सर्वाधिक पढ़ी गईं

Maruti Suzuki: नतीजों के बाद टूटा मारुति का शेयर, आपको लगाना चाहिए दांव या करें बिकवाली?

Maruti Suzuki Stocks: लॉकडाउन के बाद मारुति सुजुकी के बिजनेस में रिकवरी दिखने लगी है.

Updated: Oct 30, 2020 3:08 PM
Maruti Suzuki StocksMaruti Suzuki Stocks: लॉकडाउन के बाद मारुति सुजुकी के बिजनेस में रिकवरी दिखने लगी है.

Maruti Stocks: लॉकडाउन के बाद मारुति सुजुकी के बिजनेस में रिकवरी दिखने लगी है. जून तिमाही की तुलना में सितंबर तिमाही में कंपनी ने 513 फीसदी गाड़ियों की ज्यादा ​बिक्री की है. सेल्स वॉल्यूम हायर रहने, सेल्स प्रमोशन पर खर्च घटाने, आपरेटिंग एक्सपेंस में कमी आने से कंपनी का मुनाफा बढ़ा है, लेकिन दूसरी ओर कमोडिटी की बढ़ रही कीमतों का असर भी हुआ है. कंपनी का मार्जिन अभी थोड़ी चिंता पैदा कर रही है. फिलहाल मैेनजमेंट की कमेंट्री से संकेत पॉजिटिव हैं. उन्हें उम्मीद है कि आने वाले दिनों में डिमांड पूरी तरह से पटरी पर आएगी. नतीजों के बाद ब्रोकरेज हाउस ने भी शेयर को लेकर राय बनाई है. जानते हैं कि किस ब्रोकरेज ने निवेया की सलाह दी है तो किसने इंतजार करने की.

मारुति में आई कमजोरी

दूसरी तिमाही के नतीजों के बाद मारुति के शेयर में बड़ी गिरावट रही है. आज शेयर करीब 3 फीसदी टूटकर 6881 रुपये के भाव पर आ गया. गुरूवार को 7117 रुपये पर बंद हुआ था. आज के दिन शेयर कमजोर होकर ही खुला और 7110 रुपये ही इसका हाई रहा है. वैसे इस साल अप्रैल में शेयर ने 4001 रुपये का लो बनाया था, जिसके बाद से इसमें 78 फीसदी की तेजी आ चुकी है. शेयर के लिए 1 साल का हाई 7,753.65 रुपये है.

नतीजे एक नजर में

मारुति सुजुकी का मुनाफा वित्त वर्ष 2021 की दूसरी तिमाही में 1371.6 करोड़ रुपये रहा है. तिमाही आधार पर देखें तो कंपनी घाटे से मुनाफे में आई है. वहीं सालाना आधार पर मुनाफा 1 फीसदी बढ़ा है. जुलाई से सितंबर के दौरान मारुति सुजुकी ने कुल 3.93 लाख यूनिट सेल की हैं. अगर तिमाही आधार पर देखें तो इसमें 413 फीसदी की ग्रोथ रही है. दूसरी तिमाही में आय 18,745 करोड़ रुपए रही है. EBITDA 20 फीसदी बढ़कर 1933.6 करोड़ रुपए रहा है. जबकि EBITDA मार्जिन 80 बीपीएस बढ़कर 10.3 फीसदी पर रहा है.

दूसरी तिमाही में कंपनी की अदर इनकम पिछले साल की दूसरी तिमाही के 920 करोड़ से घटकर 603 करोड़ रुपए रही है. टैक्स खर्च पिछले साल की दूसरी तिमाही के 213.4 करोड़ से बढ़कर 376.2 करोड़ रुपए रहा है.

सेंटीमेंट सुधरे, लेकिन वॉल्यूम को लेकर चिंता

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल का कहना है कि आने वाले दिनों में फेस्टिव सेल का फायदा कंपनी को मिलेगा. रूरल सेंटीमेंट बेहतर बने हुए हैं. कोरोना वायरस महामारी के चलते लोग अब पब्लिक ट्रांसपोर्ट की जगह खुद के व्हीकल को तरजीह दे रहे हैं. कंपनी लीथ्उंग पोजिशन में है. कैश की कमी नहीं है. वहीं कंपनी एक्सपेंशन और नए प्रोडकट पर फिरसे फोकस करने लगी है. उम्मीद है कि FY20-23E के लिए रेवेन्यू में 8 फीसदी और अर्निंग में 21 फीसदी CAGR की बढ़ोत्तरी होगी.

ब्रोकरेज हाउस कोटक सिक्योरिटीज के अनुसार कमजोर डिमांड के चलते वित्त वर्ष 2021 में वॉल्यूम में गिरावट की आशंका है. पिछले फाइनेंशियल में भी इसमें 16 फीसदी गिरावट आई थी. यह कंपनी के लिए निगेटिव संकेत हैं. ब्रोकरेज हाउस CLSA ने भी वॉल्यूम को लेकर चिंता जताई है.

कितना मिल सकता है रिटर्न

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल ने शेयर में निवेश की सलाह देते हुए 8,216 रुपये का लक्ष्य तय किया है जो पहले 6,910 रुपये था. ब्रोकरेज हाउस CLSA ने शेयर में बिकवाली की सलाह देते हुए 6,300 रुपये का लक्ष्य तय किया है जो पहले 5,675 रुपये था. HDFC सिक्योरिटीज ने निवेया की सलाह देते हुए 8145 रुपये शेयर के लिए लक्ष्य तय किया है. वहीं, ब्रो​करेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर के लिए खरीद की सलाह देते हुए 7850 रुपये का लक्ष्य तय किया है.

(नोट: हमने यहां जानकारी एक्सिस बैंक के तिमाही नतीजों और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले अपने स्तर पर एक्सपर्ट की सलाह लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Maruti Suzuki: नतीजों के बाद टूटा मारुति का शेयर, आपको लगाना चाहिए दांव या करें बिकवाली?

Go to Top