Year Ender 2021: इस साल पांच IPOs को मिले 100 गुना से अधिक सब्सक्रिप्शन, लेकिन नहीं टूट पाया 26 साल पुराना रिकॉर्ड

Centurion Public Offers IPOs: इस साल पांच कंपनियों के इश्यू को 100 गुना से अधिक सब्सक्रिप्शन हासिल हुए.

Centurion public offers IPOs that got oversubscribed 100 times or more read here in details
आरआर सिक्योरिटीज का आईपीओ वर्ष 1995 में आया था और इसे निवेशकों की शानदार प्रतिक्रिया मिली थी जो अब तक का रिकॉर्ड है. इसका आईपीओ 870 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Centurion Public Offers IPOs: यह साल आईपीओ निवेशकों के लिए बहुत शानदार रहा और इस साल 53 कंपनियों ने आईपीओ के जरिए 500 करोड़ डॉलर (37.55 हजार करोड़ रुपये) जुटाए हैं. इस साल 2021 में अब तक बीएसई एसएमई सेग्मेंट को मिलाकर 83 आईपीओ खुले हैं जिसमें से 59 प्रीमियम भाव पर लिस्ट हुए. यह साल इस मायने में भी खास रहा कि खुदरा निवेशकों का आकर्षण आईपीओ में निवेश के प्रति तेजी से बढ़ा और इसके चलते पांच कंपनियों के इश्यू को 100 गुना से अधिक सब्सक्रिप्शन हासिल हुए. हालांकि 26 साल पुराना रिकॉर्ड अभी तक कायम है. 26 साल पहले 1995 में आरआर सिक्योरिटीज के आईपीओ को 870 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए थे. नीचे उन सभी कंपनियों की सूची दी जा रही है जिन्हें अब तक 100 गुना से अधिक सब्सक्रिप्शन हासिल हुए हैं. सभी आंकड़े प्राइम डेटाबेस से लिए गए हैं.

Centurion public offers IPOs that got oversubscribed 100 times or more read here in details
Centurion public offers IPOs that got oversubscribed 100 times or more read here in details

RR Securities Ltd. IPO (वर्ष-1995): 870.41 गुना

आरआर सिक्योरिटीज की कारोबारी शुरुआत वर्ष 1993 में हुई थी. इस कंपनी का मुख्य लक्ष्य मैनेजर के रूप में सभी सभी प्रकार के मर्चेंट बैंकिंग कारोबार को करना है. इसका आईपीओ वर्ष 1995 में आया था और उस समय इसे निवेशकों की शानदार प्रतिक्रिया मिली थी जो अब तक का रिकॉर्ड है. इसका आईपीओ 870 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Sankhya Infotech Ltd IPO (वर्ष-2000): 283.5 गुना

सांख्य इंफोटेक का आईपीओ जब मार्च 2000 में आया था तो इसे 283.5 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए थे. यह देश में अब तक का दूसरा सबसे अधिक सब्सक्राइब होने वाला इश्यू है. दिलचस्प ये है कि इश्यू प्राइस 10 रुपये का था लेकिन कई निवेशक 50 रुपये तक देने को तैयार थे.

Year Ender 2021: झुनझुनवाला के निवेश वाली 3 कंपनियों की शेयर बाजार में हुई एंट्री, किसी के IPO में मिला शानदार रिटर्न तो कुछ में हुआ नुकसान

Salasar Techno Engineering Ltd. IPO (वर्ष-2017): 270.6 गुना

यह आईपीओ वर्ष 2017 में आया था और इसके 36 करोड़ रुपये के आईपीओ को 270.6 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए थे. इस प्रकार सांख्य इंफोटेक का आईपीओ आने के 17 साल के बाद किसी आईपीओ को 270 गुना से अधिक सब्सक्रिप्शन हासिल हुए.

Sibar Software Services (India) Ltd. IPO (वर्ष-1999): 248.23 गुना

इस कंपनी की शुरुआत 1999 में हुई थी. इसका आईपीओ वर्ष 1999 में आया था और यह 248.23 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Astron Paper and Board Mill Ltd. IPO (वर्ष-2017): 240.50 गुना

एस्ट्रन पेपर का आईपीओ दिसंबर 2017 में खुला था और 240.5 गुना सब्सक्राइब हुआ था. खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित हिस्सा 73.32 गुना, क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स (QIB) का हिस्सा 103.35 गुना और नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स (NII) हिस्सा 396.99 गुना सब्सक्राइब हुआ था. इसके शेयरों की लिस्टिंग भी बंपर 141 फीसदी प्रीमियम पर हुई थी. इस कंपनी की कारोबारी शुरुआत वर्ष 2010 में हुई थी और यह क्राफ्ट पेपर बनाती है.

