मुख्य समाचार:

HDFC बैंक को FDI से अतिरिक्त 24,000 करोड़ रुपये जुटाने की मंजूरी, विदेशी हिस्सेदारी 74 फीसदी पहुंची

फिलहाल बैंक में विदेशी हिस्सेदारी 72.62 प्रतिशत है. रिजर्व बैंक के दिशानिर्देश के अनुसार भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में विदेशी हिस्सेदारी 74 प्रतिशत से अधिक नहीं हो सकती.

Updated: Jun 14, 2018 10:41 AM
फिलहाल बैंक में विदेशी हिस्सेदारी 72.62 प्रतिशत है. (REUTERS)

सरकार ने एचडीएफसी बैंक को कारोबार के विस्तार की जरूरत के लिए विदेशी निवेशकों को हिस्सेदारी बेचकर 24,000 करोड़ रुपये की अतरिक्त पूंजी जुटाने की आज मंजूरी दे दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक के बाद वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इसमें पहले स्वीकृत एफडीआई की सीमा के ऊपर प्रीमियम भी शामिल है. पहले 10,000 करोड़ रुपये की एफडीआई की मंजूरी दी गयी थी और शर्त थी कि बैंक में कुल मिलाकर विदेशी हिस्सेदारी बढ़ी हुई चुकता पूंजी के 74 प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि इस अतिरिक्त विदेशी शेयर पूंजी के साथ बैंक में कुल विदेशी हिस्सेदारी 74 प्रतिशत हो जाएगी.

फिलहाल बैंक में विदेशी हिस्सेदारी 72.62 प्रतिशत है. रिजर्व बैंक के दिशानिर्देश के अनुसार भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में विदेशी हिस्सेदारी 74 प्रतिशत से अधिक नहीं हो सकती. मंत्री ने कहा कि इस निर्णय से यह सुनिश्चित होगा कि बैंक में विदेशी बैंक में सभी प्रकार के विदेशी निवेश बढ़ी हुई चुकता शेयर पूंजी का 74 प्रतिशत से अधिक नहीं होगा. यह प्रत्यक्ष विदेश निवेश नीति तथा अन्य नियामकों की शर्तों पर निर्भर करेगा. प्रस्तावित निवेश से बैंक की पूंजी पर्याप्तता अनुपात बढ़ेगा. इन अतिरिक्त 24,000 करोड़ रुपये में से 8,500 करोड़ रुपये बैंक के प्रवर्तक एचडीएफसी लि. को वरीयता के आधार पर आबंटित करने का प्रस्ताव है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. HDFC बैंक को FDI से अतिरिक्त 24,000 करोड़ रुपये जुटाने की मंजूरी, विदेशी हिस्सेदारी 74 फीसदी पहुंची

Go to Top