scorecardresearch

इन 4 फार्मा शेयरों में आने वाली है तेजी! 1 साल में मिल सकता है 47% तक रिटर्न, लिस्ट में ये हैं शामिल

फार्मा सेक्टर में कई चुनौतियों की वजह से इनसे जुड़े शेयरों में या तो कमजोरी रही है या उनके भाव रेंज में फंसे हैं. निफ्टी फरार्मा इंडेक्स 1 साल में करीब 15 फीसदी कमजोर हुआ है.

इन 4 फार्मा शेयरों में आने वाली है तेजी! 1 साल में मिल सकता है 47% तक रिटर्न, लिस्ट में ये हैं शामिल
कोविड 19 के पहले और दूसरे दौर में फार्मा कंपनियों ने अवसरों का जमकर लाभ उठाया. (image: pixabay)

Best Pharma Stocks to Invest: कोविड 19 के पहले और दूसरे दौर के दौरान फार्मा कंपनियों ने ग्लोबल अवसरों का जमकर लाभ उठाया. लेकिन यह दौर खत्म होने के बाद से फार्मा सेक्टर पर दबाव देखने को मिला है. सेक्टर में कई चुनौतियों की वजह से इनसे जुड़े शेयरों में या तो कमजोरी रही है या उनके भाव रेंज में फंसे हैं. निफ्टी फरार्मा इंडेक्स 1 साल में करीब 15 फीसदी कमजोर हुआ है. यूएस में प्राइस कट, बढ़ रही प्रतियोगिता, सख्त ड्रग रेगुलेटरी उपायों और कोविड 19 से जुड़े अवसर घटने का भी असर सेक्टर पर पड़ा है. हालांकि यूएस बेस्ड और डोमेस्टिक मार्केट पर फोकस करने वाली कुछ कंपनियों में अर्निंग पोटेंशियल देखने को मिल रहा है. आगे कुछ फार्मा शेयर बेहतर रिटर्न देने की क्षमता रखते हैं.

यूएस मार्केट फोकस्ड कंपनियों के लिए

कोविड 19 महामारी के बाद फार्मास्युटिकल सेक्टर के लिए वित्त वर्ष 2022 मिला जुला रहा है. इस दौरान 3 ओवरचेजिंग थीम फोकस में रहे. पहला कोविड19 से जुड़े मौकों में कमी आई, दूसरा इंडस्ट्री स्पेसिफिक स्ट्रक्चरल इश्यू रहे मसलन यूएस में प्राइस इरोजन, इन्वेंट्री डीलॉकिंग. तीसरा प्रतिकूल ग्लोबल मैक्रो डिफलेटर्स मसलन हायर इनपुट, माल ढुलाई और बिजली की लागत और कोविड19 और जियोपॉजिटिकल टेंशन के कारण सप्लाई चेन से जुड़ी चुनौतियां.

M&M का शेयर 1 साल के हाई पर, दिग्गज ब्रोकरेज ने शेयर पर लगाया दांव, Scorpio-N से बिजनेस को मिलेगा बूस्ट

CRAMS और ब्रॉन्डेड घरेलू फॉर्मूलेशन जैसे फार्मास्युटिकल स्पेस में अर्निंग पोटेंशियल बना हुआ है. ब्रॉन्डेड स्पेस में डाइवर्सिफाइड जियोपॉलिटिकल प्रेजेंस वाली कंपनियों और कॉम्पलेक्स नेचर के पोर्टफोलियो (स्पेशिएलिटी, बायोसिमिलर, इंजेक्टेबल और सीमित प्रतिस्पर्धा के साथ कॉम्पलेक्स जेनरिक) के साथ US बेस्ड चुनिंदा फार्मा कंपनियां कंफर्ट पोजिशन में दिख रही हैं.

डोमेस्टिक मार्केट बेस्ड कंपनियों के लिए

डोमेस्टिक फॉर्मूलेशन वाली कंपनियों की बात करें तो लॉकडाउन और लिमिटेड MR एक्टिविटीज/क्लिनिक में रोगियों की संख्या के दौरान, अधिकांश कंपनियों ने कोविड से संबंधित अवसरों पर फोकस किया था. जैसे ही स्थिति नॉर्मल होने लगी डिजिटल ड्राइव, नए प्रोडक्ट की शुरूआत जैसे इनिशिएटिव के जरिए नॉर्मल एक्टिविटीज पर कंपनियों ने फोकस किया. डोमेस्टिक फोकस्ड कंपनियों में मार्केट लीडर Sun Pharma सहित कई कंपनियों ने अनटैप्ड थेरेपी एरिया पर फोकस करने के लिए MR भर्ती अभियान को बढ़ाया है.

क्या हैं रिस्क फैक्टर

पहले रिस्क फैक्टर की बात करें तो यूएस में लगातार कीमतों में कमी और सेक्टर में उम्मीद से ज्यादा प्रतियोगिता का बढ़ना है. दूसरा APIs के लिए हायर इनपुट कास्ट और जेनेरिक APIs में कमजोर डिमांड रिवाइल. तीसरा USFDA से कुछ कंपनियों के प्लांट विजिट के बाद निगेटिव आउटकम. चौथा CRAMS के लिए मजबूत आर्डरबुक के बाद भी सप्लाई चेन इश्यू

ब्रोकरेज हाउस की टॉप पिक्स

Divi’s Lab
रेटिंग: BUY
टारगेट: 4655 रुपये
रिटर्न: 27%

Laurus Labs
रेटिंग: BUY
टारगेट: 690 रुपये
रिटर्न: 47%

Sun Pharma
रेटिंग: BUY
टारगेट: 1070 रुपये
रिटर्न: 27%

Cipla
रेटिंग: BUY
टारगेट: 1095 रुपये
रिटर्न: 16%

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News