सर्वाधिक पढ़ी गईं

FAQs on ITR Filing: आयकर रिटर्न के बारे में कुछ जरूरी सवालों के जवाब, सरकार ने बढ़ा दी है समयसीमा

FAQs on ITR Filing: आईटीआर भरना कानूनी तौर पर जरूरी है, इसलिए डेडलाइन से पहले ही इसे फाइल कर लें.

October 29, 2020 1:28 PM
FAQ on ITR Filing know about income tax return for FY2019-20इनकम टैक्स रिटर्न मुख्य रूप से ऑफलाइन या ऑनलाइन माध्यम से फाइल किया जा सकता है.

FAQs on ITR Filing: कोरोना महामारी (COVID-19 Pandemic) के दौरान लोगों को आई समस्याओं को देखते हुए सरकार ने इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करने की डेडलाइन बढ़ाकर लोगों को बड़ी राहत दी है. अब आईटीआर फाइल करने की डेडलाइन 31 दिसंबर है और जिन टैक्सपेयर्स के खाते अभी तक ऑडिट नहीं हुए हैं, उनके लिए यह डेडलाइन 31 जनवरी 2021 है. आईटीआर भरना कानूनी तौर पर जरूरी है, इसलिए डेडलाइन से पहले ही इसे फाइल कर लें. टैक्स रिटर्न को लेकर कई जरूरी सवालों के जवाब नीचे दिए गए, जिन्हें आईटीआर फाइल करने से पहले जानना जरूरी है.

Income Tax Return 2020: आसानी से ऑनलाइन ITR कैसे फाइल करें, जानिए पूरी प्रॉसेस

ITR भरने के माध्यम

इनकम टैक्स रिटर्न मुख्य रूप से ऑफलाइन या ऑनलाइन माध्यम से फाइल किया जा सकता है. ऑनलाइन माध्यम से आईटीआर फाइल करने के लिए एसेसी के पास तीन विकल्प होते हैं.

  • डिजिटल सिग्नेचर (DSC) के जरिए ई-फाइलिंग
  • बिना डिजिटल सिग्नेचर के ई-फाइलिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक वेरफिकेशन कोड (EVC) के तहत ई-फाइलिंग

अगर आईटीआर डीएससी के प्रयोग या ईवीसी के तहत फाइल किया गया है तो उसकी हस्ताक्षरित प्रति आईटीआर-5 (इलेक्ट्रॉनिक तरीके से भरे गए रिटर्न की पावती) को बंगलौर सीपीसी भेजने की आवश्यकता नहीं है. हालांकि अगर रिटर्न डीएससी या ईवीसी के बिना फाइल किया है तो एसेसी को रिटर्न अपलोड करने के 120 दिनों के भीतर आईटीआर-5 की हस्ताक्षरित कॉपी को बंगलोर स्थित आयकर विभाग के पास साधारण डाक या स्पीड पोस्ट से भेजना होगा.

इंडिविजुअल या HUF के लिए ITR फाइलिंग कब अनिवार्य

अगर किसी इंडिविजुअल या एचयूएफ (रेजिडेंट या नॉन-रेजिडेंट) की आय नीचे दिए गए डिडक्शंस या एग्जेंप्शंस को क्लेम करने से पहले अधिकतम छूट सीमा से अधिक होती है तो उसे हर हाल में आईटीआर फाइल करना अनिवार्य है.

  • सेक्शन 10(38)6 के तहत एग्जेंप्शन
  • सेक्शन 10A,10B,10Bए के तहत डिडक्शन
  • सेक्शन 54, 54बी, 54डी, 54ईसी, 54एफ, 54जी, 54जीए या 54जीबी के तहत एग्जेंप्शनसेक्शन 80सी से लेकर 80यू के तहत सभी डिडक्शन

अगर किसी इंडिविजुअल (भारत में रहने वाले) की आय अधिकतम छूट सीमा से अधिक नहीं होती है तो भी उसे कुछ परिस्थितियों में आईटीआर फाइल करना होगा.

  • अगर भारत के बाहर स्थित किसी संपत्ति के किसी भी रूप में लाभार्थी हों.
  • भारत से बाहर स्थित किसी खाते में साइनिंग अथॉरिटी हो.

सेक्शन 139(1) के तहत आने वाले एसेसी को आईटीआर भरना अनिवार्य है, चाहे उनकी सकल आय (ग्रास इनकम) कितनी भी हो. इस प्रोविजन के तहत आने वाले एसेसी को नीचे दिए गए परिस्थितियों में आईटीआर भरना अनिवार्य होगा, अगर प्रीवियस इयर में उसने,

  • एक या एक से अधिक चालू खाते में 1 करोड़ से अधिक की राशि जमा कराई हो.
  • खुद या किसी अन्य शख्स की विदेशी यात्रा के लिए दो लाख रुपये से अधिक खर्च (इनकर्ड) किए हों.
  • इलेक्ट्रिसिटी बिल के भुगतान के तौर पर 1 लाख से अधिक का भुगतान (इनकर्ड) किया हो.

एसेट्स और लाइबिलिटीज की जानकारी देना कितना जरूरी

अगर किसी इंडिविजुअल या एचयूएफ की टैक्सेबल इनकम 50 लाख से अधिक हो जाती है तो वर्ष के अंत में उन्हें एसेट्स और लाइबिलिटीज की जानकारी देना जरूरी है. शेड्यूल एएल के तहत यह जानकारी सिर्फ आईटीआर-2 और आईटीआर-3 में भरी जा सकती है, इसलिए जिन इंडिविजुअल या एचयूएफ के लिए इनकी जानकारी देना अनिवार्य है, उन्हें आईटीआर-2 और आईटीआर-3 में रिटर्न भरना होगा.

इस शेड्यूल के तहत 50 लाख से अधिक की आय होने पर अचल संपत्ति, गहने, गाड़ियों की कीमत, शेयर, बैंक और कैश बैलेंस की जानकारी देनी होगी. इसके अलावा टैक्सपेयर को अचल संपत्ति की के पते और चल सपंत्ति के बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध करानी होगी.
टैक्समैनडॉटकॉम के डीजीएम नवीन वाधवा के मुताबिक अगर टैक्सपेयर ने सेक्शन 49 (1) के तहत कोई उपहार या अन्य चीजें विरासत में पाई हैं तो उसकी कीमत का आकलन उसके बाजार भाव के आधार पर होगा.

कुछ टैक्सपेयर्स के लिए ऑनलाइन रिटर्न भरना अनिवार्य

एसेसमेंट इयर 2020-21 के लिए सभी टैक्सपेयर्स को ऑनलाइन रिटर्न फाइल करना अनिवार्य है. हालांकि सुपर सीनियर सिटीजन को इससे छूट दी गई है. सीनियर सिटीजन ऐसे लोग हैं, जिनकी प्रीवियस इयर 2019-20 में उम्र 80 वर्ष या उससे अधिक हो. इन्हें आईटीआर-1 या आईटीआर-4 फाइल करना होगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. FAQs on ITR Filing: आयकर रिटर्न के बारे में कुछ जरूरी सवालों के जवाब, सरकार ने बढ़ा दी है समयसीमा

Go to Top