्से का 42 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ था. तीनों हिस्सों के इतने अधिक ओवरसब्सक्राइब होने के चलते पब्लिक इशू की डिमांड बहुत अधिक थी. निवेशक 1 रुपये प्रति शेयर के फेस वैल्यू वाले इस स्टॉक के लिए 50 इक्विटी शेयरों के लॉट में सब्सक्रिप्शन के लिए आवेदन कर सकते थे.
यह आईपीओ 700 करोड़ रुपये के ऑफ फॉर सेल (ओएफएस) और 100 करोड़ रुपये के फ्रेश इक्विटी शेयरों का मिक्स था. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक इशू के बाद कंपनी में प्रमोटरी की हिस्सेदारी 82.7 फीसदी से घटकर 59.7 फीसदी रह गई है. पब्लिक शेयरहोल्डिंग 17.3 फीसदी से बढ़कर 40.3 फीसदी हो गई है.

इंटरनेशनल मार्केट में निवेश से पहले क्यों जरूरी है इंडस्ट्री एनालिसिस, इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं होगा नुकसान

ब्रोकरेज फर्म ने दी थी सब्सक्राइब की रेटिंग

अपने आईपीओ नोट में ब्रोकरेज व रिसर्च फर्म मोतीलाल ओसवाल ने इंडिया पेस्टीसाइड्स के तेजी से बढ़ रहे एग्रोकेमिकल स्पेस में मजबूत स्थिति, डाइयवर्सिफाइड प्रॉडक्ट पोर्टफोलियो और बेहतर फाइनेंशियल्स के चलते इसे सब्सक्रिप्शन की सलाह दी थी. मजबूत आरएंडडी, एमएनसीज के साथ लंबे रिश्ते, प्रतिस्पर्धात्मक कीमत और व्यापक डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क के चलते इंडिया पेस्टीसाइड्स के प्रति निवेशकों का भरोसा मजबूत बना है. पिअर्स के मुकाबले मोतीलाल ओसवाल ने आईपीओ को 25.3x FY21 P/E पर वैल्यूएशन को तर्कसंगत माना था और इस आधार पर सब्सक्राइब की रेटिंग दी थी. इंडिया पेस्टीसाइड्स के अलावा इसके सेक्टर की यूपीएल, पीआई इंडस्ट्रीज, सुमिटोमो केमिकल्स, रैलीज और धनुका एग्रीटेक भी स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड है.
(Article: Kshitij Bhargava)
(स्टोरी में स्टॉक रिकमंडेशंस रिसर्च एनालिस्ट्स और ब्रोकरेज फर्म द्वारा दी गई जानकारियों पर आधारित है. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन किसी भी निवेश सलाह को लेकर कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है. निवेश के पहले अपने सलाहकार से जरूर संपर्क कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. 21% प्रीमियम पर लिस्टेड हुए इंडिया पेस्टीसाइड्स के शेयर, मार्केट में तेजी से मिला सपोर्ट

Go to Top