मुख्य समाचार:

कमाई का शानदार मौका: 350 करोड़ से 3000 करोड़ तक के खुलने वाले हैं IPO, कैसे चुनें सही इश्यू

How to Select Strong IPO: इंडियन प्राइमरी मार्केट में इनिशियल पब्लिक आफरिंग (आईपीओ) का सूखा खत्म होने वाला है.

Updated: Sep 07, 2020 12:14 PM
Primary Market, Upcoming IPO, big opportunity to make money in market, IPO investors, these companies ready to launch IPO, how to select best issue, happiest mind, route mobile, UTI AMC, chemcom speciality chemicals, IRFC, what is IPO, why companies bring IPOPrimary Market, Upcoming IPO: इंडियन प्राइमरी मार्केट में इनिशियल पब्लिक आफरिंग (आईपीओ) का सूखा खत्म होने वाला है.

How to Select Strong IPO: इंडियन प्राइमरी मार्केट में इनिशियल पब्लिक आफरिंग (आईपीओ) का सूखा खत्म होने वाला है. असल में देश में लॉकडाउन खुलने के बाद से ही धीरे धीरे बाजार के सेंटीमेंट सुधर रहे हैं. मार्च के लो से शेयर बाजार में अच्छी खासी रैली आई है. अनलॉक के चौथे फेज में कुछ को छोड़कर तकरीबन सभी सर्विसेज शुरू कर दी गई हैं. फिलहाल बाजार में आई गिरावट के बाद अब मजबूती के संकेत दिखने लगे हैं. बाजार में लिक्विडिटी बढ़ने लगी है. इससे उन कंपनियों का उत्साह बढ़ा है, जो लंबे समय से आईपीओ लाने के इंतजार में थीं. आने वाले दिनों में तकरीबन 2 दर्ज न कंपनियां आईपीओ लाने के इंतजार में हैं. इसी माह यानी सितंबर में छह कंपनियां आईपीओ ला रही हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि यह छोटे निवेशकों के लिए कमाई का शानदार मौका है. अच्छी कंपनियों के आईपीओ में निवेश कर वे मोटी कमाई कर सकते हैं.

इन कंपनियों का आने वाला है आईपीओ

हैप्पिएस्ट माइंड्स (702 करोड़)  (आज खुल रहा है)
रूट मोबाइल (600 करोड़)
एजेंल ब्रोकिंग (600 करोड़)
कंप्यूटर एज मैनेजमेंट सर्विसेज (1500 करोड़)
चेमकॉन स्पेशिएलिटी केमिकल (350 करोड़) 350 करोड़
यूटिआई एमसी (3000 करोड़)
IRFC (4000 करोड़)
इक्विटास स्माल फाइनेंस बैंक (1000 करोड़)
ग्लैंड फार्मा (5000-6000 करोड़)

इस साल अबतक रहा था सूखा

बता दें कि इस साल कोरोना वायरस के चलते अर्थव्यवस्था पर दबाव था. इससे बाजरार का प्रदर्शन प्रभावित हुआ. इस वजह से कई कंपनियों ने अपना आईपीओ टाल दिया. इस साल अबतक हैप्पिएस्ट माइंड के पहले सिर्फ 3 आईपीओ ही आए हैं. इनमें मार्च में 10 हजार करोड़ SBI कार्ड एंड पेमेंट सर्विसेज का आईपीओ, जुलाई में 500 करोउ़ का रोसारी बायोटेक और 4500 करोड़ का माइंडस्पेस बिजनेस पार्क REIT का इश्यू शामिल है. जबकि साल 2019 में करीब 15 आईओ आए थे. वहीं, 2018 में कुल 24 आईपीओ आए थे.

कंपनियों को दिख रहा है सही अवसर

फॉर्चून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का कहना है कि अर्थव्यवस्था खुलने के बाद बाजार में तेजी आई है. लिक्विडिटी आई है. अगर कोई बड़ा निगेटिव ट्रिगर नहीं आता है तो अनलॉक के दौर में बाजार में यह मोमेंटम जारी रहने की उम्मीद है. ऐसे में कंपनियों का अर्थव्यवस्था पर भरोसा बढ़ रहा है और उन्हें बाजार में उतरने का अच्छा मौका दिख रहा है. कंपनियां आईपीओ के जरिए बाजार से पैसा जुटाकर अपने कारोबार को विस्तार देती हैं. इसके लिए उन्हें यह सही अवसर दिख रहा है. हालांकि निवेशकों की बात करें तो उन्हें सिर्फ मजबूत बिजनेस मॉउल वाली कंपनियों में ही पैसा लगाना चाहिए.

कैसे चुनें सही इश्यू

अगर आप किसी आईपीओ में निवेश करने जा रहे हैं तो सबसे पहले उसके अपर प्राइस बैंड पर फोकस करें. इससे इसके सही वैल्युएशन का आंकलन किया जा सकता है. EPS से किसी भी कंपनी के सही फाइनेंशियल स्थिति का पता लगाएं. प्राइस टु अर्निंग रेश्यो (P/E) भी चेक करें. इसकी तुलना उन कंपनियों से करें जो एक ही इंडस्ट्री और करीब एक ही साइज की हों. अगर तुलना में P/E रेश्यो दूसरी कंपनियों के P/E रेश्यो से कम मिले तो यह अनुमान लगाया जा सकता है कि लिस्टिंग के दिन आपको अच्छा रिटर्न मिल सकता है.

 

(Discliamer : शेयर बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है. इसमें किसी भी रूप में निवेश करने से पहले पूरी पड़ताल कर लें. अपने फाइनेंशियल एडवाइजर से सलाह कर लें.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कमाई का शानदार मौका: 350 करोड़ से 3000 करोड़ तक के खुलने वाले हैं IPO, कैसे चुनें सही इश्यू
Tags:IPO

Go to Top