सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19 की दूसरी लहर से बिगड़ेगा कंपनियों का मुनाफा! इन 21 लॉर्ज और मिडकैप शेयरों पर रखें नजर

Top Largecap & Midcap Idea: कोराना वायरस की दूसरी लहर ने वित्त वर्ष 2022 के लिए अर्निंग के अनुमान को कमजोर किया है.

May 6, 2021 12:56 PM
Top Stocks IdeaTop Stocks Idea: कोराना वायरस की दूसरी लहर ने वित्त वर्ष 2022 के लिए अर्निंग के अनुमान को कमजोर किया है.

Top Largecap & Midcap Idea: कोराना वायरस की दूसरी लहर ने वित्त वर्ष 2022 के लिए अर्निंग के अनुमान को कमजोर किया है. मार्च तिमाही के लिए कंपनियों की अर्निंग अनुमान के मुताबिक है, लेकिन अगर कोरोना वायरस के मामले जल्द कंट्रोल नहीं हुए तो वित्त वर्ष 2022 में कंपनियों के मुनाफे पर निगेटिव असर दिखेगा. कोरोना के चलते कई राज्यों में फिर से लॉकडाउन जैसी स्थिति बनी हुई है, जिससे काम धंधों पर असर पड़ना शुरू हो गया है. इससे एक बार फिर रिकवर हो रही अर्थव्यवस्था के पटरी से उतरने का डर बना हुआ है. फिलहाल इन सबके बीच अप्रैल महीने में मिडकैप और स्मालकैप शेयरों ने आउटपरफॉर्म किया है. ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने बाजार आउटलुक को देखते हुए कुछ लॉर्जकैप और मिडकैप शेयरों पर भरोसा जताया है.

अर्निंग सीजन अनुमान के मुताबिक

रिपोर्ट के अनुसार मार्च तिमाही के लिए अर्निंग सीजन अनुमान के मुताबिक बीत रहा है. अब तक जारी नतीजों की बात करें तो 21 निफ्टी कंपनियों में से 19 के सेल्स/EBITDA/PBT/PAT में सालाना आधार पर 13%/15%/38%/37% ग्रोथ रही है. 6 निफ्टी कंपनियों का PAT अनुमान से बेहतर रहा है. जबकि 8 के अनुमान से कमजोर रहे हैं. EBITDA के फ्रंट पर 3 कंपनियों ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है. 12 का अनुमान के मुताबिक रहा है, जबकि 6 कंपनियों ने अनुमान से कमजोर प्रदर्शन किया है.

अप्रैल में मेटल, हेल्थकेयर और टेलिकॉम टॉप परफॉर्मर

अप्रैल महीने में मेटल, हेल्थकेयर और टेलिकॉम टॉप परफॉर्मर रहे हैं. सेक्टर्स में मेटल में 22 फीसदी, हेल्थकेयर में 10 फीसदी और टेलिकॉम में 4 फीसदी ग्रोथ रही है. जबकि रियल एस्टेट में -7 फीसदी, PSU बैंक में -5 फीसदी, कैपिटल गुड्स में -4 फीसदी और कंज्यूमर में -4 फीसदी गिरावट रही है.

ये शेयर रहे टॉप गेनर्स

अप्रैल महीने में JSW स्टील (+53%), टाटा स्टील (+27%), विप्रो (+19%), डॉ रेड्डीज (+14%), और बजाज फिनसर्व (+14%) टॉप गेनर्स रहे हें. जबकि HCL टेक (-9%), ITC (-7%), आयशर मोटर्स (-7%), अल्ट्राटेक सीमेंट (-7%) और मारुति सुजुकी (-6%) टॉप लूजर्स रहे हें.

M-Cap to GDP रेश्यो 106%

M-Cap to GDP रेश्यो एक साल के हाई पर है. अभी यह 106 फीसदी पर आ गया. यह लांग टर्म एवरेज से ज्यादा है. पिछले दिनों इसमें उतार चढ़ाव देखने को मिला. वित्त वर्ष 2019 के अंत तक यानी मार्च 2019 में यह 79 फीसदी था, जो मार्च 2020 तक घटकर 56 फीसदी रह गया था. हालांकि इसमें फिर रिबाउंड देखने को मिला है.

टॉप लॉर्जकैप आइडिया

ICICI बैंक, SBI, इंफोसिस, HCL टेक, अल्ट्राटेक सीमेंट, M&M, HUVR, टाइटन कंपनी, डिवाइस लैब, हिंडाल्को और SBI Cards

टॉप मिडकैप आइडिया

SAIL, IEX, L&T टेक्नोलॉजी, चोला इन्वेस्टमेंट, ग्लैंड फार्मा, ईमामी, गुजरात गैस, ओरिएंट इलेक्ट्रिक, वरुण बेवरेजेज और फेडरल बैंक

(नोट: हमने यहां जानकारी ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले अपने स्तर पर एक्सपर्ट की सलाह लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Covid-19 की दूसरी लहर से बिगड़ेगा कंपनियों का मुनाफा! इन 21 लॉर्ज और मिडकैप शेयरों पर रखें नजर

Go to Top