HDFC Bank Results: दिसंबर तिमाही में बैंक का बढ़ा मुनाफा, लेकिन सालाना आधार पर बैड लोन भी उछला

HDFC Bank Results: निजी सेक्टर में देश के सबसे बड़े बैंक एचडीएफसी बैंक को पिछली तिमाही में अधिक मुनाफा हासिल हुआ लेकिन सालाना आधार पर बैड लोन में बढ़ोतरी हुई.

india largest private sector lender HDFC Bank Results net profit rises Q3 fy22
एचडीएफसी बैंक का पिछली तिमाही अक्टूबर-दिसंबर 2021 में स्टैंडएलोन नेट प्रॉफिट 18.1 फीसदी बढ़ गया.

HDFC Bank Results: निजी सेक्टर में देश के सबसे बड़े बैंक एचडीएफसी बैंक का पिछली तिमाही अक्टूबर-दिसंबर 2021 में स्टैंडएलोन नेट प्रॉफिट 18.1 फीसदी बढ़ गया. बैंक ने आज चालू वित्त वर्ष 2021-22 की तीसरी तिमाही अक्टूबर-दिसंबर 2021 के रिजल्ट्स का एलान किया. जारी रिजल्ट्स के मुताबिक दिसंबर 2021 तिमाही में बैंक का स्टैंडएलोन नेट प्रॉफिट 18.1 फीसदी की उछाल के साथ 10342 करोड़ रुपये रहा. पिछले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में मुनाफे का यह आंकड़ा 8,758.29 रुपये था.

हालांकि सालाना आधार पर बैंक का नेट एनपीए या बैड लोन्स दिसंबर तिमाही में बढ़ गया. एचडीएफसी बैंक के दिसंबर तिमाही के वित्तीय नतीजों के मुताबिक बैंक के बैंड लोन और ग्रॉस एनपीए (नॉन-परफॉर्मिंग एसेट्स) में बढ़ोतरी रही.

6 Airbag in A Car: सभी कारों में 6 एयरबैग अनिवार्य करने का बड़ा फैसला, जानिए क्या है इस एलान का मतलब और कारों के दाम पर क्या होगा असर?

HDFC Bank के नतीजे की खास बातें

  • अक्टूबर-दिसंबर 2021 में बैंक का स्टैंडएलोन नेट प्रॉफिट 18.1 फीसदी बढ़कर 10342 करोड़ रुपये रहा. पिछले वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही में मुनाफे का यह आंकड़ा 8,758.29 रुपये था.
  • स्टैंडएलोन बेसिस पर बैंक ने पिछली तिमाही में 40651.60 करोड़ रुपये की कुल आय हासिल की जबकि पिछले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही अक्टूबर-दिसंबर 2020 में बैंक को कुल
  • 37,522.92 करोड़ रुपये की आय हासिल हुई थी.

Covid-19 Third Wave Update: एक दिन में कोरोना के 2.69 लाख नए मामले, मकर संक्रांति पर गंगासागर और प्रयागराज में उमड़ी लाखों श्रद्धालुओं की भीड़

  • बैंक के बैड लोन और ग्रॉस एनपीए में बढ़ोतरी रही और यह 30 दिसंबर 2021 तक उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक यह अनुपात ग्रॉस एडवांस के 1.26 फीसदी पर पहुंच गया. इसकी तुलना पिछले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही से करें तो यह आंकड़ा 0.81 फीसदी पर था. हालांकि सितंबर 2021 तिमाही की बात करें तो अक्टूबर-दिसंबर 2021 में यह अनुपात सुधरा है क्योंकि सितंबर 2021 में यह अनुपात 1.35 फीसदी पर था.
  • सालाना आधार पर नेट एनपीए या बैड लोन उछलकर 0.37 फीसदी पर पहुंच गया जबकि तिमाही आधार पर इसमें गिरावट आई है. सितंबर तिमाही में यह आंकड़ा 0.40 फीसदी पर था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News