सर्वाधिक पढ़ी गईं

रिकॉर्ड उछाल के बाद Bitcoin 60,000 डॉलर से नीचे, Ethereum समेत अन्य Altcoins में भी गिरावट, जानिए क्या है वजह

आंकड़ों से पता चलता है कि बिटकॉइन 60,000 डॉलर के स्तर से नीचे चला गया है. इसमें सात दिनों में ही 11 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट हुई है.

Updated: Nov 17, 2021 7:53 PM
Bitcoin slips below $60,000 after record surge; Ethereum, other altcoins also see double-digit dropमंगलवार को बिटकॉइन (Bitcoin) समेत सभी प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी में तेज गिरावट दर्ज की गई.

Cryptocurrency News: पिछले कुछ हफ्तों में रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के बाद मंगलवार को बिटकॉइन (Bitcoin) समेत सभी प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी में तेज गिरावट दर्ज की गई. CoinMarketCap के आंकड़ों से पता चलता है कि बिटकॉइन 60,000 डॉलर के स्तर से नीचे चला गया है. इसमें सात दिनों में ही 11 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट हुई है. इसके साथ ही, इथेरियम (Ethereum) 11.38 प्रतिशत गिरावट के साथ 4,176 डॉलर हो गया, जो 12 नवंबर को 4,808 डॉलर पर था. इसके अलावा, अन्य सभी टॉप altcoins जैसे, Binance Coin, Solana, Cardano, XRP, Polkadot, Dogecoin, और Shiba Inu ने पिछले सात दिनों और 24 घंटों में डबल डिजिट में गिरावट दर्ज की है, हालांकि इसमें USD Coin और Tether शामिल नहीं हैं. इस रिपोर्ट को लिखे जाने के समय, बिटकॉइन 28 अक्टूबर के बाद सबसे कम प्राइस 59,408 डॉलर पर ट्रेड कर रहा है. बिटकॉइन 10 नवंबर को 68,622 डॉलर के अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर था, जिसके सात दिन बाद ही यह गिरावट आई है.

SEBI ने निवेशकों के हितों की रक्षा के लिए पेश किया इन्वेस्टर चार्टर, जानिए इसमें क्या है खास

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

Mudrex के CEO और को-फाउंडर एदुल पटेल ने फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन को बताया, “बिटकॉइन के प्राइस एनालिसिस से पता चलता है कि पिछले एक महीने से इसका कारोबार लगातार नीचे की ओर जा रहा है. हालांकि, कुछ बड़े प्लेयर्स द्वारा भारी निवेश की वजह से बिटकॉइन बढ़ता रहा. जब ट्रेड वॉल्यूम कम होता है, तो कुछ बड़े प्लेयर बाजार को अपनी पसंद के हिसाब से दिशा दे सकते हैं. और जब बियर हावी होता है, तो रिटेल प्लेयर बाजार को और नीचे लाते हुए कवर के लिए दौड़ पड़ते हैं. यह ठीक वैसा ही था जैसा हमने पिछले 24 घंटों में देखा.”

Cryptocurrency Investment Made Easy: क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना होगा आसान, Mudrex ने पेश की म्यूचुअल फंड जैसी नई स्कीम, जानें पूरी डिटेल

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, एनालिस्ट्स का कहना है कि क्रिप्टो बाजार में यह गिरावट अमेरिका में डिजिटल करेंसी को लेकर नई टैक्स नीति के कारण हुई है, जो 55,000 करोड़ डॉलर के इंफ्रास्ट्रक्चर बिल का हिस्सा हैं. इस कानून पर सोमवार को राष्ट्रपति जो बाइडेन ने हस्ताक्षर किए थे. सोशल-ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म अल्फा इम्पैक्ट के CEO हेडन ह्यूजेस के हवाले से रिपोर्ट में कहा गया है, “हमने देखा है कि यूएस इंफ्रास्ट्रक्चर बिल पर हस्ताक्षर किए गए हैं, जिसकी वजह से उन ट्रेडर्स ने बिकवाली शुरू कर दी है, जो रेगुलेशन और टैक्सेशन को लेकर चिंतित हैं.”

(Article: Sandeep Soni)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. रिकॉर्ड उछाल के बाद Bitcoin 60,000 डॉलर से नीचे, Ethereum समेत अन्य Altcoins में भी गिरावट, जानिए क्या है वजह

Go to Top