scorecardresearch

भारतीय विज्ञापन इंडस्ट्री की आमदनी 16% बढ़ने का अनुमान, टीवी को पछाड़ सकता है डिजिटल प्लेटफॉर्म

Indian Advertisement Industry: टीवी की तुलना में डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ऐड का खर्च दोगुना तेजी से बढ़ सकता है.

भारतीय विज्ञापन इंडस्ट्री की आमदनी 16% बढ़ने का अनुमान, टीवी को पछाड़ सकता है डिजिटल प्लेटफॉर्म
भारतीय विज्ञापन इंडस्ट्री दुनिया भर में तेजी से बढ़ता बाजार बन रहा है. (Image- Pixabay)

Indian Advertisement Industry: भारतीय विज्ञापन इंडस्ट्री दुनिया भर में तेजी से बढ़ता बाजार बन रहा है. इस साल वर्ष 2022 में इंडस्ट्री की आय में 16 फीसदी की बढ़ोतरी का अनुमान है. डेट्सू ग्लोबल की रिपोर्ट के मुताबिक इस साल भारतीय विज्ञापन उद्योग की आय 16 फीसदी बढ़कर 1110 करोड़ डॉलर (88,639 करोड़ रुपये) पर पहुंच सकती है. ऐड पर खर्च को लेकर एस्टीमेट पर इस महीने जुलाई 2022 की रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है.

Adani Ports ने इजराइल में भी गाड़ा झंडा, ऐतिहासिक हाइफा पोर्ट के निजीकरण के लिए लगाई सबसे बड़ी बोली

इनके विज्ञापन में हो रही बढ़ोतरी

इस रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना महामारी के चलते लगाए गए लॉकडाउन और रिस्ट्रिक्शंस के हटने से ट्रैवल और होटल इंडस्ट्री फिर से खुल गए हैं और वे अब विज्ञापन पर खर्च भी करने लगे हैं. इसके अलावा नेटफ्लिक्स, हॉटस्टार और अमेजन प्राइम जैसे ओटीटी (ओवर-द-टॉप) प्लेटफॉर्मों पर टेक्निकल एजुकेशन, फिनेटक, गेमिंग और क्रिप्टो करेंसी जैसी कंपनियों के विज्ञापन में भी बढ़ोतरी हुई है.

Indian Railway News: मोदी सरकार ने नई रेल लाइन को दी मंजूरी, इन तीन धार्मिक स्थलों तक आने-जाने में होगी आसानी

टीवी पर इस साल अभी तक आए सबसे अधिक विज्ञापन

रिपोर्ट के अनुसार इस साल अभी तक जितने विज्ञापन आए हैं, उनमें डिजिटल क्षेत्र की हिस्सेदारी 33.4 फीसदी रही. सबसे अधिक हिस्सेदारी टीवी की रही जिसकी कुल विज्ञापन में हिस्सेदारी 41.8 फीसदी रही. टेलीविजन पर कंटेंट और आईपीएल जैसे स्पोर्ट्स प्रोग्राम के चलते टीवी पर विज्ञापनों की संख्या बढ़ी है. हालांकि अब रिपोर्ट में अनुमान व्यक्त किया है कि टीवी की तुलना में डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ऐड का खर्च दोगुना तेजी से बढ़ सकता है.

Monkeypox in India: केरल के पांच जिलों में विशेष अलर्ट जारी, मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आने पर लिया फैसला

सबसे अधिक खर्च अमेरिका में लेकिन ग्रोथ भारत की तेज

इस साल 2022 में विज्ञापनों पर खर्च करने के मामले में अमेरिका सबसे आगे रहेगा. अमेरिका में इस साल विज्ञापनों पर 33 हजार करोड़ डॉलर (26.33 लाख करोड़ रुपये) खर्च होंगे. इसके अलावा खर्च में 13.1 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ यह सबसे अधिक डायनमिक रीजन होगा. हालांकि सालावा ग्रोथ के मामले में भारत टॉप पर रह सकता है. रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि भारत में विज्ञापनों पर खर्च सालाना आधार पर 16 फीसदी की दर से बढ़ सकता है जबकि अमेरिका में यह 12.8 फीसदी और ब्राजील में 9 फीसदी की दर से बढ़ेगा. ग्रोथ का यह आकलन ओटीटी, कनेक्टेड टीवी, ऑनलाइन गेमिंग और ई-कॉमर्स में किया गया है.

(इनपुट: पीटीआई)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News