मुख्य समाचार:

कोरोना पैकेज पर इंडस्ट्री: आ​र्थिक रिकवरी का रास्ता खुलेगा, पैकेज से 4% तक की GDP ग्रोथ हासिल करने की उम्मीद

उद्योगों ने उम्मीद जताई है कि लॉकडाउन 4 के नए नियम भारत की अर्थव्यवस्था और कारोबार के अनुरूप होंगे. 

May 13, 2020 12:18 PM
india inc hails pm modi special economic package hopeful for speedy recovery high gdp growth amid coronavirus pandemic ficci cii assocham phd chamberउद्योग जगत का कहना है कि इससे भारत को आत्मनिर्भर बनने की दिशा में मदद मिलेगी.

Modi’s special economic package: कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की ओर से 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का उद्योग जगत ने स्वागत किया है. उद्योग जगत का कहना है कि इससे भारत को आत्मनिर्भर बनने की दिशा में मदद मिलेगी. कोरोना पैकेज से भारत में आर्थिक रिकवरी का रास्ता भी स्पष्ट होगा. इसके अलावा पैकेज से GDP ग्रोथ 4 फीसदी तक हासिल करने की उम्मीद बंधी है. उद्योगों ने उम्मीद जताई है कि लॉकडाउन 4 के नए नियम भारत की अर्थव्यवस्था और कारोबार के अनुरूप होंगे.

उद्योग संगठन फिक्की (FICCI) ने भी केंद्र सरकार की तरफ से घोषित किए गए आर्थिक पैकेज का स्वागत किया है. फिक्की के महासचिव दिलीप शिनॉय का कहना है कि हम सभी को अब मिलकर काम करने की जरूरत है जिससे कि हम भारत की अर्थव्यवस्था को दोबारा ग्रोथ के रास्ते पर ले जा सके. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की ओर से 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का एलान काफी अहम है. इसमें समाज के सभी वर्ग का ध्यान रखा गया है और हर तरह के उद्योग को मदद देने की कोशिश की गई है. इससे भारत को आत्मनिर्भर बनाने में काफी मदद मिल सकती है.

इंडस्ट्री बॉडी एसोचैम (Assocham) का कहना है कि उसने सरकार से कई बार यह गुजारिश की थी कि 20-30 अरब डॉलर के राहत पैकेज की घोषणा की जानी चाहिए इससे देश में उद्योगों को काफी मदद मिलेगी. एसोचैम के महासचिव दीपक सूद ने ट्वीट कर कहा, “पीएम मोदी के इस राहत पैकेज के एलान से देश का उद्योग जगत काफी आशान्वित है. हमें ऐसा लगता है कि इससे हम 4 फीसदी तक की जीडीपी ग्रोथ हासिल करने में कामयाब रहेंगे.”

PM मोदी ने 20 लाख करोड़ रु के आर्थिक पैकेज का किया एलान, 18 मई से नए नियम के साथ लॉकडाउन 4.0

पैकेज से भारत में आर्थिक रिकवरी का रास्ता खुलेगा

उद्योग संगठन कनफेडरेशन आफ इंडियन इंडस्ट्री (CII) के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी ने कहा, “पीएम मोदी ने कोरोनावायरस के संकट के इस दौर में जिस आर्थिक पैकेज की घोषणा की है, उससे उद्योग को काफी मदद मिलेगी. 20 लाख करोड़ रुपये के कोरोना पैकेज से भारत में आर्थिक रिकवरी का रास्ता प्रशस्त होगा. हम इस एलान से काफी आशान्वित हैं और सरकार के इस कदम का स्वागत करते हैं.”

पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री का कहना है कि चैंबर ने सरकार से 16 लाख करोड़ के पैकेज की मांग की थी. राहत की यह घोषणा उद्योग जगत की आशाओं के अनुरूप और स्वागत योग्य है. PHD चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के को-चेयरमैन यूपी स्टेट चैप्टर मनीष खेमका का कहना है कि भारत के इतिहास में पहली बार 20 लाख करोड के अभूतपूर्व राहत पैकेज की घोषणा हुई है. पीएम मोदी ने किसान, मजदूर व करदाता सभी की बात की है. उन्होंने “सप्लाई चेन” शब्द को अनेक बार दोहराया और उसे दुरुस्त करने की बात की. इससे लगता है कि वे कारोबारियों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील हैं. हमें उम्मीद है कि लॉकडाउन 4 के नए नियम भारत की अर्थव्यवस्था और कारोबार के अनुरूप होंगे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना पैकेज पर इंडस्ट्री: आ​र्थिक रिकवरी का रास्ता खुलेगा, पैकेज से 4% तक की GDP ग्रोथ हासिल करने की उम्मीद

Go to Top