Five Star Business Finance: बाजार में उतरते ही कराया निवेशकों का घाटा, 474 रु का शेयर 450 रु पर हुआ लिस्‍ट | The Financial Express

Five Star Business Finance: लिस्टिंग पर घाटा कराने वाले IPO में हुआ शामिल, शेयर को लेकर कैसे बनाएं स्‍ट्रैटेजी

Five Star Business Finance का शेयर 474 रुपये इश्‍यू प्राइस के मुकाबले 450 रुपये पर लिस्‍ट हुआ. यानी 5 फीसदी निगेटिव प्रीमियम के साथ.

Five Star Business Finance: लिस्टिंग पर घाटा कराने वाले IPO में हुआ शामिल, शेयर को लेकर कैसे बनाएं स्‍ट्रैटेजी
Five Star Business Finance की शेयर बाजार में 21 नवंबर को कमजोर एंट्री हुई है

Five Star Business Finance Stock Market Listing: गैर-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी फाइव स्टार बिजनेस फाइनेंस (Five Star Business Finance) की शेयर बाजार में 21 नवंबर को कमजोर एंट्री हुई है. 474 रुपये के इश्‍यू प्राइस के मुकाबले यह बीएसई पर 450 रुपये के भाव पर लिस्‍ट हुआ. यानी 5 फीसदी निगेटिव प्रीमियम के साथ. इस लिहाज से लिस्टिंग पर निवेशकों को हर शेयर पर 24 रुपये का नुकसान हुआ था. यह आईपीओ पूरी तरह ऑफर फॉर सेल (OFS) पर बेस्ड था, जिससे निवेशकों की ओर से भी सुस्‍त रिस्‍पांस मिला था. एक्‍सपर्ट का भी मानना था कि शेयर की लिस्टिंग कमजोर रहेगी. फिलहाल अब इस शेयर में क्‍या करना चाहिए.

शेयर में क्‍या करें निवेशक?

Tradingo के फाउंडर पार्थ न्‍याती का कहना है कि कंपनी छोटे कारोबारियों को बिजनेस के लिए लोन देती है. दक्षिण भारत में कंपनी की मजबूत प्रेजेंस है. पियर्स की तुलना में कंपनी में सबसे तेज टर्म लोन ग्रोथ देखने को मिला है. कंपनी के रेवेन्‍यू और प्रॉफिट में लगातार ग्रोथ है. फाइनेंशियल का ट्रैक रिकॉर्ड मजबूत है. हालांकि, बढ़ रही प्रतियोगिता और ब्याज दरें रिस्‍क फैक्‍टर हैं. पियर्स कंपनियों के कुछ शेयर तुलना में बेहतर वैल्‍युएशन पर उपलब्‍ध हैं. इसलिए फिलहाल शेयर से दूर रहने की सलाह है. जिन्‍होंने लिस्टिंग गेंस के लिए अप्‍लाई किया था, वे 460 रुपये पर स्‍टॉप लॉस लगाकर चलें.

Archean Chemical Industries के शेयर ने किया खुश, लिस्टिंग पर करा दी कमाई, अब क्‍या करें निवेशक?

कंपनी के साथ क्‍या है पॉजिटिव

FBFL का ग्रॉस टर्म लोन ग्रोथ पियर्स में सबसे अच्‍छा है.
नए अंडरपेनिट्रेटेड जियोग्राफीज में सफलतापूर्वक विस्तार करने की क्षमता.
एक मजबूत एसेट क्‍वालिटी बनाए रखने की क्षमता के लिए मजबूत ऑन-ग्राउंड कलेक्‍शन इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर
100% इन-हाउस सोर्सिंग, व्यापक क्रेडिट एसेसमेंट और मजबूत
रिस्‍क मैनेजमेंट और कलेक्‍शन फ्रेमवर्क, जो बेहतर एसेट क्‍वालिटी की ओर ले जाता है

निवेशकों ने दिया था सुस्‍त रिस्‍पांस

इस आईपीओ को निवेशकों की ओर से सुस्‍त रिस्‍पांस मिला था. आईपीओ में 35 फीसदी हिस्सा रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व था और इसे 0.11 गुना सब्‍सक्रिप्‍शन मिला. 15 फीसदी नॉन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए था और यह 0.61 गुना सब्‍सक्राइब हुआ. जबकि 50 फीसदी हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स के लिए रिजर्व था और यह 1.77 गुना भरा है.

(Disclaimer: IPO को लेकर सलाह एक्‍सपर्ट के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

First published on: 21-11-2022 at 10:24:18 am

TRENDING NOW

Business News