सर्वाधिक पढ़ी गईं

बिना ट्रैवल भी ले सकते हैं LTA बेनेफिट्स; आपको इस नई योजना का फायदा लेना चाहिए या नहीं?

केंद्र सरकार की नई योजना के तहत बिना यात्रा किए भी एलटीए का दावा किया जा सकता है.

Updated: Nov 03, 2020 12:36 PM
BEFORE Claiming LTA benefits through GST paid goods and services you MUST know SOMETHINGSबिना यात्रा किए भी एलटीए क्लेम कुछ परिस्थितियों में किया जा सकता है.

कोरोना महामारी के कारण अधिकतर लोग अपने परिवार के साथ यात्रा करने की स्थिति में नहीं हैं और इस वजह से वे लीव ट्रैवल एलाउंस (LTA) की सुविधा का लाभ उठाने में सक्षम नहीं हैं. ऐसे लोगों को एलटीए टैक्स एग्जेंप्शन की सुविधा का लाभ उपलब्ध कराने और जीएसटी (गु्ड्स एंड सर्विसेज टैक्स) कलेक्शन को बढ़ाने के उद्देश्य से केंद्र सरकार ने पिछले महीने 12 अक्टूबर को एक नई योजना की घोषणा की. पहले यह सिर्फ केंद्रीय कर्मचारियों के लिए था लेकिन उसके बाद 29 अक्टूबर को यह अन्य सभी कर्मियों के लिए उपलब्ध करा दिया गया. इस योजना के तहत बिना यात्रा किए एलटीए का दावा किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें-1 दिन में मुकेश अंबानी की 48650 करोड़ घटी दौलत

LTA टैक्स एग्जेंप्शन के क्लेम के प्रावधान

कर नियमों के मुताबिक, देश के भीतर किसी भी स्थान पर खुद या परिवार के साथ कहीं यात्रा करने पर अगर एंप्लॉयर पैसे देता है तो इस पर एग्जेंप्शन की सुविधा मिलती है. कोई कर्मचारी एलटीए के तहत पहले से निर्धारित 4 कैलेंडर इयर के ब्लॉक में की गई दो बार यात्रा पर कर छूट का फायदा ले सकता है. वर्तमान ब्लॉक 2018-2021 है. इसका अर्थ यह है कि इस अवधि के दौरान दो बार तक की यात्रा पर एलटीए की सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है. अगर इस ब्लॉक में एलटीए क्लेम नहीं कर पाए हैं तो उसे कैरी फॉरवर्ड कर अगले ब्लॉक में क्लेम कर सकते हैं. इसके अलावा यह भी जरूरी नहीं है कि एलटीए बेनेफिट्स के लिए दो बार यात्रा की जाए, इसे एक ही बार की यात्रा में कैश कराया जा सकता है.

यह भी पढ़ें- RBI के लिक्विडिटी इंफ्यूजन ने बढ़ाया कॉरपोरेट बांड में निवेश

बिना यात्रा किए LTA क्लेम

  • कुछ खास परिस्थितियों में अब केंद्र सरकार की नई घोषणा के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारी छुट्टी के अनुदान और एलटीए के बदले में नगदी पा सकते हैं और अन्य कर्मचारी एलटीए के तहत क्लेम कर सकते हैं.
  • छुट्टी अनुदान (Entitlement) के बदले कैश के लिए आपको अनुदान की राशि के बराबर गुड्स या सर्विसेज की खरीद करनी होगी.
  • एलटीए एग्जेंप्शन के क्लेम के लिए सभी कर्मचारियों को एलटीए राशि के कम से कम तीन गुनी राशि के बराबर खर्च करना होगा.
  • यह खरीद ऐसे विक्रेताओं के यहां से करनी होगी जो जीएसटी रजिस्टर्ड होगा और उन वस्तुओं या सेवाओं पर कम से कम 12 फीसदी की जीएसटी लगती हो.
  • भुगतान डिजिटल मोड में किया गया हो. कैश या चेकबुक में भुगतान पर फायदा नहीं मिलेगा.
  • एंप्लॉयर के पास टैक्स पेड इनवॉयस की ओरिजिनल कॉपी देनी होगी.
  • अगर पूरी राशि नहीं खर्च हो पाती है तो उसी अनुपात में बेनेफिट भी मिलेगा.
  • अगर एलटीए आपके वेतन का एक हिस्सा है तो नियोक्ता यानी कंपनी इसका भुगतान क्लेम नहीं करने की स्थिति में टैक्सेबल आय मानकर करेगी. कंपनी कर्मचारी के टैक्स स्लैब के हिसाब से टैक्स काट कर एलटीए का भुगतान करेगी.

