सर्वाधिक पढ़ी गईं

इन बैंकों में फंसी 5 लाख तक की जमापूंजी मिलेगी वापस; जानिए कैसे, कब और कहां करना होगा क्लेम

नए नियमों के तहत किसी इंश्योर्ड बैंक के डूबने पर उसके जमाकर्ताओं को 5 लाख रुपये तक की रकम Deposit Insurance and Credit Guarantee Corporation (DICGC) अदा करेगा.

September 23, 2021 9:09 AM
DICGC to pay upto Rs 5 lakh to these account holders check full list of banks last date to file claimकिसी बैंक के फेल होने पर 5 लाख रुपये की जमा-पूंजी इंश्योर्ड होती है यानी कि 5 लाख रुपये तक के पैसे बैंक ग्राहकों को वापस मिलेंगे.

अगर आपकी जमा-पूंजी बैंकों में फंस गई है तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है. अगर आपके पैसे बैंकों में फंसे हैं तो आपको एक तय फॉर्मेट में क्लेम सबमिट करना होगा और फिर डीआईसीजीसी (एमेंडमेंट) एक्ट, 2021 के सेक्शन 18 ए के तहत पैसे वापस मिलेंगे. जिन खाताधारकों को बैंक में फंसे पैसे वापस लेने हैं, उन्हें जल्द से जल्द बैंकों के पास अपना फॉर्मेट सबमिट कर देना है ताकि बैंक 15 अक्टूबर 2021 तक तैयार सूची में उनका नाम शामिल कर सकें.

डीआईसीजीसी (एमेंडमेंट) एक्ट, 2021 के मुताबिक ऑल इंक्लूसिव डायरेक्शंस (AID) के तहत बीमित बैंकों के खाताधारकों को डीआईसीजीसी पैसे लौटाएगा. हालांकि खाताधारकों को 90 दिन के भीतर अधिकतम 5 लाख रुपये तक की जमा-पूंजी ही मिलेगी. यह संशोधित एक्ट एक सितंबर से प्रभावी हो चुका है जिसे 27 अगस्त 2021 को अधिसूचित किया गया था और यह डीआईसीजीसी एक्टर 1961 के तहत बीमित बैंकों के लिए है.

Life Insurance Policy खरीदने से पहले ही कर लें यह गुणा-गणित, मेच्योरिटी अमाउंट पर टैक्स बचाने में मिलेगी मदद

एआईडी के तहत रखे गए बैंकों की सूची

  1. अडूर को-ऑपरेटिव अर्बन बैंक लिमिटेड केरल
  2. बीदर महिला अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड कर्नाटक
  3. सिटी को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  4. हिंदू को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड पठानकोट पंजाब
  5. कपोल को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  6. मराठा सहकारी बैंक लिमिटेड मुंबई महाराष्ट्र
  7. मिल्लाठ को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड कर्नाटक
  8. नीड्स ऑफ लाइफ को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  9. पद्मश्री डॉ विट्ठल राव विखे पाटिल महाराष्ट्र
  10. पीपुल्स को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड कानपुर उत्तर प्रदेश
  11. पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  12. रूपी को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  13. श्री आनंद को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड पुणे महाराष्ट्र
  14. सीकर अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड राजस्थान
  15. श्री गुरुराघवेंद्र सहकारी बैंक नियामिठ कर्नाटक
  16. मुधोल को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड कर्नाटक
  17. मांठा को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  18. सरजेरावडाडा नाइक शिरला सहकारी बैंक लिमिटेड महाराष्ट्र
  19. इंडेपेंडेंस को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड नासिक महाराष्ट्र
  20. दक्कन अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड विजयपुर कर्नाटक
  21. गरहा को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड गुना मध्य प्रदेश

29 दिसंबर तक पैसे मिलेंगे वापस

बैंकों को 15 अक्टूबर 2021 तक क्लेम लिस्ट सबमिट करने को कहा गया है यानी कि जिन लोगों के पैसे फंसे हैं, उन्हें इससे पहले ही अपना दावा पेश कर देना है. बैंकों को मूल व ब्याज के साथ अगले 45 दिन यानी 29 नवंबर 2021 तक इसका वेरिफिकेशन व सेटलमेंट पर स्टेटस को अपडेट करना होगा. इसके बाद इसे 30 दिनों के भीतर यानी 29 दिसंबर 2021 तक भुगतान कर देना है. बता दें कि किसी बैंक के फेल होने पर 5 लाख रुपये की जमा-पूंजी इंश्योर्ड होती है यानी कि 5 लाख रुपये तक के पैसे बैंक ग्राहकों को वापस मिलेंगे. हालांकि यह इंश्योरेंस प्रति बैंक प्रति ग्राहक के आधार पर है यानी कि एक बैंक की कई शाखाओं में खाता है तो सभी खातों में जमा पैसों को मिलाकर 5 लाख रुपये तक की राशि इंश्योर्ड रहती है.
(आर्टिकल: सुनील धवन)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. इन बैंकों में फंसी 5 लाख तक की जमापूंजी मिलेगी वापस; जानिए कैसे, कब और कहां करना होगा क्लेम

Go to Top