मुख्य समाचार:

कोरोना संकट में भी ब्रोकरेज की पसंद बने ‘HDFC ट्विन्स’, शेयर में निवेश करें तो मिल सकता है 41% तक रिटर्न

कोरोना संकट ने जहां बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में कंपनियों की बैलेंसशीट खराब कर दी है, वहीं HDFC बैंक और HDFC लिमिटेड का प्रदर्शन इस दौरान भी मजबूत रहा है.

April 7, 2020 4:03 PM
HDFC Bank, HDFC Ltd, COVID-19 impact on HDFC bank and HDFC ltd, should you invest in HDFC bank and HDFC ltd stocks, best stock idea, brokerage favorite stocksकोरोना संकट ने जहां बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में कंपनियों की बैलेंसशीट खराब कर दी है, वहीं HDFC बैंक और HDFC लिमिटेड का प्रदर्शन इस दौरान भी मजबूत रहा है.

कोरोना संकट ने जहां बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में कंपनियों की बैलेंसशीट खराब कर दी है, वहीं HDFC बैंक और HDFC लिमिटेड का प्रदर्शन इस दौरान भी मजबूत रहा है. जहां निजी क्षेत्र के बैंकों की जमा में गिरावट का रख रहा, एचडीएफसी बैंक की मार्च में समाप्त तिमाही के दौरान कुल जमा राशि में 7.41 फीसदी की ग्रोथ रही. वहीं, एचडीएफसी लिमिटेड की लोन ग्रोथ भी इस दौरान बढ़ गई है. फिलहाल HDFC ट्विन्स के मजबूत प्रदर्शन को देखते हुए ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने दोनों के शेयरों में निवेश की सलाह दी है. रिपोर्ट के अनुसार एचडीएफसी बैंक में 41 फीसदी और एचडीएफसी लिमिटेड में 37 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है.

HDFC बैंक
रिटर्न अनुमान: 41 फीसदी

बीती तिमाही में एचडीएफसी बैंक का कुल एडवांस तिमाही आधार पर 6.1 फीसदी और सालाना आधार पर 21.2 फीसदी बढ़कर 9.9 लाख करोड़ रुपये रहा. बैंक की पिछली तिमाही के मुकाबले डिपॉजिट ग्रोथ तिमाही आधार पर 7.41 फीसदी बढ़कर 11.46 लाख करोड़ रुपये हो गया है. यह सालाना आधार पर 24 फीसदी ज्यादा है. इस तिमाही में बैंक की कर्ज राशि भी करीब 21 फीसदी बढ़कर 9.93 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गई. पिछली तिमाही के मुकाबले इसमें 6 फीसदी से ज्यादा ग्रोथ रही. HDFCB’s CASA रेश्यो तिमाही आधार पर 250 अंक सुधरा है. हालांकि सालाना आधार पर यह 40 अंक गिरा है. इस तिमाही में बैंक ने एचडीएफसी लिमिटेड से 5480 करोड़ रुपये का कर्ज खरीदा है.

रिपोर्ट के अनुसार निश्चित रूप से लॉकडाउन के चलते वित्त वर्ष 2021 के दौरान क्रेडिट ग्रोथ पर कुछ असर पड़ेगा. एसेट क्वालिटी पर भी असर दिख सकता है, लेकिन ओवरआल बैंक का प्रदर्शन दूसरे निजी बैंकों की तुलना में मजबूत है. मजबूत कस्टमर बेस, देश भर में फैले नेटवर्क की वजह से आगे बैंक को फायदा होगा. मौजूदा भाव शेयर के लिए आकर्षक है. निवेशकों को 1150 रुपये के लक्ष्य के साथ दांव लगाने की सलाह है. करंट प्राइस के लिहाज से इसमें 41 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

HDFC लिमिटेड
रिटर्न अनुमान: 37 फीसदी

एचडीएफसी लिमिटेड ने चौथी तिमाही के दौरान एचडीएफसी बैंक को 5480 करोड़ रुपये के लोन बेचे हैं. यह तिमाही आधार पर 29 फीसदी ज्यादा है, वहीं सलाना आधार पर 1.3 गुना. एचडीएफसी इस तिमाही के लिए यह भी पहचान करेगा कि उसे आरबीएल बैंक में निवेश पर कितना नुकसान हुआ है. करंट में चल रही चुनौतियों का असर एचडीएफसी लिमिटेड पर भी होगा, लेकिन धीरे धीरे इसका असर खत्म होगा. एचडीएफसी लिमिटेड का भी कस्टमर बेस बहुत बड़ा है, यह हाउसिंग फाइनेंस में अग्रणी कंपनी है. ब्रोकरेज ने शेयर में 37 फीसदी अपसाइड मूवमेंट को देखते हुए 2050 रुपये का लक्ष्य तय किया है.

(नोट: यहां हमने निवेश की सलाह नहीं दी है. यह जानकारी ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी गई है. शेयर बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले एक्सपर्ट की सलाह लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना संकट में भी ब्रोकरेज की पसंद बने ‘HDFC ट्विन्स’, शेयर में निवेश करें तो मिल सकता है 41% तक रिटर्न

Go to Top