मुख्य समाचार:

FPI द्वारा निकासी 2 साल के उच्च स्तर पर, 2018 में 1 लाख करोड़ से ज्यादा निकाले

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने अक्टूबर महीने में पूंजी बाजार से 38,900 करोड़ रुपये की निकासी की है.

November 4, 2018 4:05 PM
FPI, FPI Withdraw, FPI outflow, total withdrawal, 1 lakh cr, financial express hindiविदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने अक्टूबर महीने में पूंजी बाजार से 38,900 करोड़ रुपये की निकासी की है. (Photo source- Reuters)

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने अक्टूबर महीने में पूंजी बाजार से 38,900 करोड़ रुपये की निकासी की है. किसी महीने में की गई ये दो साल की सबसे बड़ी निकासी है. कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें, रुपये में गिरावट और चालू खाता घाटे की खराब स्थिति इसकी वजह रही.

इसी के साथ 2018 में अब तक विदेश निवेशकों ने प्रतिभूति बाजार (शेयर एवं ऋण) से कुल 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक निकाले. इस दौरान, शेयर बाजार से 42,500 करोड़ रुपये और ऋण बाजार से 58,800 करोड़ रुपये की निकासी हुई.

डिपॉजिटरी के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) ने अक्टूबर के दौरान 28,921 करोड़ रुपये के शेयर बेचे और ऋण बाजार से 9,979 करोड़ रुपये की निकासी की. इस तरह FPI ने कुल 38,900 करोड़ रुपये (5.2 अरब डॉलर) निकाले हैं. ये नवंबर 2016 के बाद से अब तक की सबसे बड़ी निकासी है.

नवंबर 2016 में निवेशकों ने प्रतिभूति बाजार से 39,396 करोड़ रुपये निकाले थे. विदेशी निवेशक इस साल कुछ महीने (जनवरी, मार्च, जुलाई और अगस्त) को छोड़कर बाकी समय शुद्ध बिकवाल रहे हैं. इन चार महीनों में विदेशी निवेशकों ने कुल 32,000 करोड़ रुपये का निवेश किया.

मॉर्निंगस्टार के वरिष्ठ विश्लेषक प्रबंधक (शोध) हिंमाशु श्रीवास्तन ने कहा, “फेडरल रिजर्व के ब्याज दर बढ़ाने की आशंका, कच्चे तेल के बढ़ते दाम, रुपये में गिरावट, चालू खाते के घाटे की खराब होती स्थिति, राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को सीमित दायरे में रखने में सरकार की क्षमता आदि कारकों का प्रभाव देश की वृहत-आर्थिक स्थिति पर पड़ने के आसार है. निवेशकों के लिए यह चिंता का विषय है.

इसके अलावा, देश में होने वाले आगामी चुनाव और अमेरिका और चीन के बीच व्यापार मोर्चे पर बढ़ता तनाव भी भारत जैसे उभरते हुए बाजारों के शेयर बाजारों को प्रभावित कर सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. FPI द्वारा निकासी 2 साल के उच्च स्तर पर, 2018 में 1 लाख करोड़ से ज्यादा निकाले

Go to Top