सर्वाधिक पढ़ी गईं

रिटेल निवेशकों के लिए खुला कमाई का नया विकल्प, भारत बांड ETF को कैबिनेट से मंजूरी

कैबिनेट ने भारत बांड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) को मंजूरी दे दी है.

Updated: Dec 04, 2019 1:57 PM
Bharat Bond Exchange Traded Fund, Bond ETF, Bond ETF Listing On Exchange, भारत बांड ईटीएफ, retail investors can bet o bond ETFकैबिनेट ने भारत बांड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) को मंजूरी दे दी है.

Bharat Bond Exchange Traded Fund: अब एक्सचेंज पर बांड ETF की लिस्टिंग हो सकेगी. पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में कैबिनेट ने भारत बांड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) को मंजूरी दे दी है. भारत बांड ईटीएफ अपने तरह का देश का पहला एक्सचेंज ट्रेडेड फंड होगा. इस पर कॉरपोरेट बांड की लिस्टिंग होगी. भारत बांड ETF के जरिए रिटेल इनवेस्टर्स भी बॉन्ड खरीद सकते हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बात की जानकारी दी है. इडेलवाइस एसेट मैनेजमेंट द्वारा भारत बांड ETF को मैनेज किया जाएगा. माना जा रहा है कि इससे बांड मार्केट को मजबूती मिलेगी.

निवेशकों के पास 2 विकल्प

भारत बॉन्ड ईटीएफ स्कीम में निवेशकों के पास 2 तरह के विकल्प होंगे. पहले विकल्प में प्रोडक्ट का मेच्योरिटी पीरियड 3 साल का होगा. वहीं दूसरे विकल्प में मेच्योरिटी पीरियड 10 साल का होगा. इसमें सिर्फ ग्रोथ आप्शन ही होगा, डिविडेंड का विकल्प नहीं होगा. बता दें कि शेयर बाजार में ETF उसी तरह ट्रेड करता है जैसे कोई शेयर करता है.

छोटे निवेशक भी लगा सकेंगे पैसे

प्रत्येक बांड ईटीएफ की कीमत 1000 रुपये होगी. 1000 रुपये कीमत होने की वजह से छोटे रिटेल निवेशक भी इसमें पैसा लगा सकेंगे. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह देश में पहला कॉरपोरेट बांड फंड होगा, जो पीएसयू और दूसरे सरकारी संस्थाओं को अतिरिक्त पैसा उपलब्ध करवाएगा.

2 इक्विटी ETF को अच्छा रिस्पांस

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार इसके पहले 2 बाद इक्विटी ETF ला चुकी है. पहला 2014 में और दूसरी बार 2017 में. दोनों बार इसे बेहद अच्छा रिस्पांस मिला था. उन्होंने कहा कि सरकार का फोकस कॉरपोरेट बांड मार्केट को मजबूत करने पर है. वहीं, सरकार फंड जुटाने के लिए इसके जरिए एक अलग विकल्प भी बना रही है. इससे भारत की अर्थव्यवस्था भी वित्तीय रूप से मजबूत होगी.

क्या है बांड ETF?

बांड ईटीएफ एक ऐसा फंड होता है, जो एक्सचेंज में ट्रेड करता है और पारंपरिक बांड म्यूचुअल फंड की तरह बांड में निवेश करता है. एक्टिवली मैनेज्ड डेट फंड के मुकाबले बांड ईटीएफ को कम खर्च पर एक्सचेंज पर खरीदा-बेचा जा सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. रिटेल निवेशकों के लिए खुला कमाई का नया विकल्प, भारत बांड ETF को कैबिनेट से मंजूरी

Go to Top