मुख्य समाचार:

बजाज फाइनेंस: 10 साल में निवेशकों का पैसा 65 गुना बढ़ा, 6417% रिटर्न; लेकिन आगे की राह नहीं आसान

नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी बजाज फाइनेंस निवेशकों के लिए मल्टीबैगर साबित हुआ है. पिछले 10 साल के दौरान इस कंपनी के शेयर ने निवेशकों का पैसा 65 गुना बढ़ा दिया है.

Published: July 9, 2020 7:48 AM
bajaj finance, multibagger stocks, bajaj finance make investors rich, crorepati stock, bajaj finance become multibagger for investors, COVID-19 challenges for bajaj finance, AUM, loan book, bajaj finance make investors crorepati, what brokerage houses says for bajaj financeनॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी बजाज फाइनेंस निवेशकों के लिए मल्टीबैगर साबित हुआ है. पिछले 10 साल के दौरान इस कंपनी के शेयर ने निवेशकों का पैसा 65 गुना बढ़ा दिया है.

नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी बजाज फाइनेंस निवेशकों के लिए मल्टीबैगर साबित हुआ है. पिछले 10 साल के दौरान इस कंपनी के शेयर ने निवेशकों का पैसा 65 गुना बढ़ा दिया है. शेयर में निवेशकों को इस दौरान करीब 6417 फीसदी रिटर्न मिला. यानी शेयर में किसी ने महज 1.5 लाख रुपये लगाकर इंतजार किया होगा तो वह अबतक करोड़पति बन गया होगा. लेकिन कोरोना संकट ने बजाज फाइनेंस की राह अगले कुछ महीनों तक चुनौतियों वाली बना दी है. कंपनी द्वारा ही दी गई जानकारी के अनुसार बजाज फाइनेंस का एयूएम ग्रोथ वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही में 10 साल में सबसे सुस्त रही है. वहीं लोन ग्रोथ भी कमजोर रही है. ऐसे में अभी कंपनी पर कुछ महीने दबाव रहेगा.

अप्रैल से जून तिमाही के दौरान बजाज फाइनेंस की लोनबुक सुस्त रही है. इस दौरान बजाज फाइनेंस की न्यू लोनबुक 17 लाख रही, जबकि पिछले साल की समान तिमाही में यह 73 लाख थी. यानी लोनबुक में करीब 76.7 फीसदी गिरावट सालाना आधार पर रही. इस दौरान कंपनी का एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 30 जून को करीब 1.38 लाख करोड़ रुपये रहर. जबकि 30 जून 2019 को यह 1.29 लाख करोड़ रुपये था. एक्सपर्ट का कहना है कि एयूएम में ग्रोथ 10 साल की सबसे सुस्त ग्रोथ है.

10 साल में शेयर की चाल

नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी बजाज फाइनेंस का अगर पिछले कुछ सालों का प्रदर्शन देखा जाए तो इसने निवेशकों को मालामाल कर दिया है. पिछले 10 साल में ही बजाज फाइनेंस का शेयर 49 रुपये से बढ़कर 3208 रुपये के भाव पर पहुंच गया. यानी सीधे सीधे इसने निवेशकों का पैसा 10 साल में ही 65 गुना बढ़ा दिया है. फीसदी की बात करें तो शेयर में 10 साल के दौरान करीब 6417 फीसदी की बढ़ोत्तरी रही है. पिछले दिनों कंपनी की एसेट क्वॉलिटी और मुनाफा बेहतर होने की वजह से इसमें निवेशकों का भरोसा बना रहा.

10 साल में 1.5 लाख का बना 1 करोड़

रिटर्न की बात करें तो पिछले 10 साल में अगर किसी ने बजाज फाइनेंस के शेयरों में 1.5 लाख रुपये निवेश कर इंतजार किया होगा तो आज उसकी रकम बढ़कर करीब 1 करोड़ रुपये हो गई होगी. मार्केट में बड़ी कंपनियों द्वारा रिटर्न देने के लिहाज से देखें तो यह लीडिंग कंपनियों में शामिल है. ब्रॉडर मार्केट में 10 साल में रिटर्न देने के मामले में बजाज फाइनेंस चौथे स्थान पर है.

मार्केट कैप में 11वें स्थान पर

बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों में मार्केट कैप के लिहाज से बजाज फाइनेंस 11वें स्थान पर है. इस मामले में यह स्टेट बैंक आफ इंडिया और मारुति सुजुकी से आगे है. बजाज फाइनेंस का मार्केट कैप 8 जुलाई तक 192773.13 करोड़ रुपये है. मारुति सुजुकी का मार्केट कैप 182562.08 करोड़ और एसबीआई का मार्केट कैप 171307.92 करोड़ है.

आगे चुनौती भरी राह!

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल ने बजाज फाइनेंस के शेयर में होल्ड रेटिंग देते हुए 2150 रुपये का लक्ष्य तय किया है. ब्रोकरेज के अनुसार जून तिमाही में बजाज फाइनेंस के एयूएम में ग्रोथ पिछले 10 साल के दौरान सबसे कम रही है. लोअर रीपेमेंट और स्लो ग्रोथ इस बात के संकेत हैं कि लोनबुक में शॉर्ट टर्म के दौरान और गिरावट आ सकती है. ऐसे में FY21 की दूसरी तिमाही में दबाव रहेगा. ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवान ने भी शेयर के लिए न्यूट्रल रेटिंग रखते हुए शेयर का टारगेट प्राइस 3000 रुपये रखा है. हालांकि ब्रोकरेज का कहना है मोरेटोरियम में कमी बजाज फाइनेंस के लिए पॉजिटिव है. ब्रोकरेज का यह भी मानना है कि लोन बुक में गिरावट की उम्मीद पहले से थी. लेकिन कंपनी की बेहतर एसेट क्वालिटी आने वाले दिनों में जब डिमांड सुधरेगी, कंपनी के लिए बिग पॉजिटिव होगी.

(Disclaimer: यह जानकारी बीएसई पर कंपनी द्वारा दी गई सूचना और शेयर के प्रदर्शन के आधार पर है. हम यहां शेयर में निवेश की सलाह नहीं दे रहे. बाजार के जोखिम को देखते हुए एक्सपर्ट से सलाह लेकर ही निवेश करें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. बजाज फाइनेंस: 10 साल में निवेशकों का पैसा 65 गुना बढ़ा, 6417% रिटर्न; लेकिन आगे की राह नहीं आसान

Go to Top