सर्वाधिक पढ़ी गईं

Year ender 2020: कोरोना महामारी ने धीमी की बिजनेस की रफ्तार, ये रहे इस बार के टॉप 5 कारोबारी सौदे

year ender 2020: कोरोना महामारी के कारण इस साल दुनिया भर में कारोबारी गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. इसका प्रभाव न सिर्फ कारोबार पर बल्कि कारोबारी सौदों पर भी पड़ा है.

Updated: Dec 20, 2020 9:52 AM
Biggest M&A in 2020 know about top 5 world biggest merger and acquisitions this yearइस साल विलय और अधिग्रहण की गतिविधियो में पिछले साल की तुलना में कमी आई है.

Biggest M&A in 2020: कोरोना महामारी के कारण इस साल दुनिया भर में कारोबारी गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. इसका प्रभाव न सिर्फ कारोबार पर बल्कि कारोबारी सौदों पर भी पड़ा है. इंस्टीट्यूट ऑफ मर्जर, एक्विजिशंस एंड एलायंसेज (IMAA) की वेसबाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक इस साल विलय और अधिग्रहण की गतिविधियो में पिछले साल की तुलना में कमी आई है. न सिर्फ इनकी संख्या में बल्कि इनकी वैल्यू में भी गिरावट आई है. इस साल अभी तक 39,68 एमएंडए (मर्जर एंड एक्विजिशंस) हुए हैं, जिनकी वैल्यू करीब 176.03 लाख करोड़ रुपये (2.39 लाख करोड़ डॉलर) रही. पिछले साल 2019 में 49,327 विलय और अधिग्रहण हुए जिनकी वैल्यू करीब 248.06 लाख करोड़ रुपये (3.37 लाख करोड़ डॉलर) थी.
इस साल की सबसे बड़ी एमएंडए यूनीलीवर एन.वी. की रही. इसका यूनीलीवर पीएलसी में विलय हो गया. इस सौदे का मूल्य करीब 5.96 लाख करोड़ रुपये (8100 करोड़ अमेरिकी डॉलर) रहा.

यह भी पढ़ें- भारत के अरबपतियों के लिए कैसा रहा ये साल? किसकी दौलत सबसे ज्यादा बढ़ी

यूनीलीवर पीएलसी-यूनीलीवर एनवी

इस साल का सबसे बड़ा एमएंडए यूनीलीवर पीएलसी और यूनीलीवर एनवी के बीच हुआ. अक्टूबर महीने में यूनीलीवर पीएलसी के शेयरधारकों ने कंपनी की इस योजना को मंजूरी दे दी कि यूनीलीवर एनवी का यूनीलीवर पीएलसी में विलय कर दिया जाए. यह विसय पिछले महीने पूरा हुआ. इससे पहले दोनों कंपनियों अलग स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड थी. यह सौदा करीब 5.96 लाख करोड़ रुपये (8100 करोड़ अमेरिकी डॉलर) का पड़ा.

एसएंडपी ग्लोबल-आईएचएस मार्किट

इस साल का दूसरा सबसे बड़ा एमएंडए आईएचएस मार्किट और एसएंडपी का रहा. इस महीने की शुरुआत में एसएंडपी ग्लोबल आईएचएस मार्किट को 3.24 लाख करोड़ रुपये (4400 करोड़ डॉलर) पर खरीदने में सहमत हुआ. यूनीलीवर ने अपनी एक ग्रुप लीगल स्ट्रक्चर को एक सिंगल पैरेंट कंपनी के तहत लाया था. अगर इसे एमएंडए का उदाहरण न मानें तो एसएंडपी ग्लोबल द्वारा आईएचएस मार्किट का खरीदा जाना इस साल का सबसे बड़ा कॉरपोरेट अधिग्रहण है. इस अधिग्रहण के जरिए एसएंडपी ग्लोबल की डेटा एनालिटिक्स क्षमता में बढ़ोतरी होगी.

यह भी पढ़ें- कोरोना संकट में भी अरबपतियों की 840 लाख करोड़ बढ़ी दौलत, चाइनीज हुए सबसे अमीर

एनविडिया कॉर्पोरेशन-सॉफ्टबैंक ग्रुप की ब्रिटिश इकाई

जापान के सॉफ्टबैंक ग्रुप ने सितंबर में घोषणा की थी कि वह अपनी ब्रिटिश चिप डिजाइनर कंपनी को अमेरिकी चिप कंपनी एनविडियो को बेच देगी. इस सौदे का मूल्य 2.94 लाख करोड़ रुपये (4000 करोड़ अमेरिकी डॉलर) है. इस सौदे के मार्च 2022 तक पूरा हो जाने की उम्मीद है.

निप्पन टेलीग्राफ एंड टेलीफोन-एनटीटी डोकोमो

जापान की टॉप सेलफोन सर्विस प्रोवाइडर कंपनी एनटीटी डोकोमो इंक ने सितंबर में अपनी पैरेंट कंपनी निप्पन टेलीग्राफ एंड टेलीफोन कॉर्पोरेशन को 100 फीसदी कंट्रोल सौंपने का फैसला किया. इस डील का मूल्य करीब 2.94 लाख करोड़ रुपये (4 हजार अमेरिकी डॉलर) है.

एस्ट्रॉजेनेका-एलेक्सॉयन फॉर्मा

इस साल की एक और सबसे बड़ी डील जो होने वाली है, वह एस्ट्राजेनेका और एलेक्सॉयन फॉर्मा के बीच की है. कुछ दिनों पहले एस्ट्रॉजेनेका ने ने एलेक्सॉयन फॉर्मा को 2.94 लाख करोड़ रुपये (4 हजार करोड़ डॉलर) खरीदने की योजना की घोषणा की. इस सौदे के तहत ड्रग रिसर्च के दो अलग-अलग क्षेत्रों की कंपनियां एक होंगी. एलेक्सॉयन का मुख्य फोकस रेयर डिजीजज पर है और एस्ट्राजेनेका का मुख्य फोकस कैंसर, डायबिटीज और रेस्पिरेटरी कंडीशंस की दवाइयों पर है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Year ender 2020: कोरोना महामारी ने धीमी की बिजनेस की रफ्तार, ये रहे इस बार के टॉप 5 कारोबारी सौदे

Go to Top