मुख्य समाचार:
  1. HDFC म्यूचुअल फंड खरीदेगी Essel Group के 500 करोड़ के डिबेंचर, नकदी बढ़ाने के लिए निर्णय

HDFC म्यूचुअल फंड खरीदेगी Essel Group के 500 करोड़ के डिबेंचर, नकदी बढ़ाने के लिए निर्णय

HDFC AMC के शेयर 7 फीसदी तक टूटे

June 18, 2019 5:50 PM
HDFC Mutual Fund, HDFC AMC, Essel Group, NCDs, Debt Securities, HDFC AMC StockHDFC AMC के शेयर 7 फीसदी तक टूटे

HDFC म्यूचुअल फंड ने कर्ज से दबे एस्सेल ग्रुप (Essel Group) के 500 करोड़ रुपये के डिबेंचर खरीदने के निर्णय लिया है. HDFC एसेट मैनेजमेंट कंपनी ने रेग्युलेटरी फाइलिंग में कहा है कि कंपनी उन योजनाओं से डिबेंचर खरीदेगी, जिनके पास एस्सेल ग्रुप की डेट सिक्युरिटीज हैं. कंपनी ने यह निर्णय HDFC म्यूचुअल फंड की कुछ फिक्स्ड मेच्योरिटी प्लान स्कीम को लिक्विडिटी मुहैया करने के लिए लिया है.

HDFC AMC के शेयर 7 फीसदी तक टूटे

इस फैसले से मंगलवार को कंपनी के शेयरों में 7 फीसदी गिरावट देखी गई. बीएसई पर शेयर 6.66 फीसदी तक कमजोर होकर 1801.05 रुपये पर आ गया. वहीं, NSE पर शेयर 6.81 फीसदी तक कमजोर होकर 1800 रुपये के भाव पर आ गया.

इन्हें मिलेगी राहत

HDFC एएमसी के इस फैसले से उन निवेशकों को राहत मिलेगी, जो इस बात से चिंतित थे कि सितंबर के पहले एसेल ग्रुप द्वारा अपनी कुछ संपत्तियों को बेचने और कर्जदाताओं को कर्ज चुकाने में विफल रहने पर अपनी पूरी निवेश पूंजी वापस नहीं पा सकेंगे.

किन स्कीम पर लागू

यह लिक्विडिटी अरेंजमेंट सिर्फ फिक्स्ड मेच्योरिटी प्लान (जिनका एक्सपोजर एसेल ग्रुप द्वारा जारी एनसीडी में है) के मामले में लागू होगी. ये ऐसी स्कीम होंगी जो या तो अप्रैल 2019 में पहले ही मेच्योर हो चुकी हैं या तब तक मेच्योर हो जाएंगी, जब तक स्टैंडस्टिल अरेंजमेंट नहीं हो जाता है.

पिछले महीने मिला था कारण बताओ नोटिस

पिछले महीने मार्केट रेग्युलेटर सेबी ने एस्सेल ग्रुप की कंपनियों के डेट इंस्ट्रूमेंट में किये गये निवेश को लेकर एचडीएफसी एएमसी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था. एस्सेल ग्रुप की कंपनियों में किया गया निवेश फंसने से कई म्यूचुअल फंड कंपनियां को अपनी निवेश योजनाओं की मेच्योरिटी का भुगतान करने में मुश्किल आ रही है. एचडीएफसी एएमसी ने अप्रैल में अपनी सावधि जमा योजनाओं की मेच्योरिटी भुगतान के लिये कुछ और समय की मांग की थी.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop