मुख्य समाचार:
  1. ऑनलाइन शॉपिंग में आपकी जेब तो नहीं काटी जा रही?

ऑनलाइन शॉपिंग में आपकी जेब तो नहीं काटी जा रही?

क्या आपने कभी सोचा है कि जो सामान आप ऑनलाइन ज्यादा पैसे देकर खरीदते हैं, वही सामान आपको अपने पास की दुकानों से सस्ते दामों पर मिल सकता है?

May 25, 2018 11:31 AM
online shopping, fake online market, are you spending more money when shopping online, shopping online is costly, online shopping sites in india, business news in hindiक्या आपने कभी सोचा है कि जो सामान आप ऑनलाइन ज्यादा पैसे देकर खरीदते हैं, वही सामान आपको अपने पास की दुकानों से सस्ते दामों पर मिल सकता है?

क्या आपने कभी सोचा है कि जो सामान आप ऑनलाइन ज्यादा पैसे देकर खरीदते हैं, वही सामान आपको अपने पास की दुकानों से सस्ते दामों पर मिल सकता है. ‘प्राइस मैप’ नामक एप के पास आपके दिमाग में अक्सर उमड़ने-घुमड़ने वाले इन सारे सवालों का जवाब है. आप प्राइस मैप के एप से किसी सामान की ऑनलाइन कीमत की तुलना अपने शहर की दुकानों में मिल रहे उसी आइटम की कीमत से कर सकते हैं. प्राइस मैप के संस्थापक सुरेश काबरा को तरह-तरह के आइट ऑनलाइन खरीदने का शौक था. एक दिन वह दिल्ली के पंचकुंइया मार्केट में घूम रहे थे. वहां वह यह देखकर हैरान रह गए कि जिस लैपटॉप की टेबल को उन्होंने ऑनलाइन जितनी कीमत में खरीदा है, उसी कंपनी की वही टेबल 30 फीसदी कम दाम पर बाजार में उपलब्ध है. इस घटना से उनके दिमाग में बिजनेस का एक नया आइडिया आया और यहीं से प्राइसमैप का जन्म हुआ.

दिल्ली-एनसीआर में यह एप काफी लोकप्रिय हो चुका है. इस स्टार्टअप की टीम में 16 सदस्य हैं, जिनमें प्राइस मैप के सह संस्थापक शिशिर दुबे भी शामिल हैं. दुबे ने बताया कि प्राइस मैप दरअसल एक मोबाइल एप है, जो उपभोक्ताओं को ऑनलाइन खरीदे जाने वाले उत्पाद की कीमत की तुलना उनके शहर के स्थानीय बाजारों में मिल रहे उसी उत्पाद की कीमत से करवा सकती है. इससे उन्हें काफी आसानी से पता चल सकता है कि क्या उन्हें वाकई ऑनलाइन शॉपिंग में सस्ता सामान मिल रहा है या दुकानों पर वह सामान ऑनलाइन से भी ज्यादा सस्ता है.

जून 2016 में लांच किए गए प्राइसमैप नामक एप पर विभिन्न वस्तुओं के कई विक्रेता रजिस्टर्ड हैं. इनमें मोबाइल, घरेलू सामान, होम ऑडियो विडियो, डिजिटल कैमरे व अन्य सामान के विक्रेता शामिल हैं.

प्राइस मैप के संस्थापक सुरेश काबरा ने कहा, “ज्यादातर लोग दुकान-दुकान भटकने की मेहनत से बचने के लिए ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद करते हैं, लेकिन उन्हें यह पता नहीं होता कि वह जो सामान ऑनलाइन खरीद रहे हैं, वह पास की दुकानों पर भी उपलब्ध है. मगर, प्राइस मैप से उन्हें घर बैठे इसकी जानकारी मिल सकती है. एप पर बाजारों के नाम फीड करने पर उन्हें एप बता देगा कि शहर के किस मार्केट में किस दुकान पर उनका मनपसंद उत्पाद सबसे सस्ते दामों पर मिल सकता है.”

उन्होंने बताया कि इस एप को इस्तेमाल करने का तरीका काफी आसान है. उन्होंने कहा, “आपको ऑनलाइन पसंद आए सामान का लिंक प्राइस मैप से शेयर करना है. जब प्राइस मैप पर रजिस्टर्ड शहर के दुकानदारों को यह लिंक मिलेगा तो वहां वह अपनी प्राइस कोट करेंगे और घर बैठे आपको पता चल जाएगा कि वह सामान ऑनलाइन से ज्यादा सस्ता शहर की किस दुकान पर मिल रहा है.”

Go to Top