IPOs in 2021: इस साल के पांच सबसे बड़े IPO, जानिए किसने दिया निवेशकों को शानदार मुनाफा तो किसे मिला तगड़ा सब्सक्रिप्शन

Rahul Merchandising Ltd. IPO (वर्ष-1995): 236.15 गुना

इस कंपनी का कारोबारी शुरुआत 1993 में हुई थी और इसका आईपीओ दो साल बाद 1995 में आया था तो यह 236.15 गुना सब्सक्राइब हुआ था. अभी इसके शेयर 7.05 रुपये के भाव पर हैं और इसकी मार्केट पूंजी 2.48 करोड़ रुपये की है.

Paras Defence and Space Technologies Ltd. IPO (वर्ष-2021): 213.89 गुना

पारस डिफेंस एंड स्पेस का आईपीओ इस साल सितंबर में आया था और य 213 गुना सब्सक्राइब हुआ था. इसकी लिस्टिंग भी शानदार रही और 175 रुपये के इश्यू प्राइस के मुकाबले 470 फीसदी प्रीमियम यानी 469 रुपये के भाव पर इसके शेयर लिस्ट हुए.

Year Ender: साल 2021 में किन IPOs में निवेशकों को हुआ सबसे अधिक मुनाफा, कई लिस्टिंग ने 270% तक बढ़ाई पूंजी तो कुछ इश्यू में घटा निवेश

Birla Kennametal Ltd. IPO (वर्ष-1990): 193.07 गुना

इस कंपनी की शुरुआत वर्ष 1986 में हुई थी, हालांकि पहले इसका नाम बिरला केन्नानमेंटल था जो वर्ष 2013 में बदलकर बिरला प्रेसिसन टेक्नोलॉजीज हो गया. इसका आईपीओ वर्ष 1990 में आया था और यह 193 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Tobu Enterprises Ltd. IPO (वर्ष-1995): 189.06 गुना

करीब 45 साल पुरानी यह कंपनी ट्राइसाइकिल और प्लास्टिक आइटम के कारोबार में है. इस कंपनी का गठन वर्ष 1967 में एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में हुआ था जो वर्ष 1987 में पब्लिक लिमिटेड कंपनी बन गई. इसका आईपीओ वर्ष 1995 में आया था और 189 गुना सब्सक्राइब हुआ था. वर्ष 2014 में इसका नाम टोबू एंटरप्राइजेज से बदलकर जस्टराइड एंटरप्राइजेज हो गया.

Latent View Analytics Ltd. IPO (वर्ष-2021): 185.32 गुना

लैटेंट व्यू एनालिटक्स का 600 करोड़ का आईपीओ इस साल आया था और इसे 185.32 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए. इस इश्यू के लिए 190-197 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था. इसकी लिस्टिंग भी शानदार रही और बीएसई पर 169 फीसदी प्रीमियम यानी 530 रुपये के भाव पर शेयर लिस्ट हुए.

Apollo Micro Systems Ltd. IPO (वर्ष-2018): 176.45 गुना

अपोलो माइक्रो सिस्टम्स का आईपीओ 10-12 जनवरी 2018 के बीच खुला था और 176.45 गुना सब्सक्राइब हुआ था. मिसाइल से लेकर सबमैरिन के लिए इलेक्ट्रॉनिक पार्ट बनाने वाली इस कंपनी के आईपीओ के लिए 270-275 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था. इसके शेयरों की घरेलू मार्केट में शानदार शुरुआत हुई थी और 478 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए थे.

YearEnder 2021: सबसे अधिक इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर का ट्वीट हुआ रीट्वीट, पीएम मोदी के विशेष पोस्ट को भी लोगों ने किया पसंद, कोहली ने लगातार दूसरे साल मारी बाजी

FCS Software Solutions Ltd. IPO (वर्ष-2005): 175.88 गुना

एफसीएस सॉफ्टवेयर सॉल्यूशंस का 17.5 करोड़ रुपये का आईपीओ अगस्त 2005 में आया था और यह 175.88 गुना सब्सक्राइब हुआ था. इसकी लिस्टिंग पर निवेशकों को 200 फीसदी से अधिक लिस्टिंग गेन हासिल हुआ था.

