मुख्य समाचार:

हाल-फिलहाल नहीं कम होंगे सोने के दाम, एक्सपर्ट ने यह बताई वजह

देश में निकट भविष्य में सोने के दाम कम होने की उम्मीद नहीं दिखाई देती.

November 20, 2019 12:00 AM
Representational Image

देश में निकट भविष्य में सोने के दाम कम होने की उम्मीद नहीं दिखाई देती. हालांकि, वाहन उद्योग की संभावनाएं उद्योग के लिये किये जाने वाले सुधारात्मक उपायों पर निर्भर करती है. भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) समूह की मुख्य आर्थिक सलाहकार सौम्य कांति घोष ने मंगलवार को यह कहा. घोष ने यहां इंस्टीट्यूट फॉर एडवांस स्टडीज इन कम्पलैक्स च्वाइसेज (आईएएससीसी) के कार्यक्रम में कहा कि वित्तीय और कंपनी क्षेत्र आज अपनी साख और उतार-चढ़ाव से जूझने की दोहरी चुनौती का सामना कर रहा है.

वैश्विक पटल की घटनाओं पर उन्होंने कहा कि हार्मुज जलडमरू, कोरियाई द्वीप और ताइवान में सैन्य टकराव की आशंका वैश्विक अर्थव्यवस्था और खासतौर से भारत के लिये किसी भी तरह सकारात्मक नहीं हो सकती है. इसमें कोई हैरानी नहीं होगी कि चालू वित्त वर्ष के आखिरी छह महीने में सोने के दाम लगातार चढ़ते रहें. आने वाले समय में इसकी उम्मीद कम ही लगती है कि सोने के दाम नीचे आयेंगे.

धनतेरस पर 39,000 रु प्रति दस ग्राम पहुंच गई थी कीमत

इस साल धनतेरस पर सोने का दाम 39,000 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया जबकि एक साल पहले इस दिन यह 32,690 रुपये प्रति दस ग्राम पर था. एचडीएफसी सिक्युरिटीज के मुताबिक मंगलवार को सोना 328 रुपये बढ़कर 39,028 रुपये पर बंद हुआ. घोष ने कहा कि कई देशों में गृहकलह के चलते पड़ोसी देशों में शरणार्थियों का दबाव बढ़ रहा है. इसके साथ ही भूराजनीतिक तनाव भी बढ़ रहा है, जिसका जिंस बाजारों पर असर पड़ रहा है.

बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद का रेवेन्‍यू के मामले में नया ‘कीर्तिमान’, 6 महीने में किया ये कमाल

अर्थव्यवस्था बाहरी प्रभावों से सुरक्षित नहीं

एसबीआई सलाहकार ने कहा कि घरेलू अर्थव्यवस्था बाहरी प्रभावों के असर से पूरी तरह सुरक्षित नहीं है. इस पर ग्रोथ में आ रही सुस्ती का असर देखा जा सकता है. उनके मुताबिक, भारत के साथ कई देशों में जून 2018 के मुकाबले जून 2019 में ग्रोथमें 0.22 से लेकर 7.16 प्रतिशत तक गिरावट आई है. उन्होंने कहा कि वाहनों की बिक्री में आई गिरावट आने वाली तिमाहियों में क्या हो सकता है, इसका संकेत देती है. इसमें जब तक सुधार के उपाय नहीं होते हैं, वृद्धि में नकारात्मक रुझान दिखाई देता है. अब लोग 10 लाख रुपये से महंगी कारें खरीदने पर ध्यान दे रहे हैं. महिला कार खरीदारों की संख्या बढ़ रही है. इससे देश में महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ने का संकेत मिलता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. हाल-फिलहाल नहीं कम होंगे सोने के दाम, एक्सपर्ट ने यह बताई वजह

Go to Top