सर्वाधिक पढ़ी गईं

फिर बढ़ेंगे पेट्रोल और डीजल के दाम! OPEC के इस फैसले से क्रूड में जोरदार तेजी, ब्रेंट 67 डॉलर के पार

Crude Prices Surge: ओपेक प्लस (OPEC) देशों की गुरुवार को हुई बैठक में क्रूड ऑयल प्रोडक्शन बढ़ाने पर मुहर नहीं लग पाई है.

March 5, 2021 10:21 AM
Crude Prices SurgedCrude Prices Surge: ओपेक प्लस (OPEC) देशों की गुरुवार को हुई बैठक में क्रूड ऑयल प्रोडक्शन बढ़ाने पर मुहर नहीं लग पाई है.

Crude Prices Surge: इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल (Crude) की कीमतों में फिर जोरदार तेजी देखने को मिल रही है. गुरूवार को क्रूड आयल में 2 साल की सबसे बड़ी तेजी रही. ब्रेंट क्रूड करीब 4.8 फीसदी बढ़कर 67 डॉलर प्रति बैरल का स्तर पार चला गया. आज यह 67.50 डॉलर तक मजबूत हुआ. ​वहीं WTI क्रूड भी 4.2 फीसदी बढ़कर 63.83 डॉलर प्रति बैरल तक मजबूत हुआ. असल में ओपेक प्लस (OPEC) देशों की गुरुवार को हुई बैठक में क्रूड ऑयल प्रोडक्शन बढ़ाने पर मुहर नहीं लग पाई है. इस खबर के बाद कच्चे तेल की कीमतों में जोरदार तेजी आई है. एक्सपर्ट का कहना है कि क्रूड में और तेजी बढ़ सकती है, जिससे पेट्रोल और डीजल के सस्ता होने का इंतजार और बढ़ सकता है. फिलहाल शुक्रवार 5 मार्च को पेट्रोल और डीजल में कोई बदलाव नहीं हुआ है. दिल्ली में पेट्रोल 91.17 रुपये और डीजल 81.47 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा.

वर्तमान स्तर को बनाए रखने का फैसला

क्रूड ऑयल का प्रोडक्शन और एक्सपोर्ट करने वाले देश ओपेक और उसके सहयोगी देशों ने तेल उत्पादन में कटौतियों के अपने-अपने वर्तमान स्तर को करीब-करीब बनाए रखने का फैसला किया है. न्यूज एजेंसी के मुताबिक उनका यह फैसला ऐसे समय आया है जबकि कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के संक्रमण के चलते आर्थिक गतिविधियां कमजोर बने रहने की चिंता बरकरार है. रिपोर्ट के मुताबिक सऊदी अरब की अगुवाई में ओपेक देशों और रूस के लीडरशिप में ओपेक के सहयोगी तेल उत्पादक देशों की ऑनलाइन मीटिंग में तेल उत्पादन में कटौती की वर्तमान सहमति को बनाए रखा गया.

इसमें सबसे खास बात यह है कि दुनिया का सबसे बड़ा तेल उत्पादक सऊदी अरब रोजाना दस लाख बैरल की कटौती कम से कम अप्रैल तक जारी रखेगा. ताजा करार के तहत रुस और कजाकिस्तान तेल का उत्पादन थोड़ा बढ़ा सकते हैं. बता दें कि माना जा रहा था कि ओपक और उसके सहयोगियों की तरफ से उत्पादन में बढ़ोत्तरी का फैसला किया जा सकता है. फिलहाल अमेरिकी बाजार में कच्चे तेल का वायदा भाव कल 5.6 फीसदी उछलकर 64.70 डॉलर प्रति बैरल पर चला गया. रूस के उप प्रधानमंत्री एलेक्जेंडर नोवाक ने ‘सतर्कता के साथ उम्मीद जताई’ के कच्चे तेल के बाजार में स्थिरता आ रही है.

क्रूड और हो सकता है महंगा

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट, रिसर्च, अनुज गुप्ता का कहना है कि ओपेक देशों के इस फैसले से क्रूड की कीमतों को सपोर्ट मिल रहा है. क्रूड में तेजी कुछ आगे तक जारी रह सकती है. उन्होंने इस महीने ब्रेंट क्रूड में 70 डॉलर प्रति बैरल तक की तेजी का अनुमान जताया है. वहीं WTI क्रूड 67 डॉलर प्रति बैरल तक मजबूत हो सकता है. बता दें कि इस साल 2 महीने में ही क्रूड 30 फीसदी से ज्यादा महंगा हो चुका है. उनका कहना है कि क्रूड में तेजी बढ़ने से शॉर्ट टर्म में फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हो सकता है.

भारत में रिकॉर्ड हाई पर पेट्रोल, डीजल

भारत में इस साल पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रिकॉर्ड तेजी आई है. राजस्थान में नॉर्मल पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार बिक रहा है. ऐसा पहली बार हुआ है जब नॉर्मल पेट्रोल का भाव देश में 100 रुपये के पार गया है. वहीं दिल्ली और मुंबई सहित ज्यादातर शहरों में पेट्रोल और डीजल अपने रिकॉर्ड हाई पर हैं. दिल्ली में पेट्रोल 91 रुपये प्रति लीटर के पार तो डीजल 81 रुपये प्रति लीटर के पार बिक रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. फिर बढ़ेंगे पेट्रोल और डीजल के दाम! OPEC के इस फैसले से क्रूड में जोरदार तेजी, ब्रेंट 67 डॉलर के पार

Go to Top