मुख्य समाचार:

जून में 8% चढ़ा बाजार, डिमांड पर टिकी नजर; ये 16 लॉर्ज और मिडकैप शेयर दे सकते हैं ऊंचा रिटर्न

जून में भारत और चीन के बीच टेंशन और कमजोर कॉरपोरेट अर्निंग के बाद भी बाजार में मोमेंटम मजबूत रहा है.

Published: July 7, 2020 12:59 PM
Top 16 largecap and midcap stock tips, brokerage house motilal oswal top 16 picks, stock market, Nifty performance, stock market performance in june 2020, best stock tips, corporate earning, india china face offजून में भारत और चीन के बीच टेंशन और कमजोर कॉरपोरेट अर्निंग के बाद भी बाजार में मोमेंटम मजबूत रहा है.

मई में मंथली आधार पर 2.8 फीसदी गिरावट के बाद जून में निफ्टी में करीब 8 फीसदी तेजी रही है. मार्च में 7610 के लो से देखें तो निफ्टी में 35 फीसदी तेजी रही. जून में भारत और चीन के बीच टेंशन और कमजोर कॉरपोरेट अर्निंग के बाद भी बाजार में मोमेंटम मजबूत रहा है और तकरीबन हर प्रमुख सेक्टर में तेजी देखने को मिली. फिलहाल लॉकडाउन का फेज धीरे धीरे खत्म होने के बाद इकोनॉमिक एक्टिविटी और डिमांड साइड में रिवाइवल दिख रही है. इसमें आगे कितनी तेजी आती है, अब यह बाजार के लिए प्रमुख फैक्टर रहेगा. फिलहाल बाजार में तेजी आने पर मजबूत फंडामेंटल वाले शेयरों में भी अच्छी तेजी देखने को मिलेगी. ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने ऐसे ही 16 लॉर्जकैप और मिडकैप शेयरों में निवेश की सलाह दी है. इस बारे में ब्रोकरेज हाउस ने एक रिपोर्ट जारी की है.

जून में हर सेक्टर में रही तेजी

जून में मंथली आधार पर तकरीबन हर सेक्टर में बढ़त देखी गई है. मंथली आधार पर जून में PSU बैंक इंडेक्स में 17 फीसदी, रियल एस्टेट में 12 फीसदी, प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 11 फीसदी, आटो इंडेक्स में 8 फीसदी और एनबीएफसी में भी 8 फीसदी तेजी रही.

टॉप परफॉर्मर

जून महीने के टॉप परफॉर्मर में बजाज फाइनेंस (+45%), बजाज फिनसर्व (+33%), इंडसइंड बैंक (+21%), M&M (+17%) और आरआईएल (+16%) शामिल हैं.

जबकि लूजर्स में Zee Ent (-7%), कोल इंडिया (-6%), भारती इंफ्राटेल (-4%), डॉ रेड्डीज (-3%) और ONGC (-2%) शामिल रहे.

जून में ग्लोबल मार्केट का हाल

लगभग सभी प्रमुख जून में रूस को छोड़कर सभी प्रमुख देशों के बाजार में तेजी रही है. जून में रूस के बाजार में 2 फीसदी गिरावट आई. अन्य बाजारों में जून में ब्राजील (+9%), भारत (+8%), MSCI EM (+7%) और ताइवान (+6%) मजबूत हुए.

4QFY20 उम्मीद के ही मुताबिक

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल के अनुसार चौथी तिमाही के लिए कॉरपोरेट अर्निंग उम्मीद के मुताबिक रही है. निफ्टी सेल्स सालाना आणार पर 5.1 फीसदी गिरी है, हालांकि इसके 10 फीसदी कमजोर होने का अनुमान था. जबकि EBITDA/PBT/PAT में 4.8%/28.6%/20.1% सालाना आधार पर गिरावट रही है. आटो, आयल, गैस, मेटल, प्राइवेट बैंक और एनबीएफसी में गिरावट से PAT पर असर हुआ. ब्रोकरेज हाउस ने FY21/FY22E के लिए निफ्टी EPS के अनुमान में 9%/6% की कटौती की है.

ये शेयर दे सकते हैं अच्छा रिटर्न

लॉर्जकैप: ICICI बैंक, भारती एयरटेल, इंफोसिस, HUL, HDFC, डाबर, M&M, रिलायंस इंडस्ट्रीज

मिडकैप: ABFRL, TCPL, क्रॉम्पटन कंज्यूमर, अलकेम, LT इंफोटेक, गुजरात गैस, JSPL, मदरसन सूमी

(नोट: हमने यहां जानकारी ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. जून में 8% चढ़ा बाजार, डिमांड पर टिकी नजर; ये 16 लॉर्ज और मिडकैप शेयर दे सकते हैं ऊंचा रिटर्न

Go to Top