मुख्य समाचार:

फार्मा सेक्टर में अभी तो रैली शुरू हुई है; आगे और अच्छे दिनों की उम्मीद, इन शेयरों पर रखें नजर

इस साल अबतक की बात करें तो बीएसई पर हेल्थकेयर इंडेक्स में 46 फीसदी तेजी आई है.

August 11, 2020 7:43 AM
best pharma stocks to invest, pharma sector outlook by experts, pharma sector, invest in pharma stocks, demand growth in pharma sector, pharma companies, pharma stock outperform this year, why investors buying pharma stocks, should you buy pharma stocksइस साल अबतक की बात करें तो बीएसई पर हेल्थकेयर इंडेक्स में 46 फीसदी तेजी आई है.

कोविड-19 संकट के चलते जहां शेयर बाजार में ज्यादातर सेक्टर पर मार पड़ी है, फार्मा सेक्टर में इस साल शानदार ग्रोथ देखने को मिली. करीब 4 साल से अंडरपरफॉर्म रहे इस सेक्टर में अचानक से हलचल बढ़ गई है और निवेशक फार्मा शेयरों में जमकर पैसा लगा रहे हैं. इस साल अबतक की बात करें तो बीएसई पर हेल्थकेयर इंडेक्स में 46 फीसदी तेजी आई है. एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना महामारी संकट के दौर में दवाओं की मांग तेजी से बढ़ी है. कुछ कंपनियां कोविड ड्रग या वैक्सीन या नए ड्रग पर काम कर रही हैं. वहीं, इस दौर में डिफेंसिव माने जाने वाले इन शेयरों की ओर रूझान बढ़ा है. आगे की बात करें तो प्राइसिंग प्रेशर कम होने, डिमांड ग्रोथ बढ़ने, आत्म निर्भर अप्रोच और न्यू लाचिंग से इस सेक्टर के और अच्छे दिन आएंगे.

इस साल इंडेक्स 46% चढ़ा

इंडेक्स                      इस साल ग्रोथ

फार्मा                       46%
आईटी                      18%
आटो                       -7%
बैंक                         -32%
मेटल                     -18%
रियल्टी                  -28%
पावर                      -19%
फाइनेंस                 -27%
पीएसयू                  -28%
कैपिटल गुड्स        -21%
कंज्यूमर                 -11%

टॉप गेनर्स में फार्मा शेयरों का जोर

इस साल की बात करें तो BSE 100 के टॉप गेनर्स में सबसे ज्यादा हेल्थकेयर सेक्टर से जुड़े शेयर हैं. इस साल अबतक अरबिंदो फार्मा में 108 फीसदी, डिवाइस लैब में 69 फीसदी, सिप्ला में 66 फीसदी, डॉ रेड्डी में 63 फीसदी, बायोकॉन में 40 फीसदी, सनफार्मा में 25 फीसदी और ल्यूपिन में 25 फीसदी तेजी रही है. ये सभी शेयर BSE 100 के टॉप 12 गेनर्स में शामिल हैं.

आगे आएंगे और अच्छे दिन

फॉर्चून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का कहना है कि फार्मा सेक्टर करीब 3.5 साल से अंडरपरफॉर्मर बना हुआ था. घरेलू और ग्लोबल मार्केट में रेगुलेटरी उपायों की वजह से ही इस सेक्टर पर दबाव बना हुआ था. लेकिन भारतीय फार्मा कंपनियां बेहद मजबूत हैं. लंबे दबाव के बाद वे सर्वाइव कर चुकी हैं. अब कोविड संकट में इन कंपनियों के प्रोडक्ट की मांग घरेलू और विदेशी बाजारों में जमकर बढ़ी है. इससे आने वाले दिनों में कॉरपोरेट अर्निंग सुधरने की उम्मीद है. अब रेगुलेटरी संबंधित दिक्कतें कम हो रही है. यूएस में प्राइसिंग प्रेशर कम हुआ है. आत्म निर्भर भारत के तहत गवर्नमेंट का इस सेक्टर को सपोर्ट मिल रहा है. वहीं अच्छी खासी रैली के बाद भी कई फार्मा शेयरों का वैल्युएशन बेहतर दिख रहा है.

उनका कहना है कि कोविड महामारी लंबे समय तक चलने वाली है. वहीं, इसके चलते अब हेल्थ को लेकर लोगों में जागरूकता बढ़ी है. हल्के फुल्के बुखार या वायरल में भी लोग डॉक्टर की सलाह पर दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं. इम्यूनिटी बढ़ाने वाली दवाओं का इस्तेमाल बढ़ रहा है. मौजूदा दौर में बायोकॉन और कैडिला जैसी कंपनियां नए ड्रग और वैक्सीन पर काम कर रही हैं. आगे और भी कंपनियां इस रेस में आने वाली हैं. ऐसे में इस सेक्टर के अच्छे दिन आगे दिख रहे हैं. मौजूदा रैली के बाद भी बहुत से शेयर अच्छे वेल्युएशन पर हैं.

FY 2020-2023 तक डबल डिजिट में ग्रोथ

रेटिंग एजेंसी ICRA का भी मानना है कि इस वित्त वर्ष में भले ही फार्मा सेक्टर की ग्रोथ 4 से 6 फीसदी रहे, FY 2020-2023 तक देखें तो इस सेक्टर को 8-11 फीसदी CAGR के हिसाब से ग्रोथ मिल सकती है. डोमेसिटक मार्केट में डिमांड हेल्दी है. प्राइसिंग प्रेशर अब मॉडरेट हुआ है. कई प्रोडक्ट पाइपलाइन में हैं. कंपनियों का मार्केट शेयर बढ़ रहा है. डिमांड आउटलुक मजबूत है. ऐसे में इस सेक्टर में आगे अच्छी ग्रोथ दिखने वाली है.

APIs: आयात पर कम होगी निर्भरता

सरकार की योजना है कि आत्म निर्भर भारत के तहत दवाओं के लिए इस्तेमाल होने वाले जरूरी इनग्रेडिएंट्स पर आयात संबंधी निर्भरता कम की जाएगी. इसके लोकल मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा मिलेगा. इससे फार्मा कंपनियों को समय पर और आसानी से जरूरी इनग्रेडिएंट उपलब्ध होंगे.

इन शेयरों पर रखें नजर

जगदीश इक्कर ने सनफार्मा, ग्लेनमार्क, डॉ रेड्डी, अलेंबिक फार्मा, कैडिला में निवेश की सलाह दी है तो ICICI डायरेकट ने ल्यूपिन, कैडिला, सनफार्मा, सिप्ला और डिवाइस लैब में निवेश की सलाह दी है. दोलत कैपिटल ने सनफार्मा में निवेश की सलाह दी है. प्रभुदास लीलाधर ने ल्यूपिन में निवेश की सलाह दी है.

(डिस्क्लेमर: हमने यहां जानकारी एक्सपर्ट से बातचीत और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट पर दी है. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. फार्मा सेक्टर में अभी तो रैली शुरू हुई है; आगे और अच्छे दिनों की उम्मीद, इन शेयरों पर रखें नजर

Go to Top