Indus Networks Ltd. IPO (वर्ष-2000): 173.75 गुना

यह आईपीओ जनवरी 2000 में आया था और 173.75 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Religare Enterprises IPO (वर्ष-2007): 158.63 गुना

रेलिगेयर एंटरप्राइजेज का आईपीओ 29 अक्टूबर-1 नवंबर 2007 के बीच खुला था और 158.63 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए थे. 140.16 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के लिए 160-185 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड और 35 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था.

Mazagon Dock Shipbuilders Ltd. IPO (वर्ष-2020): 155 गुना

मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स का आईपीओ 30 सितंबर-1 अक्टूबर 2020 के बीच खुला था और यह 155 गुना सब्सक्राइब हुआ था. यह इश्यू पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) का था. इस आईपीओ के लिए 135-145 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था.

Tega Industries Ltd. IPO (वर्ष-2021): 151 गुना

टेगा इंडस्ट्रीज के शेयरों को निवेशकों की शानदार प्रतिक्रिया मिली. यह इश्यू इस साल आया था और इसे 151 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए थे. इस इश्यू को पिछले दस वर्षों में सबसे अधिक क्यूआईबी सब्सक्रिप्शन हासिल हुए. यह इश्यू पूरी तरह से ओएफएस का था और इश्यू के लिए 443-453 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था. इसके शेयरों की शुरुआत भी शानदार हुई और एनएसई पर इश्यू प्राइस के मुकाबले करीब 68 फीसदी प्रीमियम यानी कि 760 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए.

YearEnder 2021: दो अहम घटनाओं ने बदली वैश्विक राजनीति, एक देश में खत्म हुआ लोकतंत्र तो दूसरा बना दुनिया का सबसे नया गणराज्य

Everonn Systems India Ltd. (वर्ष-2007): 143.99 गुना

यह आईपीओ 5-12 दिसंबर 2007 के बीच खुला था और यह 143.99 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 438.53 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के लिए 425-480 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड और 14 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था.

Pentagon Global Solutions Ltd. IPO (वर्ष-2000): 143.70 गुना

पेंटागन ग्लोबल सॉल्यूशंस को वर्ष 1995 में इन्कॉरपोरेट किया गया था और इसका आईपीओ वर्ष 2000 में आया था. इसका आईपीओ 143.70 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

MTAR Technologies Ltd. IPO (वर्ष-2021): 138 गुना

यह आईपीओ इस साल 3-5 मार्च के बीच खुला था और 138 गुना सब्सक्राइब हुआ था. इस इश्यू के लिए 574-575 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया गया था और इसके शेयर 1063.90 रुपये के भाव पर बीएसई पर लिस्ट हुए थे यानी कि आईपीओ निवेशकों को शानदार 85.03 फीसदी का लिस्टिंग गेन मिला.

Mrs Bectors Food Specialities Ltd. IPO (वर्ष-2020): 137 गुना

मिसेज बेक्टर्स फूड स्पेशियलिटीज का आईपीओ वर्ष 2020 में आया था और यहव 137 गुना सब्सक्राइब हुआ था. केएफसी, मैकडी, बर्गर किंग और कार्ल्स जूनियर जैसे क्विक सर्विस रेस्टोरेंट (QSR) को बन सप्लाई करने वाली इस कंपनी का आईपीओ खुलने के कुछ ही घंटे में पूरा सब्सक्राइब हो गया था. 540.54 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के तहत 40.54 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए. इश्यू के लिए 286-288 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय था.

Future Capital Holdings Ltd. IPO (वर्ष-2008): 131 गुना

यह आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए 11-16 जनवरी 2008 के बीच खुला था और 131 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुआ था. 491.34 करोड़ रुपये के इस इश्यू के लिए प्राइस बैंड 310-317 रुपये प्रति शेयर और लॉट साइज 445 शेयरों का था.

Capacit’e Infraprojects Ltd. IPO (वर्ष-2017): 130 गुना

यह आईपीओ सितंबर 2017 में आया था और 130 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 400 करोड़ रुपये के इस इश्यू के लिए प्राइस बैंड 245-250 रुपये प्रति शेयर था. पहले दो दिन यह इश्यू महज 4.82 गुना सब्सक्राइब हुआ था लेकिन आखिरी दिन एनआईआई के 651 गुना सब्सक्रिप्शन के दम पर यह ओवरऑल 130 गुना सब्सक्राइब हुआ.

