scorecardresearch

TCPL, Dabur समेत ये FMCG स्टॉक देंगे हाई रिटर्न, महंगाई की मार झेल रहे सेक्टर में जल्द रिकवरी के संकेत

महंगाई में नरमी के संकेत मिल रहे हैं. ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि महंगाई में नरमी जारी रहती है तो वित्त वर्ष 2023 के दूसरी छमाही से FMCG सेक्टर में रिकवरी आने लगेगी.

FMCG सेक्टर कोविड 19 और महंगाई के चलते लंबे समय से अंडरपरफॉर्मर रहा है. (File)

FMCG Sector Outlook: FMCG सेक्टर लंबे समय से अंडरपरफॉर्मर रहा है. कोविड 19 के चलते सेक्टर पर निगेटिव असर शुरू हुआ, तो बढ़ती महंगाई से कंपनियों की गणित और बिगाड़ दी. खासतौर से पॉम आयल और क्रूड की ज्यादा कीमतों के चलते कंपनियों को हायर इनपुट कास्ट का सामना करना पड़ा है. फिलहाल महंगाई में नरमी के संकेत मिल रहे हैं. ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज का कहना है कि महंगाई में नरमी जारी रहती है तो वित्त वर्ष 2023 के दूसरी छमाही से सेक्टर में रिकवरी आने लगेगी. वॉल्यूम में सुधार की उम्मीद है. जिन कंपनियों द्वारा रॉ मटेरियल में क्रूड या पॉम आयल का इस्तेमाल कम होता है, उनमें जल्दी रिकवरी की उम्मीद है. आने वाले दिनों में Tata Consumer Products (TCPL), Dabur और Varun Beverages में बेहतर रिटर्न मिल सकता है.

Gujarat Gas: गुजरात बेस्ड कंपनी में 35% रिटर्न पाने का मौका, रिकॉर्ड हाई से करीब आधे भाव पर आया स्टॉक

हाई इनफ्लेशन के चलते दबाव

ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज के अनुसार FMCG कंपनियों पर पिछले कुछ महीनों से हाई इनफ्लेशन के चलते दबाव रहा है. हायर इनपुट लागत के चलते कुछ कंपनियों ने कीमतों में 10-15 फीसदी का इजाफा किया है. प्राइस हाइक के चलते FMCG मार्जिन में पिछले 2 तिमाही के दौरान 200-500 bps की कमी आई है. अचानक बढ़ी कीमतों के चलते खासतौर से रूरल एरिया में डिमांड पर भी असर पड़ा है. महंगाई की मार झेल रहे कंज्यूमर्स ने भी इकोनॉमी ब्रॉन्ड यानी सस्ते प्रोडक्ट की ओर स्विच किया है. हालांकि कुछ कटेगिरी मसलन जूस, कॉरबोनेटेड ड्रिंक में गर्मी के चलते डिमांड मजबूत रही है.

महंगाई में नरमी के संकेत

पिछली तिमाही यानी जनवरी से मार्च की बात करें तो FMCG कंपनियों का रेवेन्यू ग्रोथ फ्लैट से निगेटिव रहा है. ब्रोकरेज का कहना है कि Q1FY23 में भी मार्जिन प्रेशर देखने को मिलेगा. कमोडिटी इनफ्लेशन अभी भी हाई है. हालांकि अभी इसमें नरमी के संकेत मिल रहे हैं. आगे कमाकडिटी की कीमतों में और नरमी आ सकती है. ऐसे में H2FY23 के दौरान सेक्टर में वॉल्यूम रिकवरी आ सकती है. जो कंपनियां क्रूड या पॉम आयल पर बहुत ज्यादा डिपेंड नहीं है, उनमें बेहतर ग्रोथ का अनुमान है.

किन शेयरों में मिलेगा रिटर्न

Dabur

CMP: 517 रुपये
Target: 680 रुपये
Upside: 32%

Tata Consumer Products

CMP: 729 रुपये
Target: 910 रुपये
Upside: 25%

Varun Beverages

CMP: 777 रुपये
Target: 900 रुपये
Upside: 16%

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Business News

TRENDING NOW

Business News