मुख्य समाचार:

2019 में मजबूत है सीमेंट सेक्टर का आउटलुक, 3 स्टॉ​क दे सकते हैं बेहतर रिटर्न: रिपोर्ट

2019 में सीमेंट सेक्टर बेहतर प्रदर्शन कर सकता है.

January 3, 2019 8:09 AM
Cement Sector Outlook 2019, Cement Volume, Cement Demand, PMAY, Affordable Housing, Road Construction, Infra2019 में सीमेंट सेक्टर बेहतर प्रदर्शन कर सकता है.

पिछली कुछ तिमाही से सीमेंट वॉल्यूम प्रभावशाली रूप से बढ़ा है. सेक्टर पर दबाव के बाद भी डिमांड में खास कमी नहीं आई है. लो कास्ट हाउसिंग और अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोग्राम में तेजी आने से भी डिमांड बढ़ी है. वहीं राजस्थान, बिहार, महाराष्ट्र और तमिलनाडु में सैंड माइनिंग रिलेटेड इश्यू से भी डिमांड ट्रेंड में मजबूती आई है. फिलहाल 2019 में यह ट्रेंड जारी रहने की उम्मीद है और सीमेंट सेक्टर बेहतर प्रदर्शन कर सकता है. ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने सीमेंट सेक्टर को लेकर ताजा रिपोर्ट दी है. ब्रोकरेज ने निवेश के लिहाज से एसीसी, ओडीशा सीमेंट और पर भरोसा जताया है.

गवर्नमेंट प्रोग्राम से सपोर्ट

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के तहत हाउस सैंक्शन लगातार बढ़ रहा है. यह 2017 में 17 फीसदी के मुकाबले 2018 में बढ़कर 31 फीसदी पहुंच गया. वहीं, निर्माण कार्य पूरा होने की गति भी इस दौरान 16 फीसदी से बढ़कर 47 फीसदी पहुंच गया है. माना जा रहा है कि सरकार ने कुल जितने घरों का लक्ष्य आगे रखा है, उसमें से 50 फीसदी का लक्ष्य वित्त वर्ष 2019 से 2023 में पूरा हो जाएगा. इस लिहाज से हर साल करीब 43 लाख यूनिट बनेंगे. रिपोर्ट के अनुसार इन वजहों से सीमेंट की डिमांड 2020 तक 22 मिलियन टन बढ़ जाएगा. वहीं, हर साल 4 फीसदी की दर से आगे इसमें ग्रोथ दिख सकती है.

FY20 से रोड प्रोजेक्ट की रफ्तार बढ़ने की उम्मीद

रिपोर्ट के अनुसार आने वाले दिनों में इंडियन इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में एक्टिविटी और बढ़ने की उम्मीद है. आॅपरेटिंग एन्वायरमेंट बेहतर रहने और कई गवर्नमेंट इनसिएटिव की वजह से वित्त वर्ष 2020 से कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी तेज होने की उम्मीद है. अनुमान है कि 2020 में रोज के लिहाज से 33 किलोमीटर सड़क निर्माण होगा. इससे वित्त वर्ष 2020 तक 5.75 मिलियन टन सीमेंट की अतिरिक्त डिमांड आएगी.

कई सरकारी प्रोजेक्ट पूरा करने का लक्ष्य

मोतीलाल ओसवाल की रिपोर्ट के मुताबिक AIBP के तहत करीब 30 फीसदी प्रोजेक्ट जून 2018 तक पूरे हो चुके थे. व​हीं करीब 30 फीसदी प्रोजेक्ट जून 2019 और बाकी 41 फीसदी को दिसंबर 2019 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. इसके अलावा कई एयरपोर्ट प्रोजेक्ट, समुद्री बंदरगाह और मेट्रो प्रोजेक्ट भी सीमेंट की डिमांड आउटलुक को मजबूत कर रहे हैं. करीब 99 प्रमुख / मध्यम सिंचाई परियोजनाओं को भी दिसंबर 2019 तक अलग अलग राज्यों के साथ मिलकर पूरा करने का लक्ष्य है.

चुनावी साल में बढ़ेगी डिमांड

रिपोर्ट के अनुसार आमतौर पर देखा गया है कि चुनावी साल में सीमेंट डिमांड ग्रोथ रेट बढ़ जाती है. 2019 में आम चुनाव के अलावा महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश में चुनाव होने वाले हैं. इससे भी सीमेंट सेक्टर को सपोर्ट मिलता दिख रहा है.

ये शेयर दे सकते हैं रिटर्न

ACC

लक्ष्य: 1771
करंट प्राइस: 1483
रिटर्न: 20 फीसदी

श्री सीमेंट (SRCM)

लक्ष्य: 20010
करंट प्राइस: 16934
रिटर्न: 18 फीसदी

ओडीशा सीमेंट

लक्ष्य: 1328
करंट प्राइस: 1138
रिटर्न: 17 फीसदी

(नोट: यह रिपोर्ट ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी गई है. हम निवेश की कोई सलाह नहीं दे रहे हैं. बाजार के अपने जोखिम हैं, ऐसे में निवेश के पहले अपने एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. 2019 में मजबूत है सीमेंट सेक्टर का आउटलुक, 3 स्टॉ​क दे सकते हैं बेहतर रिटर्न: रिपोर्ट

Go to Top