Tatva Chintan Pharma Chem Ltd. IPO (वर्ष 2021): 124 गुना

तत्व चिंतन फार्मा का 500 करोड़ रुपये का आईपीओ इस साल आया था और यह 124 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 500 करोड़ रुपये का यह आईपीओ 16-20 जुलाई 2021 के बीच सब्सक्रिप्शन के लिए खुला था और इसके तहत 225 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए. इस इश्यू के लिए 1073-1083 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था. इसकी लिस्टिंग भी शानदार रही और 29 जुलाई को लिस्टिंग के दिन इसके शेयर इश्यू प्राइस के मुकाबले 113.32 फीसदी प्रीमियम यानी 2310.25 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए.

Central Depository Services (India) Ltd. IPO (वर्ष-2017): 118 गुना

यह आईपीओ वर्ष 2017 के सबसे इंतजार किए जाने वाले आईपीओ में शुमार था और इसे निवेशकों की शानदार प्रतिक्रिया मिली. यह इश्यू 118 गुना सब्सक्राइब हुआ. 523.99 करोड़ रुपये का यह आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए 19-21 जून 2017 के बीच खुला था और इसके लिए 145-149 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड और 100 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था. इसके शेयर सिर्फ एनएसई पर ही लिस्ट हुए क्योंकि सीडीएसएल बीएसई की सब्सिडियरी है और सेबी के निर्देशों के मुताबिक सेल्फ-लिस्टिंग नहीं हो सकती है.

Caplin Point Laboratories Ltd. IPO (YEAR-1994): 116.94 times

कैपलिन प्वाइंट लैब का गठन 16 अप्रैल 1990 को कैपलिन प्वाइंट लैबोरेटरीज प्राइवेट लिमिटेड के नाम से एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में हुआ था. इस कंपनी का नाम 23 अप्रैल 1993 को बदलकर कैपलिन प्वाइंट लैबोरेटरीज कर दिया गया. इसका आईपीओ अगले साल 1994 में आया थो जो 116.94 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Ganipitak Yakshraj Caplease Ltd. IPO (वर्ष-1994): 116.61 गुना

गणिपिटक यक्षराज कैपलीज लिमिटेड को 14 फरवरी 1994 को इन्कॉरपोरेट किया गया था और इसका पब्लिक ऑफर वर्ष 1994 में आया था. इसका आईपीो 116.61 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Saaketa Consultants Ltd. IPO (वर्ष-1995): 115.30 गुना

साकेत कंसल्टैंट्स का आईपीओ वर्ष 1995 में आया था और यह 115.30 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Amber Enterprises India Ltd. IPO (वर्ष-2018): 115.10 गुना

अंबर एंटरप्राइजेज का आईपीओ 17-19 जनवरी 2018 के बीच खुला था और यह 115.10 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 600 करोड़ रुपये के इस इश्यू के लिए 855-859 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड और 17 शेयरों का लॉट साइज कय किया गया था.

Mundra Port and Special Economic Zone Ltd IPO (वर्ष-2007): 115 गुना

यह आईपीओ 1-7 नवंबर के बीच खुला था और 115 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 1771 करोड़ रुपये के इस इश्यू के लिए 400-440 रुपये का प्राइस बैंड और 15 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था.

Cinevista Communications Ltd. IPO (वर्ष-2000): 114.84 गुना

सिनेविस्टा का नाम पहले सिनेविस्टा कम्यूनिकेशंस था जिसकी शुरुआत एक पार्टनरशिप फर्म के रूप में वर्ष 1993 में हुई थी. इसके बाद मई 1997 में यह प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में बदल गई. इसका आईपीओ वर्ष 2000 में आया था और 114.84 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

BGR Energy Systems Ltd. IPO (वर्ष-2007): 114.78 गुना

बीजीआर एनर्जी सिस्टम्स का आईपीओ वर्ष 2007 में आया था और यह 114 गुना सब्सक्राइब हुआ था. खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित हिस्सा 46.89 गुना, क्यूआईबी हिस्सा 161.67 गुना और एनआईआई हिस्सा 153.08 गुना सब्सक्राइब हुआ था. इस आईपीओ के लिए 425-480 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था.

