सर्वाधिक पढ़ी गईं

Mutual Fund: निवेशकों को इस फंड ने एक साल में दिया 50% रिटर्न, आगे क्या करना चाहिए?

इक्विटी म्युचुअल फंड की कैटेगरी में फोकस्ड इक्विटी फंड को लेकर निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ रही है.

March 12, 2021 7:31 PM
ICICI Prudential Focused Equity Fund, ICICI Prudential Focused Equity Fund return, investor, mutual funds, equity mutual funds, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड इक्विटी फंड, म्यूचुअल फंड, इक्विटी फंडफोकस्ड इक्विटी फंड के तहत ऐसे स्टॉक्स में निवेश किया जाता है, जिनमें मजबूत ग्रोथ की संभावना रहती है.

ICICI Prudential Focused Equity Fund: म्यूचुअल फंड रिटेल निवेशकों के लिए एक पसंदीदा निवेश विकल्प बनकर उभर रहा है. इक्विटी म्युचुअल फंड की कैटेगरी में फोकस्ड इक्विटी फंड को लेकर निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ रही है. इसमें आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड इक्विटी फंड के इस कैटेगरी में शानदार प्रदर्शन किया है. पिछले एक साल में इस फंड ने निवेशकों 50 फीसदी का रिटर्न दिया है. 8 मार्च 2021 तक के आंकड़ों के अनुसार, इस कैटेगरी के औसत रिटर्न को देखा जाए तो आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड फंड अन्य फंड्स की तुलना में 15 फीसदी अधिक है. सेबी स्कीम कैटेगराइजेशन मेंडेट के मुताबिक, इस तरह के फंड के पोर्टफोलियो में अधिकतम 30 स्टॉक हो सकते हैं.

फंड में क्यों मिली अच्छा रिटर्न?

फोकस्ड इक्विटी फंड के तहत ऐसे स्टॉक्स में निवेश किया जाता है, जिनमें मजबूत ग्रोथ की संभावना रहती है. आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड इक्विटी फंड के मामले में यह देखा गया है. इसमें सबसे अहम बात पोर्टफोलियो की है. इस फंड के पोर्टफोलियो में ऐसे वजनदार नाम थे, जिनमें आने वाली तिमाहियों में भी सप्लाई चेन की रुकावट से निपटने की क्षमता थी. फंड का प्रदर्शन बेहतर रहने की एक वजह यह भी था कि इसमें ग्रामीण अर्थव्यवस्था जुड़ी हुई थी, जिससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था की सस्टेनेबल डिमांड से लाभ मिलता रहे और इस स्ट्रैटजी ने फंड के लिए बेहतर काम किया. मार्च के निचले स्तर से बाजार के ऊपर आने के साथ ही इस फंड ने शानदार मुनाफा दिया .

आगे क्या है मौका?

बाजार की मौजूदा तेजी को देखते हुए आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड इक्विटी फंड के पोर्टफोलियो में बदलाव किया गया है. इसमें एक्सिस बैंक, एलएंडटी, टाटा स्टील जैसी कंपनियों को शामिल किया गया है. दरअसल, फंड मैनेजर की तरफ से पोर्टफोलियो में यह बदलाव मौजूदा दौर सेक्टर वार उछाल को देखकर किया गया है. ऐसे में आने वाले समय में इन सेक्टर्स को आर्थिक रिकवरी से लाभ मिलने की संभावना है. पोर्टफोलियो में ऐसे नाम हैं, जिन्हें क्रेडिट ग्रोथ और कैपेक्स साइकिल, रियल एस्टेट आदि में तेजी आने से लाभ मिल सकता है.

इस पोर्टफोलियो का बड़ी वित्तीय कंपनियों में बेहतरीन एक्सपोजर है, जिन्हें आर्थिक रिकवरी के सायकल (बेहतर कर्ज वृद्धि और कम कर्ज लागत) और पीएसयू में कंसॉलिडेशन से लाभ मिल सकता है. संक्षेप में समझें तो मौजूदा पोर्टफोलियो फाइनेंशियल्स और कंज्यूमर नॉन ड्यूरेबल्स की ओर ज्यादा झुका हुआ है. यह अपने एक साल पहले के स्वरूप की तुलना में बहुत अलग है, जब पोर्टफोलियो फार्मा और आईटी जैसे सुरक्षात्मक क्षेत्र की ओर झुका हुआ था.

फंड में कब तक बने रहें?

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड इक्विटी फंड का प्रदर्शन हर समय में स्थिर रहा है. अपने एक साल के शानदार प्रदर्शन के अलावा तीन या पांच साल के हिसाब से भी फंड ने क्रमशः 13 फीसदी और 15 फीसदी सीएजीआर के हिसाब से रिटर्न दिया है. पोर्टफोलियो के नेचर को देखते हुए यह अहम है कि कम से कम 3 से 5 साल तक के लिए निवेश बनाए रखा जाए, जिससे निवेश शोध प्रबंधक को पूरी तरह से काम करने का अवसर मिलता है.

(स्रोतः वैल्यू रिसर्च)

 

(डिस्क्लेमर: म्यूचुअल फंड में निवेश बाजार के जोखिमों के अधीन है. फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी डिजिटल किसी भी तरह के निवेश की सलाह नहीं देता है. निवेश संबंधी निर्णय करने से पहले स्वयं पड़ताल करें और अपने वित्तीय सलाहकार से परामर्श करें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Mutual Fund: निवेशकों को इस फंड ने एक साल में दिया 50% रिटर्न, आगे क्या करना चाहिए?

Go to Top