मुख्य समाचार:

FD और RD से ज्यादा कमाई! आज से भारत बॉन्‍ड ETF में निवेश का मौका; मेच्योरिटी, रिटर्न से रेटिंग की डिटेल

फाइनेंशियल मार्केट में कमाई के कई बेहतर विकल्प होते हैं, बशर्ते आपको निवेश की सही पहचान होनी चाहिए.

Updated: Jul 14, 2020 7:42 AM
Bharat Bond ETF open for subscription from today 14 july 2020, know features of Bharat Bond ETF, भारत बांड ईटीएफ, bond rating, bond maturity, yield, bharta bond ETF Vs FD Vs RD, should you invest in Bharat Bond ETF, एफडी, आरडी, safe investmentफाइनेंशियल मार्केट में कमाई के कई बेहतर विकल्प होते हैं, बशर्ते आपको निवेश की सही पहचान होनी चाहिए.

फाइनेंशियल मार्केट में कमाई के कई बेहतर विकल्प होते हैं, बशर्ते आपको निवेश की सही पहचान होनी चाहिए. बाजार में ऐसा ही एक विकल्प आज से यानी 14 जुलाई से निवेश के लिए खुल रहा है. असल में भारत बांड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) की दूसरी किस्त आज यानी 14 जुलाई को सब्सक्रिप्सन के लिए खुल रही है. इसके जरिये सरकार की 14,000 करोड़ रुपये तक जुटाने की योजना है. बांड की रेटिंग मजबूत है,​ जिसका मतलब है कि यह निवेशकों के लिए सुरक्षित विकल्प है. वहीं, यील्ड पर नजर डालें तो यहां फिक्स्ड डिपॉजिट या रिकरिंग डिपॉजिट जैसे दूसरे निवेश के सुरक्षित विकल्पों से बेहतर रिटर्न की गुंजाइश है.

कितना मिनिमम निवेश

यह देश का पहला कॉरपोरेट बांड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) है. इसमें न्यूनतम यूनिट 1,000 रुपये की है. इसके बाद 1000 के गुणक में निवेश किया जा सकता है. अधिकतम लिमिट 2 लाख रुपये होगी. इसके लिए सब्सक्रिप्सन 17 जुलाई को बंद होगा. इससे पहले दिसंबर 2019 में भारत बांड ईटीएफ की सीरिज पेश की गई थी. इसके जरिये 12,400 करोड़ रुपये जुटाए गए थे.

मेच्योरिटी

भारत बॉन्ड ईटीएफ की दोनों नई श्रृंखला अप्रैल 2025 और अप्रैल 2031 में मेच्‍योर होगी. इस लिहाज से इसकी तुलना फिक्स्ड मेच्योरिटी प्लानों और बैंकिंग व पीएसयू फंडों के साथ हो सकती है. डेट म्यूचुअल फंडों के मुकाबले बॉन्ड ईटीएफ की कॉस्ट कहीं कम है.

FD-RD से अच्छा रिटर्न!

भारत बॉन्ड ईटीएफ में कम से कम निवेशक 1,000 रुपये निवेश कर सकते हैं. इसके बाद 1,000 रुपये के मल्टीपल में निवेश किया जा सकता है. 5 साल वाले विकल्प में यील्ड (बॉन्ड का रिटर्न) करीब 5.69 फीसदी है. जबकि 11 साल वाले इंस्ट्रूमेंट में यील्ड 6.9 फीसदी है.

ये कंपनियां हैं शामिल

एक्सचेंज ट्रेडेड फंड सिर्फ सार्वजनिक क्षेत्र के AAA रेटिंग वाले बांड में निवेश करेगा. यह बॉन्ड ईटीएफ एक्सिम बैंक, हिंदुस्तान पेट्रोलियम, हुड्को, आईआरएफसी, नबार्ड, एनएचएआई, एनएचपीसी, एनटीपीसी, पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन, पावर ग्रिड, एनपीसीआईएल, सिडबी और रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन कॉर्प जैसी कंपनियों के बॉन्ड में निवेश करेगा. जिन निवेशकों के पास डीमैट खाता नहीं है, उनके लिए इसी तरह की मैच्योरिटी वाला भारत बॉन्ड फंड ऑफ फंड्स (एफओएफ) भी लॉन्च किया जाएगा.

कहां निवेश होगा पैसा

यह ईटीएफ निफ्टी भारत बॉन्ड इंडेक्स को ट्रैक करेगा. दोनों अवधि के लिए अलग-अलग निफ्टी भारत बॉन्ड इंडेक्स हैं. यह ईटीएफ 5 साल में मैच्योर होने वाले बॉन्ड का पैसा सरकारी कंपनियों के बॉन्ड में लगाएगा. इनमें पीएफसी, आरईसी, पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन, नेशनल हाउसिंग बैंक, आईओसी, नाबार्ड, एचपीसीएल, एनएचपीसी, एग्जिम बैंक, आईआरएफसी, एनटीपीसी और न्यूक्लियर पावर कॉर्पोरेशन में करेगा. जबकि, 11 साल में मैच्योर करने वाले बॉन्ड का पैसा हुडको, पीएफसी, आरईसी, पावर ग्रिड, एनएचएआई, आईआरएफसी और एनएचपीसी जैसी कंपनियों में लगाएगा.

टैक्स की दर

भारत बॉन्ड ईटीएफ पर डेट फंड की तरह टैक्स लगेगा. इंडेक्सेशन बेनेफिट के बाद टैक्स की दर 20 फीसदी होगी. इंडेक्सेशन से निवेशकों को मुद्रास्फीति के साथ खरीद कीमत को समायोजित (एडजस्ट) करने की सुविधा मिलती है. अगर आपके पास डीमैट अकाउंट नहीं है तो आप भारत बॉन्ड के फंड ऑफ फंड में निवेश कर सकते हैं.

क्या आपको लगाना चाहिए पैसा

AAA रेटिंग वाले बांड में निवेश करने की वजह से सेफ्टी के पहलू पर यह काफी मजबूत है. यह सिर्फ पब्लिक सेक्टर के बॉन्डों में निवेश करता है. इसमें कोई लॉनइन पीरियड नहीं होता है. यानी इसे कभी भी एक्सचेंज पर बेच सकते हैं. ईटीएफ के लिए एक्सपेंस रेश्यो भी अन्य म्यूचुअल फंडों की तुलना में बहुत कम महज होता है. यह 0.005 फीसदी ही है. स्टेबिलिटी और रिटर्न का अनुमान इसकी खासियत है. इसमें सेफ्टी के साथ हाई ट्रांसपैरेंसी होती है. लोअर टैक्स इसे और और आकर्षक बनाता है.

14 हजार करोड़ जुटाने का लक्ष्य

दो नई भारत बांड ईटीएफ श्रृंखला के जरिए इडलवाइस म्यूचुअल फंड ने 3,000 करोड़ रुपये जुटाने का प्रस्ताव किया है. इसमें बाजार मांग के आधार पर 11,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त बोली रखने का विकल्प है. दोनों नई श्रृंखला अप्रैल 2025 और अप्रैल 2031 में मेच्‍योर होंगी. भारत बांड ईटीएफ कार्यक्रम सरकार की पहल है और एडलवाइस एएमसी को उत्पाद का डिजाइन तैयार करने और उसके प्रबंधन की जिम्मेदारी है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. FD और RD से ज्यादा कमाई! आज से भारत बॉन्‍ड ETF में निवेश का मौका; मेच्योरिटी, रिटर्न से रेटिंग की डिटेल

Go to Top