मुख्य समाचार:

गोल्ड म्यूचुअल फंड्स आगे भी कराएंगे बंपर कमाई, एक साल में निवेशकों को दिया 29% तक रिटर्न

Gold Mutual Fund: पिछले एक साल की बात करें तो म्यूचुअल फंड की सभी कटेगिरी में में गोल्ड फंड का रिटर्न सबसे ज्यादा रहा है.

January 11, 2020 8:23 AM
gold mutual fund, mutual fund, invest in gold fund, invest in gold, gold prices rising, gold funds are top in return chart, गोल्ड म्यूचुअल फंड, choose best mutual fund, गोल्ड, सोना, म्यूचुअल फंडपिछले एक साल की बात करें तो म्यूचुअल फंड की सभसी कटेगिरी में में गोल्ड फंड का रिटर्न सबसे ज्यादा रहा है.

Gold Mutual Fund: ग्लोबल इकनॉमी में स्लोडाउन और दुनिया के कुछ इलाकों में जियो पॉलिटिकल टेंशन बढ़ने से सोने की चमक लगातार बनी हुई है. साल 2020 के शुरू में ही मिडिल ईस्ट में यूएस और ईरान में टेंशन बढ़ने से सोना अपने लाइफ टाइम हाई पर पहुंच गया. फिलहाल इसका सबसे ज्यादा फायदा गोल्ड म्यूचुअल फंड को मिला है. पिछले एक साल की बात करें तो म्यूचुअल फंड की सभी कटेगिरी में में गोल्ड फंड का रिटर्न सबसे ज्यादा रहा है. इस सेग्मेंट में शामिल फंड ने 29 फीसदी तक रिटर्न दिया है. एक्सपर्ट आगे भी पूरे साल सोने में तेजी कह बात कह रहे हैं. उनका कहना है कि साल 2020 गोल्ड के नाम रहने वाला है. ऐसे में इस तेजी का फायदा म्यूचुअल फंड निवेशक उठा सकते हैं. गोल्ड फंड के अलावा मल्टी एसेट अलोकेशन फंड भी हैं, जहां निवेशकों को अपने कुल निवेश का 10 फीसदी और 5 फीसदी पैसा जरूर लगाना चाहिए.

इस साल भी बनी रहेगी सोने की चमक

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट, कमोडिटीज एंड करंसी अनुज गुप्ता का कहना है कि सोने के लिए साल 2019 बेहतर रहा. जिन वजहों से सोने में तेजी आई, उनमें से कई फैक्टर बाजार में मौजूद हैं. इकोनॉमिक स्लोडाउन की वजह से दुनिया भर के बाजारों में दबाव, यूएस नॉर्थ कोरिया टेंशन, यूएस ईरान टेंशन और ट्रेड वार जैसी वजहों से सोने की चमक बढ़ी है. यह चमक इस साल भी जारी रहने वाली है. अगर जियो पालिटिकल टेंशन का इश्यू इसी तरह से चला तो सोना जल्द 43500 का भी स्तर छू सकता है. वहीं, एक्सपर्ट साल के अंत तक सोना के 45 हजारी बनने से भी इनकार नहीं कर रहे हैं.

गोल्ड म्यूचुअल फंड रिटर्न चार्ट पर टॉप पर

पिछले एक साल की बात करें तो ओवरआल गोल्ड म्यूचुअल फंड ने 23 फीसदी रिटर्न दिया है. वहीं, इस सेग्मेंट में अलग अलग फंड की बात करें तो रिटर्न 29 फीसदी तक मिला है. ये हैं सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले गोल्ड फंड…..

SBI गोल्ड फंड

1 साल में रिटर्न: 29 फीसदी
1 लाख के निवेश की वेल्यू: 1.29 लाख
10 हजार एसआईपी की वैल्यू: 1.41 लाख
मिनिमम इन्वेस्टमेंट: 5000 रुपये

कोटक गोल्ड फंड

1 साल में रिटर्न: 28.75 फीसदी
1 लाख के निवेश की वेल्यू: 1.29 लाख
10 हजार एसआईपी की वैल्यू: 1.40 लाख
मिनिमम इन्वेस्टमेंट: 5000 रुपये

Axis गोल्ड ETF फंड

1 साल में रिटर्न: 28.35 फीसदी
1 लाख के निवेश की वेल्यू: 1.28 लाख
10 हजार एसआईपी की वैल्यू: 1.40 लाख
मिनिमम इन्वेस्टमेंट: 5000 रुपये

Invesco इंडिया गोल्ड एक्सचेंज ट्रेड फंड

1 साल में रिटर्न: 28.18 फीसदी
1 लाख के निवेश की वेल्यू: 1.28 लाख
10 हजार एसआईपी की वैल्यू: 1.40 लाख
मिनिमम इन्वेस्टमेंट: 5000 रुपये

गोल्ड फंड में कितना लगाएं पैसा

केडिया एडवाइजरी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि सोना 1 साल से सेफ हैवन बना हुआ है. गोल्ड में उछाल का फायदा गोल्ड म्यूचुअल फंड को मिला है. हालांकि अभी सोना अपने उपरी स्तरों पर है और गोल्ड फंड में रिटर्न हाई हो चुका है. लेकिन आगे भी इनमें तेजी से इनकार नहीं किया जा सकता है. निवेशकों को इस सेग्मेंट में अपने कुल अलोकेशन का 10 फीसदी निवेश करना चाहिए.

मल्टी एसेट अलोकेशन फंड भी बेहतर विकल्प

फाइनेंशियल एडवाइजर फर्म BPN फिनकैप के डायरेक्‍टर एके निगम का कहना है कि गोल्ड फंड के अलावा एसेट अलोकेशन फंड भी अच्छा विकल्प है, जहां निवेशक अपनी रकम को गोल्ड, दूसरी कमोडिटी, इक्विटी, कैश और बांड में निवेश कर सकते हें. इसमें आपका पोर्टफोलियो खुद डाइवर्सिफाई हो जाता है और नुकसान की आशंका कम रहती है. उनका कहना है कि गोल्ड फंड में अलोकेशन 10 फीसदी और एसेट अलोकेशन में 5 फीसदी होना चाहिए.

(सोर्स: वैल्यू रिसर्च)

(Note: हमने यहां जानकारी एक्सपर्ट से बात चीत और फंड के प्रदर्शन के आधार पर दी है. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. गोल्ड म्यूचुअल फंड्स आगे भी कराएंगे बंपर कमाई, एक साल में निवेशकों को दिया 29% तक रिटर्न

Go to Top