मुख्य समाचार:

क्या इन शेयरों में आपने भी लगाया है पैसा, 5 साल में डुबो चुके हैं निवेशकों की पूरी दौलत

Top Loser Stocks: शेयर बाजार ऐसी जगह है, जहां आम तौर पर लंबी अवधि का निवेश सुरक्षित माना जाता है.

August 7, 2020 8:01 AM
stock market losers, top losers of broader market, have you invested in loser stocks, these stocks sunk all money, these stocks Eroses all money, stock market, invest in stock market, return in stock marketTop Loser Stocks: शेयर बाजार ऐसी जगह है, जहां आम तौर पर लंबी अवधि का निवेश सुरक्षित माना जाता है.

BSE 500 Top Losers in 5 Years: शेयर बाजार ऐसी जगह है, जहां आम तौर पर लंबी अवधि का निवेश सुरक्षित माना जाता है. लंबी अवधि में शेयरों में पैसा रखने से आमतौर पर निवेशकों को अच्छा खास रिटर्न मिल जाता है. बाजार में ऐसे कई शेयर हैं, जिन्होंने पिछले 5 साल में निवेशकों का पैसा कई गुना बढ़ाया है. लेकिन वहीं, कुछ ऐसे भी शेयर हैं, जिन्होंने इस दौरान निवेशकों का पूरा पैसा डुबो दिया है. पिछले 3 साल की बात करें तो ब्रॉडर मार्केट के टॉप लूजर्स ने 86 फीसदी से 97 फीसदी तक निगेटिव रिटर्न दिया है. इनमें कुछ ऐसे भी शेयर हैं, जिन्होंने गिरावट शुरू होने के पहले निवेशकों को कई गुना तक रिटर्न भी दिया था. लेकिन बाद में इन्हें लेकर निवेशकों का सेंटीमेंट बिगड़ गया. हमने यहां कुछ ऐसे ही शेयर चुने हैं, जिनमें रिलायंस कैपिटल, दीवान हाउसिंग फाइनेंस, पीसी ज्वैलर्स, वोडाफोन आइडिया, Inox Wind, यूनियन बैंक आफ इंडिया और सद्भाव इंजीनियरिंग हैं.

रिलायंस कैपिटल

रिलायंस कैपिटल में पिछले 5 साल के दौरान 98 फीसदी गिरावट आई है. इस दौरान कंपनी का शेयर 388 रुपये से घटकर 9.75 रुपये पर आ गया. यानी करीब 378 रुपये की गिरावट आई. शेयर के लिए 1 साल का हाई 214.65 रुपये और 1 साल का लो 3.70 रुपये है.

रिलायंस कैपिटल लिमिटेड भारत की डाइवर्सिफाई फाइनेंशियल सर्विसेज होल्डिंग कंपनी है. यह अनिल धीरू भाई अंबानी ग्रुप की कंपनी है. कंपनी एसेट अंडर मैनेजमेंट 90 हजार करोड़ से ज्यादा का है. वहीं 1 करोड़ से ज्यादा कस्अमर और 18000 से ज्यादा कर्मचारी हैं. कंपनी लाइफ और जनरल इंश्योरेंस, हेल्थ इंश्योरेंस, कमर्शियल एंड होम फाइनेंस, इक्विटी और कमोडिटी ब्रोकिंग, एसेट रीकंस्ट्रक्शन और अन्य फाइनेंशियल एक्टिविटी में है.

दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन

रिलायंस कैपिटल में पिछले 5 साल के दौरान 95 फीसदी गिरावट आई है. इस दौरान कंपनी का शेयर 259 रुपये से घटकर 13.65 रुपये पर आ गया. यानी करीब 245 रुपये की गिरावट आई. शेयर के लिए 1 साल का हाई 176.45 रुपये और 1 साल का लो 8.35 रुपये है.

दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन डिपॉजिट टेकिंग हाउसिंग फाइनेंस कंपनी है. कंपनी का हेडक्वार्टर मुंबई में है और देशभर में इसकी कई ब्रांच है. कंपनी आसान शर्तों पर लोने देती है, जिससे इसका कसटमर बेस बड़ा है. लोअर और मिडिल इनकम ग्रुप में कंपनी के अच्छे खासे कस्टमर हैं. सेमी अर्बन और रूरल इलाकों में भी कंपनी लोन देती है.

पीसी ज्वैलर्स

पीसी ज्वैलर्स में पिछले 5 साल के दौरान 93 फीसदी गिरावट आई है. इस दौरान कंपनी का शेयर 220 रुपये से घटकर 16 रुपये पर आ गया. यानी करीब 204 रुपये की गिरावट आई. शेयर के लिए 1 साल का हाई 163.50 रुपये और 1 साल का लो 7.75 रुपये है.

पीसी ज्वैलर्स दिल्ली बेस्ड कंपनी है जो ज्वैलरी बिजनेस में है. कंपनी का कारोबार 1 शोरूम के साथ हुआ था, मौजूदा समय में इसके देशभर में 84 शोरूम चल रहे हैं. 19 राज्यों के 70 शहरों में कंपनी का कारोबार है. गोल्ड के अलावा डायमेंड ज्वैलरी में भी कंपनी की स्पेशिएलिटी है. ट्रेडिशनल के साथ मॉडर्न ज्वैलरी में इनोवेटिव प्रोडक्ट के साथ कंपनी ने मार्केट में पहचान बनाई.

Inox Wind

Inox Wind में पिछले 5 साल के दौरान 91 फीसदी गिरावट आई है. इस दौरान कंपनी का शेयर 414 रुपये से घटकर 37 रुपये पर आ गया. यानी करीब 377 रुपये की गिरावट आई. शेयर के लिए 1 साल का हाई 8.65 रुपये और 1 साल का लो 16 रुपये है.

Inox Wind विंड एनर्जी मार्केट में फुली इंटीग्रेटेड प्लेयर है. कंपनी के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट स्टेट आफ आर्ट फैसिलिटी पर बना है. कंपनी हाई क्वालिटी और एडवांस टैक्नोलॉजी के थीम पर काम करती है. बेहतर कीमत की वजह से कंपनी का आर्डरबुक मजबूत है.

सद्भाव इंजीनियरिंग

सद्भाव इंजीनियरिंग में पिछले 3 साल के दौरान 86 फीसदी गिरावट आई है. इस दौरान कंपनी का शेयर 327 रुपये से घटकर 47 रुपये पर आ गया. यानी करीब 280 रुपये की गिरावट आई. शेयर के लिए 1 साल का हाई 274.45 रुपये और 1 साल का लो 23.25 रुपये है.

सद्भाव इंजीनियरिंग लिमिटेड गुजरात बेस्ड सिविल इंजीनियरिंग कंसट्रक्शन कंपनी है. कंपनी रोड और हाईवे के कंस्ट्रक्शन, ब्रिज, माइनिंग और इरीगेशन सपोर्टिंग इंफ्रास्ट्रक्चर के काम में लगी है. कंपनी का क्लाइंट बेस मजबूत है और इसमें NHAI, सरदार सरोवर नर्मदा निगम, कोल इंडिया, GIPCL, GHCL, L&T, HCC और पुंज लॉयड आदि शामिल हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. क्या इन शेयरों में आपने भी लगाया है पैसा, 5 साल में डुबो चुके हैं निवेशकों की पूरी दौलत

Go to Top