इन लोगों को मिलेगा फायदा

यह फायदा सिर्फ उन्हीं कर्मियों को मिल सकता है जो एलटीए के लिए इनटाइटल्ड हैं. आप पुराने नियमों के मुताबिक टैक्सेशन के लिए आईटीआर फाइलिंग चुनते हैं या नए नियमों के मुताबिक, इस पर भी निर्भर करेगा कि आपको एलटीए फायदा मिलेगा कि नहीं. यदि आपने टैक्सेशन की नई स्कीम का विकल्प चुना है तो आप इस रकम को क्लेम नहीं कर सकते हैं, जबतक कि कंपनी इसकी सहमति नहीं देती है.

इन लोगों को लेना चाहिए यह फायदा

जिन वस्तुओं या सेवाओं पर न्यूनतम 12 फीसदी जीएसटी रेट है, उन पर एलटीए राशि के तीन गुना के बराबर खर्च करने करने पर एलटीए एग्जेंप्शन वैल्यु की 36 फीसदी के बराबर खर्च होगा. आपका टैक्स रेट 5.20 फीसदी से 42.70 फीसदी तक की हो सकती है, इसलिए एलटीए एग्जेंप्शन का फायदा उठाने के लिए 36 फीसदी खर्च करना कितना सही है, यह पहले विचार कर लेना बेहतर होगा. दोनों प्रकार के कर्मियों (केंद्रीय और अन्य) के लिए किराए की सीमा एक शख्स के लिए 36 हजार है.

इसे एक उदाहरण से समझ सकते हैं. मान लीजिए कि आपके परिवार में चार सदस्य हैं तो आपको अधिकतम 1,44,000 का एलटीए एग्जेंप्ट मिलेगा. इसे क्लेम करने के लिए आपको कम से कम 4.32 लाख रुपये उन वस्तुओं या सेवाओं पर खर्च करने होंगे जिसे पर कम से कम 12 फीसदी जीएसटी लगती हो. इस प्रकार इस खरीदारी पर आपको 51,840 रुपये की जीएसटी चुकानी होगी. इसलिए एलटीए एग्जेंप्शन का फायदा उठाने के लिए जीएसटी राशि और अपने स्लैब के मुताबिक लगने वाले इनकम टैक्स की तुलना कर ही फैसला करें.

चार साल का वर्तमान ब्लॉक अगले साल 31 दिसंबर तक रहेगा लेकिन अगर आप इस ब्लॉक में क्लेम नहीं कर पाते हैं तो इसे आप अगले ब्लॉक में इसे कैरी फॉरवर्ड कर सकते हैं और अगले ब्लॉक में एलटीए क्लेम कर सकते हैं.

यह योजना उन कर्मियों के लिए फायदेमंद है जो 12 फीसदी से अधिक के जीएसटी स्लैब वाली वस्तुओं या सेवाओं की खरीद की योजना बना रहे हैं क्योंकि ऐसे लोगों के लिए इनकम टैक्स पर बचत एक तरह से डिस्काउंट का काम करेगा. इसलिए अगर खरीदारी आवश्यक नहीं है तो एलटीए क्लेम के लिए जल्दीबाजी करने की जरूरत नहीं है.

(लेख : बलवंत जैन, कर और निवेश विशेषज्ञ)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. बिना ट्रैवल भी ले सकते हैं LTA बेनेफिट्स; आपको इस नई योजना का फायदा लेना चाहिए या नहीं?

Go to Top