मुख्य समाचार:

Gold Jewellery Hallmarking: 15 जनवरी 2021 से सोने के गहनों की हॉलमार्किंग अनिवार्य, सरकार का बड़ा एलान

हॉलमार्किंग अनिवार्य करने से ग्राहकों को शुद्ध सोना मिलेगा. अभी, देश में गोल्ड ज्वैलरी पर हॉलमार्किंग ऐच्छिक है.

Updated: Nov 29, 2019 4:41 PM
big decision by modi government Hallmarking to be made mandatory for gold jewellery from 15 January 2021 confirms Consumer Affairs Minister Ram Vilas Paswanहॉलमार्किंग अनिवार्य करने से ग्राहकों को शुद्ध सोना मिलेगा. अभी, देश में गोल्ड ज्वैलरी पर हॉलमार्किंग ऐच्छिक है. (Reuters)

Gold Jewellery Hallmarking: उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने शुक्रवार को एलान किया कि 15 जनवरी 2021 से गोल्ड ज्वैलरी (Gold Jewellery) और कलाकृतियों (artifacts) की हॉलमार्किंग अनिवार्य होगी. हॉलमार्किंग के लिए ज्वेलर्स को एक साल का वक्त दिया जाएगा. हॉलमार्किंग अनिवार्य करने से ग्राहकों को शुद्ध सोना मिलेगा. फिलहाल, देश में गोल्ड ज्वैलरी पर हॉलमार्किंग ऐच्छिक है.

पासवान ने कहा कि उपभोक्ता मामलों का विभाग 15 जनवरी 2020 तक गोल्ड हॉलमार्किंग को अनिवार्य बनाने संबंधी अधिसूचना जारी कर देगा. हालांकि इस फैसले को लागू करने के लिए एक साल का वक्त दिया गया है. जिससे कि ज्वैलर्स अपने मौजूदा स्टॉक को निकाल सके.

बता दें, हॉलमार्किंग सोने की शुद्धता का प्रमाण-पत्र है. भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) सोने के गहनों पर हॉलमार्किंग के लिए अधिकृत अथॉरिटी है. बीआईएस उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के अधीन कार्यरत इकाई है. बीआईएस ने सोने के गहनों की हॉलमार्किंग के लिए तीन ग्रेड 14 कैरट, 18 कैरट और 22 कैरट में स्टैंडर्ड निर्धारित किए हैं. मंत्रालय के अनुसार, ग्राहकों के हितों की रक्षा के लिए गोल्ड ज्वैलरी पर मानक तय करना आवश्यक है.

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Gold Jewellery Hallmarking: 15 जनवरी 2021 से सोने के गहनों की हॉलमार्किंग अनिवार्य, सरकार का बड़ा एलान

Go to Top