मुख्य समाचार:

कोरोना के कहर में ‘Old भी नहीं रहे Gold’! सबसे पुरानी म्यूचुअल फंड स्कीम में ऐसे बिगड़ी मुनाफे की गणित

COVID-10 Impact on Oldest Mutual Fund Schemes: कोरोना वायरस ने म्यूचुअल फंड मार्केट में अच्छी से अच्छी स्कीम की भी कमर तोड़ दी है.

April 9, 2020 1:13 PM
COVID-10 Impact on Oldest Mutual Fund Schemes Return, corona virus impact on best mutual fund schemes, mutual fund, best mutual fund schemes, top mutual fund, old is gold in mutual fundCOVID-19 Impact: कोरोना वायरस ने म्यूचुअल फंड मार्केट में अच्छी से अच्छी स्कीम की भी कमर तोड़ दी है.

COVID-19 Impact on Oldest Mutual Fund Schems: कोरोना वायरस ने म्यूचुअल फंड मार्केट में अच्छी से अच्छी स्कीम की भी कमर तोड़ दी है. जिन स्कीमों का लंबे समय से शानदार रिटर्न देने का रिकॉर्ड रहा है, पिछले 12 माह की बात करें तो वे भी रिटर्न चार्ट पर धड़ाम हो चुके हैं. इनमें से भी स्कीमें शामिल हैं, जो म्यूचूअल फंड इंडस्ट्री की सबसे पुरानी स्कीमों में शामिल हैं. एक साल पहले तक जहां 25-25 साल से ये स्कीम 15 से 16 फीसदी तक CAGR के हिसाब से रिटर्न दे रही थीं, पिछले एक साल में इनमें 20 से 25 फीसदी तक की गिरावट आ गई है. यानी म्यूचुअल फंड बाजार में जो स्कीम ओलड इज गोल्ड बनी हुई थीं, फिलहाल पिछले एक साल से वे निवेशकों के लिए गोल्ड साबित नहीं हो रही हैं.

अगर आप म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के सबसे पुराने कुछ म्यूचुअल फंड का रिटर्न देखें तो 1 साल पहले तक ये निवेशकों को मालामाल करती आई हैं. साल 1993 के अंत तक की बात करें तो देश में 9 इक्विटी म्यूचुअल फंड निवेश के लिए मौजूद थे. अगर इनका अबतक का रिटर्न देखें तो इन्होंने लांच के बाद से एक साल पहले तक 16 से 17 फीसदी CAGR तक के हिसाब से रिटर्न दिया है. इनमें UTI मास्टरशेयर फंड, SBI लांग टर्म इक्विटी फंड, SBI मैग्नम इक्विटी ESG फंड, UTI इक्विटी फंड, टाटा लॉर्ज एंड मिडकैप फंड, केनरा रोबेको इक्विटी टैक्स सेवर फंड, फ्रैंकलिन इंडिया ब्लूचिप फंड और फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा फंड शामिल हैं. खस बात है कि इनका रिस्क ग्रेड भी औसत से कम है.

केनरा रोबेको इक्विटी टैक्स सेवर फंड

लांच डेट: 31 मार्च, 1993
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 14.5 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -16.52%
6 माह का रिटर्न: -10.89%
1 साल का रिटर्न: -13.19%

एसेट: 1,036 करोड़
एक्सपेंस रेश्यो: 2.30%

फ्रैंकलिन इंडिया ब्लूचिप फंड

लांच डेट: 1 दिसंबर, 1993
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 19.81 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -26.10%
6 माह का रिटर्न: -19.01%
1 साल का रिटर्न: -26.38%

एसेट: 5,838 करोड़
एक्सपेंस रेश्यो: 1.91%

फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा फंड

लांच डेट: 1 दिसंबर, 1993
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 19.91 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -27.09%
6 माह का रिटर्न: -22.74%
1 साल का रिटर्न: -27.42%

एसेट: 7,475 करोड़
एक्सपेंस रेश्यो: 1.88%

UTI मास्टरशेयर फंड

लांच डेट: 18 अक्टूबर 1986
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 15.62 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -23.90%
6 माह का रिटर्न: -17.44%
1 साल का रिटर्न: -20.63%

एसेट: 6246 करोड़
एक्सपेंस रेश्सो: 1.85%

SBI लांग टर्म इक्विटी फंड पहले SBI मैग्नम टैक्स गेन फंड

लांच डेट: 31 मार्च, 1993
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 15.88 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -24.76%
6 माह का रिटर्न: -18.75%
1 साल का रिटर्न: -25.29%

एसेट: 7,098 करोड़ Cr
एक्सपेंस रेश्यो: 1.99%

SBI मैग्नम इक्विटी ESG फंड

लांच डेट: 1 जनवरी, 1991
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 15 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -27.59%
6 माह का रिटर्न: -22.18%
1 साल का रिटर्न: -21.86%

एसेट: 2,637 करोड़
एक्सपेंस रेश्यो: 2.20%

 

UTI इक्विटी फंड

लांच डेट: 18 मई, 1992
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 12 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -21.83%
6 माह का रिटर्न: -14.50%
1 साल का रिटर्न: -17.39%

एसेट: 10,499 करोड़
एक्सपेंस रेश्यो: 1.81%

टाटा लॉर्ज एंड मिडकैप फंड

लांच डेट: 31 मार्च, 1993
लांच के बाद से 1 साल पहले तक रिटर्न: 12 फीसदी CAGR

3 माह का रिटर्न: -25.43%
6 माह का रिटर्न: -19.40%
1 साल का रिटर्न: -18.56%

एसेट: 1,571 करोड़
एक्सपेंस रेश्यो: 2.24%

(source: फंड के पिछले 3 महीने, 6 महीने और 1 साल के प्रदर्शन के आधार पर जानकारी, आंकड़े value research से भी लिए गए हैं.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना के कहर में ‘Old भी नहीं रहे Gold’! सबसे पुरानी म्यूचुअल फंड स्कीम में ऐसे बिगड़ी मुनाफे की गणित

Go to Top