मुख्य समाचार:

कोरोना महामारी और लॉकडाउन से राधाकृष्ण दमानी की DMart को बड़ा झटका, जून तिमाही में मुनाफा 88 फीसदी गिरा

एवेन्यू सुपरमार्ट्स के शुद्ध लाभ में वर्तमान वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में सालाना आधार पर 88 फीसदी की गिरावट आई है.

Published: July 11, 2020 6:22 PM
coronavirus pandemic and Radhakishan Damani give big hit to DMart profit fell by 88 percent in june quarterएवेन्यू सुपरमार्ट्स के शुद्ध लाभ में वर्तमान वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में सालाना आधार पर 88 फीसदी की गिरावट आई है.

कोरोना वायरस महामारी की वजह से राधाकृष्ण दमानी की एवेन्यू सुपरमार्ट्स के शुद्ध लाभ में वर्तमान वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में सालाना आधार पर 88 फीसदी की गिरावट आई है. इस मार्केट चैन ने पहले कहा था कि लॉकडाउन गाइडलाइंस के मुताबिक कई स्टोर बंद हैं जिससे कारोबार में रूकावट आई है. कंपनी ने शेयर बाजार को फाइलिंग में कहा था कि कोरोना वायरस पूरे देश में फैल रहा है. प्रतिबंधों के कारण हमारे संचालन और वित्तीय प्रदर्शन पर इस तिमाही में बड़ा असर होगा. एवेन्यू सुपरमार्ट्स का रेवेन्यू पिछले साल के मुकाबले 32 फीसदी गिर गया.

रेवेन्यू में बड़ी गिरावट

इस मार्केट चैन के लिए जून तिमाही में कंसोलिडेटेड कुल रेवेन्यू 3,933 करोड़ रुपये का रहा जो पिछले साल की समान तिमाही के 5,825 करोड़ रुपये से गिरा है. महामारी के कारण ऑपरेशंस से मिलने वाले रेवेन्यू में गिरावट आई है. पिछली तिमाही में, जब कोरोना वायरस ने भारत में पैर रखे थे और पहला लॉकडाउन लागू किया गया था, तब कंपनी का रेवेन्यू बढ़कर 6,255 करोड़ रुपये पर पहुंच गया था.

एवेन्यू सुपरमार्ट्स के कुल खर्च 3,875 करोड़ रुपये रहा जिससे टैक्स से पहले प्रोफिट 58.77 करोड़ रुपये हो गया. पिछले साल की पहली तिमाही में टैक्स से पूर्व प्रोफिट 506 करोड़ रुपये रहा था. शुद्ध लाभ घटकर 40 करोड़ हो गया जो 323 करोड़ रुपये से 88 फीसदी गिरा है. पिछले साल समान अवधि में रिटेल की बड़ी कंपनी ने 323 करोड़ रुपये कमाए थे.

रिलायंस को चार निवेशकों से हिस्सेदारी के लिए मिले 30,062 करोड़ रु, बेचेगी 6.13 फीसदी हिस्सेदारी

कंपनी ने सैलरी में नहीं की कटौती

एवेन्यू सुपरमार्ट्स के सीईओ Neville Noronha ने कहा कि कंपनी ने कर्मचारियों और सप्लायर के साथ दूसरी सेवाएं देने वालों को भुगतान पहले के समान ही किया है. इसके साथ उन्होंने कहा कि भारतीय संगठित रिटेलर्स को ग्राहकों में कोई बढ़ोतरी देखने को नहीं मिली. उन्होंने कहा कि इसकी वजह स्टोर बंद करने का मजबूती से पालन करना, सामान्य तौर पर लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंधित करना और दुकानों में सोशल डिस्टैंसिंग को सख्ती से लागू करना है. उन्होंने बताया कि जहां सामान्य तौर पर लॉकडाउन के नियमों में ढील दे दी गई है, वहीं कुछ शहरों और लोकल नगर पालिकाओं में यह समान या ज्यादा सख्ती के साथ जारी हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना महामारी और लॉकडाउन से राधाकृष्ण दमानी की DMart को बड़ा झटका, जून तिमाही में मुनाफा 88 फीसदी गिरा

Go to Top