मुख्य समाचार:

Defaulters की आयी शामत: SBI और PNB 1063 करोड़ की संपत्ति करेगा नीलाम

सार्वजनिक क्षेत्र के सभी 21 बैंकों का सकल फंसा कर्ज 7.33 लाख करोड़ रुपये से अधिक पहुंच गया. इसमें एसबीआई का सर्वाधिक 2.01 लाख करोड़ रुपये फंसा कर्ज है.

Published: April 9, 2018 11:03 AM
state bank of india, punjab national bank, idbi bank, union bank of india, npa, banks npa, business news in hindiसार्वजनिक क्षेत्र के सभी 21 बैंकों का सकल फंसा कर्ज 7.33 लाख करोड़ रुपये से अधिक पहुंच गया. इसमें एसबीआई का सर्वाधिक 2.01 लाख करोड़ रुपये फंसा कर्ज है.

एसबीआई और पंजाब नेशनल बैंक ने 15 खातों में फंसा 1,063 करोड़ रुपये का कर्ज बेचने की पेशकश की है. दोनों बैंकों ने कहा कि वह इस महीने की 20 तारीख को इस कर्ज की ई – नीलामी करेंगे. एसबीआई ने 848.54 करोड़ रुपये मूल्य के 12 खातों को बिक्री के लिये रखा है.  देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने कहा , ‘‘… हम इन खातों को संपत्ति पुनर्गठन कंपनियों (एआरसी ) : बैंकों : गैर-बैंकिंग  वित्तीय कंपनियों : वित्तीय संस्थानों के समक्ष बिक्री के लिये रखेंगे.’’ इन खातों में सूरत की गार्डेन सिल्क मिल्स के ऊपर सर्वाधिक 225.06 करोड़ रुपये , कोरबा वेस्ट पावर कंपनी (गुड़गांव ) 124.78 करोड़ रुपये , मोडर्न स्टील्स (चंडीगढ़ ) 122.61 करोड़ रुपये तथा एसएनएस स्टार्च (सिकंदराबाद ) 66.87 करोड़ रुपये शामिल हैं.

अन्य एनपीए खाते लेंटविड श्रीराम मैनुफैक्चरिंग प्राइवेट लि . (64.95 करोड़ रुपये ), यू निजुल्स लाइफ साइसेंस (59.25 करोड़ रुपये ), स्कैनिया स्टील्स एंड पावर (42.42 करोड़ रुपये ), केएसएम स्पाइंनिग मिल्स (40.42 करोड़ रुपये ), मोडर्न डेयरीज (39.93 करोड़ रुपये ), अस्मिता पेपर्स (37.23 करोड़ रुपये ), फोरेल लैब्स (22.86 करोड़ रुपये ) तथा जयपुर मेटल एंड इलेक्ट्रिकल्स (2.16 करोड़ रुपये ) शामिल हैं.

पीएनबी एआरसी के लिये तीन एनपीए खातों की पेशकश करेगा. इन खातों पर 214.45 करोड़ रुपये का बकाया है. ये तीन खाते श्री सिद्धबाली इस्पात लि . ( मेरठ ) (165.30 करोड़ रुपये ), श्री गुरूप्रभा पावर लि . ( चेन्नई ) (31.52 करोड़ रुपये ) तथा धर्मनाथ इनवेस्टमेंट ( मुंबई ) (17.63 करोड़ रुपये ) हैं.

सार्वजनिक क्षेत्र के सभी 21 बैंकों का सकल फंसा कर्ज 7.33 लाख करोड़ रुपये से अधिक पहुंच गया. इसमें एसबीआई का सर्वाधिक 2.01 लाख करोड़ रुपये फंसा कर्ज है. इसके बाद पीएनबी का 55,200 करोड़ रुपये, आईडीबीआई बैंक का 44,542 करोड़ रुपये और यूनियन बैंक आफ इंडिया का 38,047 करोड़ रुपये का कर्ज फंसा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Defaulters की आयी शामत: SBI और PNB 1063 करोड़ की संपत्ति करेगा नीलाम

Go to Top