Infobahn Technologies Ltd. IPO (वर्ष-2000): 114.12 गुना

इसका आईपीओ वर्ष 2000 में आया था और 114.12 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Sobha Developers Ltd. IPO (वर्ष-2006): 113 गुना

सोभा डेवलरपर्स का आईपीओ नवंबर 2006 में आया था और 113 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 569.17 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के लिए 550-640 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था

Radhe Developers (India) Ltd. IPO (वर्ष-1995): 110.25 गुना

राथे डेवलपर्स (इंडिया) देश की अग्रणी रीयल एस्टेट कंपनी में शुमार है. इसका कारोबार गुजरात में फैला हुआ है और यह आवासीय, कॉमर्शियल, प्लॉटिंग और इससे जुड़े प्रोजेक्ट्स ऑफर करती है. इसका आईपीओ वर्ष 1995 में आया था और 110.25 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Edelweiss Capital Ltd. IPO (वर्ष-2007): 110 गुना

यह इश्यू 15-20 नवंबर 2007 के बीच खुला था और इसे 110.06 गुना सब्सक्रिप्शन हासिल हुए थे. 691.86 करोड़ रुपये के इस इश्यू के लिए 725-825 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड और 8 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था.

IRCTC (वर्ष-2019): 109 गुना

दो साल पहले आईआरसीटीसी का आईपीओ आया था तो इसे निवेशकों की शानदार प्रतिक्रिया मिली थी. 645.12 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के लिए 315-320 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया था. यह इश्यू 30 सितंबर-3 अक्टूबर 2019 तक खुला था और 109 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Mindtree Consulting Ltd. IPO (वर्ष-2007): 102.43 गुना

यह आईपीओ 102.43 गुना सब्सक्राइब हुआ था. यह इश्यू 9-14 फरवरी 2007 को खुला था और 237.72 करोड़ रुपये क इस इश्यू के लिए 365-425 रुपये का प्राइस बैंड व 15 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था.

Avantel Softech Ltd. IPO (वर्ष-2000): 102.40 गुना

इसकी शुरुआत मई 1990 में डायलॉग कम्यूनिकेशंस के रूप में हुई थी जिसके तीन साल बाद अगस्त 1990 में इसे एवनटेल कम्यूनिकेशंस का नया नाम दे दिया गया. इसके बाद यह दिसंबर 1994 में पब्लिक लिमिटेड कंपनी बन गई. फिर यह दिसंबर 1998 में एवनटेल सॉफ्टटेक लिमिटेज बन गई. इसका आईपीओ वर्ष 2000 में आया था और 102.40 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Lakshmi Synthetic Machinery Manufacturers Ltd. IPO (वर्ष-1990): 101.66 गुना

लक्ष्मी सिंथेटिक मशीनरी मैन्यूफैक्चर्स लिमिटेड एक गैर-सरकारी कंपनी है जो 9 दिसंबर 1988 को इन्कॉर्पोरेट हुआ था. यह एक पब्लिक अनलिस्टेड कंपनी है और इसे ‘कंपनी लिमिटेड बाई शेयर्स’ की श्रेणी में रखा गया है. इसका आईपीओ 1990 में आया था तो यह 101.66 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Chemcon Speciality Chemicals Ltd. (वर्ष-2020): 101.16 गुना

इस आईपीओ को निवेशकों की शानदार प्रतिक्रिया मिली थी और यह 101.16 गुना सब्सक्राइब हुआ था. खुदरा निवेशकों का आरक्षित हिस्सा 40.43 गुना, एनआईआई का हिस्सा 449.14 गुना और क्यूआईबी का हिस्सा 113.53 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

BPL Sanyo Technologies Ltd. IPO (वर्ष-1990): 100.74 गुना

यह कंपनी 2 सितंबर 1983 को बीपीएल इलेक्ट्रॉनिक्स के नाम से इन्कॉर्पोरेटेड हुई थी. इसके तीन साल बाद इसका नाम बीपीएल सान्यो टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के रूप में बदल दिया गया. इसका आईपीओ वर्ष 1990 में आया था और यह 100.74 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

Wim Plast Ltd. IPO (वर्ष-1994): 100.16 गुना

सेलो और एमजी शाह ग्रुप ने इसे संयुक्त रूप से प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में अक्टूबर 1988 में प्रमोट किया. इसके बाद विम प्लास्ट जुलाई 1993 में पब्लिक लिमिटेड कंपनी बन गई और इसका अगले ही साल अगस्त 1994 में आया. इसका आईपीओ 100.16 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

(आर्टिकल: हर्षिता त्यागी)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News