मुख्य समाचार:

प्रीपेड मोबाइल ग्राहकों को मिल सकती है बड़ी राहत, लॉकडाउन में बंद नहीं होगा फोन

कोरोना वायरस के सामुदायिक फैलाव को रोकने के लिए सरकार ने देशभर में 24 मार्च को 21 दिन की राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा की थी.

March 30, 2020 3:22 PM
big relief to prepaid mobile customers! TRAI to telcos Extend prepaid validity so users get uninterrupted services during lockdownकोरोना वायरस के सामुदायिक फैलाव को रोकने के लिए सरकार ने देशभर में 24 मार्च को 21 दिन की राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा की थी.

दूरसंचार नियामक ट्राई ने दूरसंचार कंपनियों से प्रीपेड ग्राहकों की वैधता अवधि बढ़ाने के लिए कहा है, ताकि 21 दिन के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान ग्राहकों को निर्बाध सेवा मिल सके. भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (TRAI) ने ऐसे ग्राहकों को ‘प्राथमिकता के साथ’ निर्बाध दूरसंचार सेवाएं देने पर कंपनियों की पहल की भी जानकारी मांगी है. कोरोना वायरस के सामुदायिक फैलाव को रोकने के लिए सरकार ने देशभर में 24 मार्च को 21 दिन की राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा की थी.

ट्राई ने सभी कंपनियों से कहा, ‘‘सार्वजनिक बंद के दौरान प्रीपेड ग्राहकों को निर्बाध सेवाएं मिल सकें इसके लिए आपको उनकी वैधता बढ़ाने समेत अन्य आवश्यक कदम उठाने की जरूरत है.’’ ट्राई का यह निर्देश 21 दिन की राष्ट्रव्यापी बंद के दौरान लोगों को रिचार्ज कूपन और अन्य भुगतान विकल्पों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के क्रम में आया है.

बंद से बिक्री केंद्रों पर विपरीत प्रभाव 

ट्राई ने कहा, ’’दूरसंचार सेवाओं को अनिवार्य सेवाओं के दायरे में रखा गया है और उसे इस बंद से छूट दी गई है. हालांकि, इस बंद से ग्राहक देखभाल केंद्रों और बिक्री केंद्रों पर विपरीत प्रभाव पड़ा है.’’ नियामक ने कहा कि ऐसे में संभावना है कि प्रीपेड ग्राहक अपना टॉपअप या वैधता बढ़वाना चाहें. इसमें ऑफलाइन इन सुविधाओं का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है या उनकी सेवा बाधित हो सकती है. इसलिए ट्राई ने कंपनियों को वैधता बढ़ाने पर विचार करने के लिए कहा है.

CM योगी का बड़ा कदम: UP के 27.5 लाख मनरेगा मजदूरों के खाते में ट्रांसफर हुए 611 करोड़

Coronavirus: अबतक 1071 पॉजिटिव केस

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से 30 मार्च सुबह 10:30 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना पॉजिटिव मामले बढ़कर 1071 हो गए हैं. इनमें से 942 एक्टिव केस हैं. अभी तक 99 लोग रिकवर हो चुके हैं. कोविड19 से मरने वालों की संख्या 29 दर्ज की गई है. मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में अभी तक 193 मामले सामने आ चुके हैं. हालांकि, राज्य सरकार ने 215 मामलों की पुष्टि की है. वहीं, मंत्रालय के अनुसार, देश में कोविड19 से सबसे ज्यादा 8 मौत महाराष्ट्र में हुई है.

 

Input: PTI

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. प्रीपेड मोबाइल ग्राहकों को मिल सकती है बड़ी राहत, लॉकडाउन में बंद नहीं होगा फोन

Go to Top