मुख्य समाचार:

दिवाली से दिवाली: 100 टॉप कंपनियों के शेयरों ने दिया 67% तक रिटर्न, क्या आपने किया है निवेश?

शेयर बाजार ऐसी जगह है, जहां अगर सही निवेश की पहचान हो तो कम से कम समय में आपका पैसा निवेश के दूसरे विकल्पों की तुलना में कई गुना ज्यादा बढ़ सकता है.

November 6, 2018 3:55 PM
diwali to diwali, stocks return, top performers, investors become wealthy, nifty 100, stock marketशेयर बाजार ऐसी जगह है, जहां अगर सही निवेश की पहचान हो तो कम से कम समय में आपका पैसा निवेश के दूसरे विकल्पों की तुलना में कई गुना ज्यादा बढ़ सकता है.

शेयर बाजार ऐसी जगह है, जहां अगर सही निवेश की पहचान हो तो कम से कम समय में आपका पैसा निवेश के दूसरे विकल्पों की तुलना में कई गुना ज्यादा बढ़ सकता है. पिछली दिवाली से अबतक शेयर बाजार में रिटन के आंकड़े देखें तो यह साफ भी हो जाता है. उतार-चढ़ाव के बीच भले ही सेंसेक्स में महज 7 फीसदी और निफ्टी में फ्लैट रिटर्न मिला, लेकिन कुछ शेयरों ने निवेशकों को मालामाल कर दिया. निफ्टी 100 इंडेक्स यानी टॉप 100 कंपनियों की बात करें तो एक साल में इन कंपनियों ने 67 फीसदी तक रिटर्न दिया है.

सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले 10 शेयर

स्टॉक                             रिटर्न

बॉयोकॉन                      67%
टेक महिंद्रा                    52%
TCS                             46%
इंफोसिस                      43%
टाइटन                         42%
JSW स्टील                   40%
HUL                           30%
बजाज फाइनेंस             29%
पिडिलाइट                    28%
हॉवेल्स                          20%

Top 5

बॉयोकॉन
रिटर्न: 67 फीसदी

बॉयोकॉन का मार्केट कैप करीब 38000 करोड़ रुपये है. 19 अक्टूबर 2017 को शेयर 377 रुपये के भाव पर था जो 5 नवंबर को 631 रुपये पर बंद हुआ. बॉयोकॉन भारत की बॉयोफॉर्मास्युटिकल कंपनी है. कंपनी जेनेरिक एक्टिव फॉर्मास्युटिकल इनग्रेडिएंट बनाती है, जिसकी बिक्री 120 देशों में होती है. अमेरिका और यूरोप में कंपनी की मजबूत मार्केट है. कंपनी का बिजनेस मुनाफे में है. वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 167 फीसदी बढ़कर 184 करोड़ रुपये हो गया है.

टेक महिंद्रा
रिटर्न: 52 फीसदी

टेक महिंद्रा का मार्केट कैप करीब 68000 करोड़ रुपये है. 19 अक्टूबर 2017 को कंपनी का शेयर 458 रुपये पर था जो 5 नवंबर को 695 रुपये पर पहुंच गया. टेक महिंद्रा भारत की मल्टीनेशनल आईटी कंपनी है. कंपनी आईटी के अलावा नेटवर्किंग टेक्नोलॉजी सल्यूशंस और आउटसोर्सिंग बिजनेस में है. दूसरी तिमाही में टेक महिंद्रा का मुनाफा सालाना आधार पर 30 फीसदी बढ़कर 839 करोड़ रुपये हो गया है. डॉलर रेवेन्यू 3.6 फीसदी बढ़ गया है. कंपनी ने डिजिटाइजेशन पर फोकस बढ़ाया है, जिसका फायदा मिल रहा है.

TCS
रिटर्न: 46 फीसदी

टाटा कंस्लटेंसी सर्विसेज लिमिटेड (TCS) का शेयर 19 अक्टूबर 2017 को 1290 रुपये के भाव पर था जो 5 नवंबर को 1889 रुपये पर बंद हुआ, यानी एक साल में 46 फीसदी ग्रोथ. TCS मार्केट कैप के मामले में देश की सबसे बड़ी कंपनी है, जिसका मार्केट कैप 7.09 लाख करोड़ पये है. आईटी कंपनी TCS का आॅपरेशन 46 देशों में है. वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में कंपनी को 7901 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है. वहीं, TCS को 36854 करोड़ रुपये की आय हुई है. कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 13.9 फीसदी बढ़कर 9771 करोड़ रुपए और डॉलर रेवेन्यू 3.2 फीसदी बढ़कर 520 करोड़ डॉलर रहा है.

इंफोसिस
रिटर्न: 43 फीसदी

इंफोसिस का शेयर 19 अक्टूबर 2017 को 463 रुपये था, जो 5 नवंबर को 663 रुपये पर बंद हुआ, यानी 43 फीसदी ग्रोथ. इंफोसिस देश की दूसरी बड़ी आईटी कंपनी है, जिसका मार्केट कैप 2.89 लाख करोड़ रुपये है. कंपनी बिजनेस कंसल्टिंग, इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और आउटसोर्सिंग सर्विसेज प्रोवाइड कराती है, जिसका कारोबार 60 देशों में है. वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में इंफोसिस को 4110 करोड़ रुपये का मुनाफा और 20609 करोड़ की आय हुई है. कंपनी की डॉलर आय भी 7.1 फीसदी बढ़कर 292 करोड़ डॉलर रही है. डिजिटल कारोबार में 13.5 फीसदी का उछाल रहा है. रिटेल कारोबार 4.9 फीसदी बढ़ा है.

JSW स्टील
रिटर्न: 40 फीसदी

JSW स्टील स्टील बनाने वाली लीडिंग कंपनी है. कंपनी का शेयर 19 अक्टूबर 2017 को 254 रुपये के भाव पर था जो 5 नवंबर को 354 रुपये के भाव पर बंद हुआ. यानी इस दौरान करीब 40 फीसदी ग्रोथ रही है. कंपनी का मार्केट कैप 85000 करोड़ रुपये से ज्यादा है. वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में JSW स्टील का मुनाफा 2.5 गुना बढ़कर 2,087 करोड़ रुपये हो गया है.जबकि आय 27.5 फीसदी बढ़कर 21,552 करोड़ रुपये रही है.

किन शेयरों में आगे भी मिल सकता है रिटर्न

TCS में ब्रोकरेज हाउस शेयरखान ने 2400 रुपये का लक्ष्य रखा है, जबकि करंट प्राइस 1889 रुपये है. इंफोसिस में ब्रोकरेज हाउस प्रभुदास लीलाधर ने 790 रुपये का लक्ष्य रखा है. जबकि करंट प्राइस 663 रुपये है. JSW स्टील में ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने 444 रुपये का लक्ष्य रखा है, जबकि करंट प्राइस 353 रुपये है. एचयूएल में ब्रोकरेज हाउस ICICI डायरेक्ट ने 1800 रुपये का लक्ष्य रखा है, जबकि करंट प्राइस 1638 रुपये है.

(नोट: यह रिपोर्ट बीएसई पर शेयर बाजार के प्रदर्शन के आधार पर बनाई गई है. वहीं शेयर में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस द्वारा दी गई है. शेयर बाजार के अपने जोखिम है, निवेश से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. दिवाली से दिवाली: 100 टॉप कंपनियों के शेयरों ने दिया 67% तक रिटर्न, क्या आपने किया है निवेश?

Go to Top